Repost

Repost

ऊधम सिंह ने 21 साल बाद ऐसे लिया था जलियाँवाला बाग़ का बदला - BBC News हिंदी

जलियाँवाला बाग़ की घटना के 100 साल पूरे होने पर ऊधम सिंह को याद कर रहे हैं रेहान फ़ज़ल.

16-10-2021 14:31:00

ऊधम सिंह ने 21 साल बाद ऐसे लिया था जलियाँवाला बाग़ का बदला ऊधम सिंह की ज़िंदगी पर बनी फ़िल्म ओटीटी प्लैटफ़ॉर्म पर रिलीज़ हो गई है. Repost

जलियाँवाला बाग़ की घटना के 100 साल पूरे होने पर ऊधम सिंह को याद कर रहे हैं रेहान फ़ज़ल.

ऑडियो कैप्शन,21 साल बाद लंदन में पंजाब के लेफ़्टिनेंट गवर्नर रहे माइकल ओ ड्वाएर पर गोली चलाकर बदला लियापेंटनविले जेल मेंफांसी31 जुलाई, 1940 को जर्मन विमानों की बमबारी के बीच सुबह 9 बजे ऊधम सिंह को पेंटनविले जेल में फांसी पर चढ़ा दिया गया.जब उनके ताबूत पर मिट्टी का आख़िरी फावड़ा डाला गया तो अंग्रेज़ों ने सोचा कि उन्होंने इसके साथ ही उनकी कहानी भी हमेशा के लिए दफ़न कर दी है. लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

इमेज स्रोत,lg.delhi.gov.inइमेज कैप्शन,मौत के 34 साल बाद ऊधम सिंह का पार्थिव शरीर भारत लाया गया जहां पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री ज्ञानी ज़ैल सिंह ने उनकी चिता को आग लगाई, तस्वीर में ज़ैल सिंह के साथ जगमोहनभारत वापसी19 जुलाई, 1974 को उनके पार्थिव शरीर को उनकी क़ब्र से बाहर निकाला गया और एयर इंडिया के चार्टर्ड विमान पर भारत लाया गया.

अनीता आनंद कहती हैं, "जब ऊधम का पार्थिव शरीर लिए हुए विमान ने भारतीय ज़मीन को छुआ तो वहाँ मौजूद लोगों की आवाज़ विमान के इंजन की आवाज़ से कहीं अधिक थी. दिल्ली हवाई अड्डे पर उनका स्वागत ज्ञानी ज़ैल सिंह और शंकरदयाल शर्मा ने किया, जो बाद में भारत के राष्ट्रपति बने." headtopics.com

अनीता बताती हैं,"हवाई अड्डे पर भारत के विदेश मंत्री स्वर्ण सिंह भी मौजूद थे. उनके पार्थिव शरीर को कपूरथला हाउस ले जाया गया, जहाँ उनके स्वागत के लिए इंदिरा गाँधी मौजूद थीं. भारत के जिस-जिस हिस्से में उनकी शव यात्रा गईं, लोगों ने हज़ारों की तादाद में आ कर उसका स्वागत किया."

उस समय पंजाब के मुख्यमंत्री ज्ञानी ज़ैल सिंह ने उनकी चिता को आग लगाई. 2 अगस्त 1974 को उनकी अस्थियाँ इकट्ठा की गईं. उनको सात कलशों में रखा गया. उनमें से एक को हरिद्वार, दूसरे को किरतपुर साहब गुरुद्वारा और तीसरे कलश को रउज़ा शरीफ़ भेजा गया.आख़िरी कलश को 1919 में हुए नरसंहार के स्थल जलियाँवाला बाग़ ले जाया गया. 2018 में जलियाँवाला बाग़ के बाहर ऊधम सिंह की मूर्ति लगाई गई. उसमें उनको अपनी मुट्ठी में ख़ून से सनी मिट्टी को उठाए हुए दिखाया गया है.

ऑडियो कैप्शन,अमृतसर के जलियाँवाला बाग में ब्रिगेडियर जनरल डायर के क़त्लेआम की कहानी. और पढो: BBC News Hindi »

छात्रों से मिले 51 हजार बिजनेस आइडिया, देखें Business Blasters Programme पर क्या बोले Sisodia

दिल्ली सरकार की नई योजना स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में उद्यमी एवं व्यावसायिक क्षमता को विकसित करने वाले बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आजतक से खास बातचीत की है. इस दौरान उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और कई तरह के अनूठे आइडिया दे रहे हैं. इसकी सफलता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भविष्य में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को भी इस प्रोग्राम से जोड़ने की योजना बनाई है. साथ में दिल्ली सरकार के कॉलेजों में भी प्रोग्राम को ले जाने की तैयारी है. देखिए ये वीडियो.

सरदार थे Stop_Communal_Attack SaveBangladeshiHindus BangladeshiHinduWantSafety We_Demand_Safety We_Demand_Justice SaveHindus Save_Hindu_Temples SaveOurCommunity SaveHumanity 🙏🏻🙏🏻 I liked it 🚩भारत माता की जय🚩 Naman Naman Naman

भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कबड्डी खेलते समय वीडियो शूट करने वाले को बताया 'रावण'भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ( BJP MP Pragya Singh Thakur) ने अपने कबड्डी खेलते समय वीडियो शूट करने वाले व्‍यक्ति को रावण (Ravana) कहा है प्रज्ञा का कहना है कि जो संतों से टकराता है उसका बुढ़ापा और अगला जन्म दोनों ही बर्बाद हो जाता है। और ये रावण की बहन है सूर्पनखा

अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने की इंदिरा गांधी की तारीफ। Rajnath Singh on Indira GandhiRajnathSingh IndiraGandhi SCO सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका पर Shanghai Cooperation Organisation की ओर से एक Webinar आयोजित किया गया जिसमें कि भारत ने सशस्त्र बल में महिलाओं को शामिल करने का समर्थन किया है ।

राजनाथ सिंह से मिलकर भावुक हुए भुलई भाई, बोले-भगवान कृष्ण सुदामा से मिलने आए हैंभाजपा के सबसे वरिष्ठ सदस्य भुलई भाई के नाम से लोकप्रिय 106 वर्षीय नारायण से गुरुवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान भुलई भाई भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है भगवान कृष्ण सुदामा से मिलने आए हैं। rajnathsingh फिर भाजपा कितने वर्ष की है?

मनमोहन सिंह की हालत स्थिर, राहुल गांधी ने की मुलाकातनई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह एम्स में भर्ती हैं और उनकी हालत स्थिर है। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एम्स जाकर डॉ. सिंह का हालचाल जाना और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की।

Sanjay Gandhi: जब संजय गांधी की चप्पल उठाने के लिए दौड़ पड़े थे ज्ञानी जैल सिंहकुलदीप नैयर, वरिष्ठ पत्रकारसंजय गांधी ने अपने राजनीतिक प्रभाव और अपनी ख्याति, दोनों को काफी हद तक बढ़ा लिया था। हर मुख्यमंत्री को यही लगता था कि अगर संजय से मुलाकात नहीं हुई तो दिल्ली का दौरा अधूरा रहा। उनमें इस बात की होड़ लगी थी कि वे उन्हें अपने राज्य में आने का न्योता दें और सरकार प्रायोजित रैली से दिखाएं कि वह कितने लोकप्रिय हैं। श्रीमती गांधी भी सचमुच मानती थीं कि वे लोकप्रिय हैं। एक बार चरणजीत यादव ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि संजय के ज्यादातर स्वागत प्रायोजित होते हैं। यह बात उन्हें अच्छी नहीं लगी और उन्होंने कहा, ‘कुछ लोग संजय से जलते हैं, क्योंकि वह लोकप्रिय है।’ लेकिन श्रीमती गांधी को कभी-कभी इस बात से शर्म महसूस होती थी मुख्यमंत्री संजय को एयरपोर्ट पर लेने आते हैं। सिद्धार्थ रे ने यह बात उनके सामने रखी थी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने की इंदिरा गांधी की जमकर तारीफ, रानी लक्ष्मीबाई से तुलनारक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) संगोष्ठी में सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका पर संबोधित करते हुए रानी लक्ष्मीबाई और पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल का भी जिक्र किया।