उत्तर प्रदेश: पिछले चुनाव में 'क़ब्रिस्तान', तो क्या इस बार 'अब्बाजान' और 'चचाजान' ही मुद्दा बनेंगे? - BBC News हिंदी

उत्तर प्रदेश: पिछले चुनाव में 'क़ब्रिस्तान', तो क्या इस बार 'अब्बाजान' और 'चचाजान' ही मुद्दा बनेंगे?

24-09-2021 07:50:00

उत्तर प्रदेश: पिछले चुनाव में 'क़ब्रिस्तान', तो क्या इस बार 'अब्बाजान' और 'चचाजान' ही मुद्दा बनेंगे?

जानकारों का मानना है कि कई चुनावों बाद इस बार बहुकोणीय संघर्ष दिख रहा है. साथ ही जाति-धर्म-क्षेत्र जैसे कई 'फॉल्ट लाईनों' के चलते वास्तविक मुद्दे इस चुनाव से भी गायब हैं.

हैं समाज मेंविजेंद्र भट्ट कहते हैं, "उत्तर प्रदेश के समाज में धर्म, जाति और क्षेत्र के कई 'फॉल्ट लाईन' मौजूद हैं. राजनीतिक दल इन्हीं 'फॉल्ट लाईन' का फ़ायदा उठाते हुए चुनावों का प्रबंधन करते हैं और जीत भी हासिल करते रहे हैं.''

बांग्लादेश से सटे त्रिपुरा में क्यों हो रहे हैं मुसलमानों पर हमले? - BBC News हिंदी चीन अगले साल जनवरी से भारत की टेंशन और बढ़ाने जा रहा - BBC News हिंदी राहुल गांधी को PK की खरी-खरी: 'भ्रम में मत रहिए कि मोदी सत्ता से बाहर हो जाएंगे, भाजपा दशकों तक रहेगी मजबूत'

वो कहते हैं कि इसके चलते चुनावों के आते-आते सारे गंभीर और जन-सरोकार के मुद्दे गौण हो जाते हैं और चुनाव क्षेत्रवाद, संप्रदायवाद और जाति की बुनियाद पर ही लड़े जाते हैं.आख़िर इस चुनाव में कोई भी क्षेत्रीय या राष्ट्रीय दल, चुनाव पूर्व गठबंधन क्यों नहीं बनाना चाहते?

इस बारे में, समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अब्दुल हफीज़ घांदी ने बीबीसी को बताया कि उनकी पार्टी ने बहुत सोच-विचार किया तो पाया कि उन्होंने जब भी कोई गठबंधन किया तो उससे पार्टी को नुक़सान ही हुआ.उनका कहना था, "2017 में कांग्रेस के साथ गठबंधन हुआ था और कांग्रेस ने 105 सीटों पर चुनाव भी लड़ा. लेकिन वो सिर्फ़ 7 सीटें ही जीत पाए. उसी तरह 2019 के लोकसभा चुनाव में हमारा गठबंधन बसपा के साथ हुआ था. नतीज़ों के आकलन पर पता चला कि बसपा का जो वोट शेयर है, वो खिसक कर भाजपा की ओर चला गया." headtopics.com

घांदी कहते हैं कि कांग्रेस के साथ गठबंधन का नुक़सान तो राष्ट्रीय जनता दल को बिहार विधानसभा चुनाव में भी हुआ. उनके अनुसार, "बिहार में लगभग 70 ऐसी सीटें थीं, जिन पर कांग्रेस के उम्मीदवार होने के चलते वो सीटें भाजपा को चली गयीं."समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बारे में विश्लेषक बताते हैं कि ये दोनों क्षेत्रीय दल जातियों की सोशल इंजीनियरिंग के सहारे ही उत्तर प्रदेश की सत्ता तक अपना रास्ता बनाने में कामयाबी रहे.

वरिष्ठ पत्रकार विजेंद्र भट्ट कहते हैं कि इस बार के विधानसभा चुनाव में भी पार्टियों की कुछ ऐसी ही भूमिका नज़र आ रही है, जो जातियों को रिझाने में जुटी हुई हैं.वो कहते हैं. "बसपा जहां दलितों और ब्राह्मणों को मिलाकर 36 प्रतिशत मतों के ध्रुवीकरण में लगी है. वहीं समाजवादी पार्टी को लगता है कि अगर उसे यादवों और मुसलमानों के 40 प्रतिशत मत मिल जाएं, तो सत्ता की चाभी उसके पास ही होगी. उधर, भाजपा दलितों, ओबीसी और सवर्णों का ज़्यादातर मत हासिल करने की हर संभव कोशिश कर रही है."

ये भी पढ़ें-@asadowaisiओवैसी के उतरने से विपक्षी खेमा असहजउत्तर प्रदेश के चुनावों के बारे में माना जाता है कि यहाँ के 19 प्रतिशत मुसलमान भी निर्णायक भूमिका निभाते हैं. इसलिए ओवैसी के चुनावी मैदान में उतरने से कांग्रेस, बसपा और समाजवादी पार्टी के खेमों में काफ़ी असहजता देखी जा रही है. इन दलों का कहना है कि ओवैसी की मौज़ूदगी इस चुनाव में भाजपा को फायदा पहुंचाएगी.

उत्तर प्रदश में सवर्णों की आबादी 18 से 20 फ़ीसदी है, तो दलितों की 19 से 20 फ़ीसदी. वहीं राज्य में ओबीसी का हिस्सा 40 प्रतिशत का है, जबकि मुसलमान 19 प्रतिशत.एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने बीबीसी को बताया कि उनकी पार्टी को उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने का उतना ही अधिकार है, जितना कि शिवसेना का. headtopics.com

Petrol, Diesel Price Today : दिल्ली में 108 के पार पेट्रोल, आज भी 35 पैसे महंगा हुआ तेल, देखें ताजा रेट वानखेड़े की पत्नी की उद्धव को चिट्ठी: 'एक महिला की गरिमा से सरेआम खिलवाड़ हो रहा, काश! आज बाला साहब ठाकरे होते...' तेजस्वी करेंगे सबसे बड़ा 'बेरोजगार रैला', लालू यादव ने 26 साल पहले की थी पहली 'गरीब रैली'; दिए थे ऐसे-ऐसे नारे

वो कहते हैं, "शिवसेना ने घोषणा की है कि वो राज्य में 100 सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़ा करेगी. इस ऐलान पर किसी को कोई आपत्ति नहीं है. कोई नहीं कह रहा है कि हिन्दुओं के वोट बंट जाएंगे. लेकिन जब एआईएमआईएम चुनाव लड़ने का फैसला करती है, तो वो कह रहे हैं कि असदुद्दीन ओवैसी भाजपा के एजेंट हैं और मुसलामानों को बांट रहे हैं. ये हास्यास्पद नहीं तो क्या है.''

शौकत अली कहते हैं, ''ये बात वो बोल रहे हैं, जिन्होंने मुसलमानों को भाजपा का खौफ़ दिखाकर उन्हें वोट बैंक की तरह इस्तेमाल किया. मुस्लिम बहुल इलाकों से यही डर दिखाकर अपने उम्मीदवार जितवाए. इसमें कांग्रेस, बसपा और समाजवादी पार्टी, सब शामिल हैं."

उनका कहना है कि उत्तर प्रदेश में महंगाई, बेरोज़गारी और कोरोना महामारी के कुप्रबंधन के चलते सत्ता विरोधी लहर है. वे कहते हैं कि अफ़सोस है कि चुनाव में इन मुद्दों का न उठाकर हिंदू-मुसलमान का ही मसला उठाया जा रहा है. और पढो: BBC News Hindi »

PM को भगवान माननेवालों में अब मंत्री उपेंद्र तिवारी भी: हरदोई में बोले- नरेंद्र मोदी कोई आम आदमी नहीं, वह भगवान का अवतार

यूपी सरकार में मंत्री उपेंद्र तिवारी ने एक बार फिर अपना बड़बोलापन दिखाया है। हरदोई में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वशक्तिमान बताया। कहा कि नरेंद्र भाई मोदी कोई आम आदमी नहीं, वो भगवान का अवतार हैं। अपने बयान से उन्होंने वहां मौजूद लोगों की तालियां जरूर लूट ली, लेकिन अब विवादों में घिर गए हैं। उन्होंने अपना यह बयान मंगलवार को हरदोई में एक कार्यक्रम के दौरान दिया। | Prime Minister praised in Hardoi, said - Narendra Modi is not a common man, he is an incarnation of God: यूपी सरकार में मंत्री उपेंद्र तिवारी ने एक बार फिर अपना बड़बोलापन दिखाया है। हरदोई में उन्होंने प्रधानमंत्री का इस कदर गुणगान किया कि उनके बयानों को चौतरफा आलोचना मिलने लगी है। दरअसल, उन्होंने नरेंद्र मोदी को भगवान का अवतार बताया दिया।

Ab journalists humans dead bodies pr bhi jump kr rahe ha . Y journalists ab vultures bn chuke ha विकास के नाम पर इनकी जीत बताएं।। शपथ लें जाति भाषा धर्म का सहारा नहीं लेंगे, तब जीत जाये तो उसे जीत कहेंगे।। Iss bar mudda h mahengai berojgari sikhsa aur kissano ka sammnan इसबार मुद्दे होंगे महंगाई, बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य फ़ालतू की बातें करने वालों की होगी जमानतें जब्त

Jaha jaise log, vaha vaise mudde. ये केवल मीडिया के मुद्दे हैं । युवाओं का मुद्दा शिक्षा और रोजगार है , किसानों का मुद्दा फसलों का दाम है , व्यापारियों का मुद्दा राजकोषीय और आर्थिक सहूलियत है । जब जनता के मुद्दो पर बात नही तो वोटिंग किस बात कि अब्बा जन चचा जान ही वोटिंग करेगे देश की जनता का क्या काम Godi media ko yahi baate karni hai

कनाडा चुनाव में जीते 17 भारतवंशी, तीसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे ट्रूडो, पीएम मोदी ने दी बधाईजस्टिन ट्रूडो तीसरी बार कनाडा के प्रधानमंत्री बनेंगे। उनकी पार्टी ने 338 में से 156 सीटों पर जीत हासिल की है। इस बार कनाडा में 17 भारतवंशियों ने जीत हासिल की है।

Sujanpur Assembly seat: 2007 से लगातार बीजेपी का रहा है कब्जा, क्या इस बार होगी वापसी?सुजानपुर विधानसभा सीट: भारत के सबसे मशहूर बांधों में से एक रणजीत सागर डैम, हलका सुजानपुर में ही बना हुआ है. सुजानपुर में प्रसिद्ध मुक्तेश्वर शिवधाम मंदिर भी है.

गपशप: जूही चावला ने कर दिया शाहरुख खान की इस गंदी आदत का खुलासा, बोलीं- एक बार वो रात के ढाई बजे...जूही ने बताया कि एक बार उन्होंने अपने घर की पार्टी में शाहरुख को बुलाया था जहां उन्हें 11 बजे आना था लेकिन वो रात के ढाई

पंजाब के CM चन्नी का भांगड़ा: PTU में स्टेज पर युवाओं के साथ किया धमाल, भीम राव अंबेडकर म्यूजियम की रखी नींव; इस बार सिद्धू नहीं रहे साथपंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी (PTU) कपूरथला में मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक नया रूप देखने को मिला। यहां उनके स्वागत में रंगारंग कार्यक्रम किया गया। जैसे ही भांगड़ा करने के लिए युवा स्टेज पर आए तो चन्नी खुद को नहीं रोक पाए और स्टेज पर स्टूडेंट्स के साथ पंजाब का लोक नृत्य भांगड़ा करते हुए लुड्डी और धमाल करते नजर आए। इसके बाद चरणजीत सिंह ने सभी युवाओं को गले लगाया। उन्होंने स्टूडेंट्स के साथ फोटो ... | पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी (पीटीयू) कपूरथला में प्रदेश के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का एक नया रूप देखने को मिला। यहां उनके स्वागत में रंगारंग कार्यक्रम किया गया। जैसे ही भांगड़ा डालने के लिए युवा स्टेज पर आए तो चरणजीत सिंह चन्नी खुद को नहीं रोक पाए।

Bigg Boss 15: इस बार वीडियो गेम की तरह खेला जाएगा ‘बिग बॉस’, सलमान ने शो को लेकर किए दिलचस्प खुलासेBigg Boss 15: इस बार वीडियो गेम की तरह खेला जाएगा ‘बिग बॉस’, सलमान ने शो को लेकर किए दिलचस्प खुलासे BiggBoss15 BeingSalmanKhan ShamitaShetty NishantBhatt UmarRiaz DonalBisht BiggBossLaunchConference

'सुपर डांसर चैप्टर 4' में इस वीकेंड नजर आएंगी पूनम ढिल्लो, पद्मिनी कोल्हापुरे और हेमा मालिनीसोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के 'सुपर डांसर चैप्टर 4' के इस वीकेंड के एपिसोड्स फैंस और दर्शकों के लिए समान रूप से मजेदार होंगे। जहां एक एपिसोड के लिए बॉलीवुड की सबसे पसंदीदा और हर दौर की फेवरेट एक्टर पूनम ढिल्लों और पद्मिनी कोल्हापुरे इस डांस रियलिटी शो की शोभा बढ़ाएंगी।