Uttarakhand, Education, Coronavirus, Coronavirus Cases İn Uttarkhand, Government, Online Education, Offline Education, Higher Education

Uttarakhand, Education

उत्तराखंडः ऑफलाइन-ऑनलाइन दोनों मोड में होगी पढ़ाई, इन विषयों के छात्र आ सकेंगे कॉलेज

साइंस-प्रैक्टिकल सब्जेक्ट के छात्र कॉलेज आ सकेंगे, बाकी विषयों के छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई #Uttarakhand #Education #coronavirus (@DilipDsr)

11-04-2021 21:18:00

साइंस-प्रैक्टिकल सब्जेक्ट के छात्र कॉलेज आ सकेंगे, बाकी विषयों के छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई Uttarakhand Education coronavirus (DilipDsr)

उत्तराखंड में कोरोना के दौर में कॉलेज स्टूडेंट्स की पढ़ाई पर असर न पड़े, इसके लिए सरकार ने ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड में पढ़ाई कराने का फैसला लिया है. इसके बाद छात्र चाहें तो घर पर रहकर ऑनलाइन पढ़ाई भी कर सकते हैं.

स्टोरी हाइलाइट्ससाइंस-प्रैक्टिकल सब्जेक्ट के छात्र कॉलेज आ सकेंगेबाकी विषयों के छात्रों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई94 महाविद्यालय 4जी कनेक्टिविटी से जुड़ेः धन सिंहकोरोना संक्रमण का असर बच्चों की पढ़ाई पर भी हुआ है. पिछले एक साल से ऑनलाइन क्लास ही चल रही है. लेकिन अब उत्तराखंड सरकार ने कॉलेजों में ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही मोड में पढ़ाई कराने का फैसला किया है. उत्तराखंड सरकार ने इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिए हैं, ताकि हायर एजुकेशन की पढ़ाई कर रहे छात्रों पर कोई असर न पड़े.

'अच्छा इलाज नहीं मिला...जल्द जन्म लूंगा' फेसबुक पर लिखने के कुछ घंटे बाद ही चल बसे एक्टर राहुल वोहरा वैक्सीन नीति को लेकर बरसे सिसोदिया, कहा- इमेज मैनेजमेंट के लिए केंद्र ने अपनों को मरने के लिए छोड़ दिया सिंगल डोज वैक्सीन से बढ़ेगी वैक्सीनेशन की रफ्तार? देखें रिपोर्ट

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने बताया कि जिस तरह से राज्य में कोरोना का प्रभाव बढ़ता जा रहा है, उसको देखते हुए हायर एजुकेशन के छात्र-छात्राओं की पढ़ाई ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड में कराने का फैसला लिया है, ताकि राज्य के सभी निजी और सरकारी विश्वविद्यालयों, उच्च शिक्षण संस्थानों में छात्र-छात्राओं की पढ़ाई जारी रखी जा सके.

धन सिंह रावत ने बताया कि साइंस और प्रैक्टिकल विषय के छात्र-छात्राएं अपने संस्थानों में आकर पढ़ाई कर सकेंगे. जबकि बाकी दूसरे विषयों के छात्र-छात्राएं घर बैठे भी ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे.विश्वविद्यालय में मॉनिटरिंग करेंगे कुलपतिउन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय स्तर पर कुलपति दोनों मोड में पढ़ाई की मॉनिटरिंग करेंगे. राजकीय महाविद्यालय स्तर पर निदेशक मॉनिटरिंग कर सरकार को हर महीने अपनी रिपोर्ट भेजेंगे. इसी प्रकार राजकीय महाविद्यालयों के प्रिंसिपल अपने संस्थान की रिपोर्ट उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक को सौपेंगे. headtopics.com

उच्च शिक्षा मंत्री ने बताया कि सभी 106 महाविद्यालयों में से 94 महाविद्यालयों को 4जी कनेक्टिविटी से जोड़ दिया है. बाकी महाविद्यालयों को भी 30 अप्रैल तक 4जी कनेक्टिविटी से जोड़ दिया जाएगा. उच्च शिक्षा मंत्री ने बताया कि सभी राजकीय विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में पुस्तकालय, बिजली, पेयजल, स्मार्ट क्लास, ई-बोर्ड, ई-लाइब्रेरी, कम्प्यूटर, आधुनिक प्रयोगशाला उपकरण, फर्नीचर आदि मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करा दी गईं हैं.

बाकी राज्यों की तरह ही उत्तराखंड में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. रविवार को यहां बीते 24 घंटे में कोरोना के 1,333 नए मामले दर्ज किए गए. 8 लोगों की मौत भी हुई. सबसे ज्यादा 582 मामले राजधानी देहरादून में सामने आए. उत्तराखंड में अब तक कोरोना के 1,08,812 मामले सामने आ चुके हैं. 1,760 लोगों की जान जा चुकी है. फिलहाल राज्य में 7,323 मरीजों का इलाज चल रहा है.

Live TV और पढो: आज तक »

Coronavirus से जूझ रहा देश, कैसे रोकी जा सकती है तीसरी लहर? देखें स्पेशल रिपोर्ट

वैज्ञानिकों को पूर्वानुमान नहीं था, सरकारों की तैयारी नहीं थी, कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर आई, और सच्चाई सबके सामने आ गई. पूरा देश कोरोना संकट से जूझ रहा है, आधी आबादी कोरोना से तड़प रही है, सुविधाओं की किल्लत हर जगह सामने आ रही है. आंकड़ों के बीच, सरकारी तैयारियों की सूरत क्या है, इस पर पूरे देश की नजर है. देखें स्पेशल रिपोर्ट.

DilipDsr leave my hair aline. DilipDsr 😭😭😭 jo student apne state se bahar hai wo kaise aayenge 🙏🏼🙏🏼 DilipDsr ArvindKejriwal आदरणीय सीएम सर, आज ऑफिस में अकेले बैठ था और कुछ लोग आए और 2000/- का चालान काटा गए। या सही है क्या। ? बोला रहे थे target है कौन सा traget दिया है। अपने msisodia