उत्तर कोरियाः किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को चेताया, वो नहीं समझ रहा बात - BBC Hindi

किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को चेताया, वो नहीं समझ रहा बात आज की प्रमुख ख़बरें:

22-06-2021 19:30:00

किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को चेताया, वो नहीं समझ रहा बात आज की प्रमुख ख़बरें:

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग ने अमेरिका को ये चेतावनी दी है कि उसके नेता के बयानों का गलत मतलब न निकाला जाए.

13:20उत्तराखंड: सरकारी मेडिकल कॉलेजों के जूनियर डॉक्टरों की हड़तालध्रुव मिश्रा, देहरादून से, बीबीसी हिंदी के लिएDhruv Mishra/BBCCopyright: Dhruv Mishra/BBCउत्तराखंड के सरकारी मेडिकल कालेजों में काम कर रहे मेडिकल इंटर्न्स ने कम स्टाइपेंड (मानदेय) के ख़िलाफ़ सोमवार से हड़ताल शुरू कर दी है.

राजस्थान : श्रीगंगानगर में किसानों ने BJP नेता को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, फाड़े कपड़े चीनी राष्ट्रगान बजने पर 'हाय-हाय' के नारे, हो रही है जाँच - BBC Hindi डेल्टा वैरिएंट पर नई चेतावनी: वायरस का डेल्टा वैरिएंट चेचक की तरह तेजी से फैल सकता है, वैक्सीन लगवा चुके लोग भी संक्रमण फैला सकते हैं

कोविड वार्ड्स में डयूटी पर लगे इंटर्न्स हालांकि फ़िलहाल बाज़ुओं पर काली पट्टी बांधकर और कैंडेल मार्च निकालकर ही अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन उनका कहना है कि अगर उनकी मांगे जल्दी न मानी गईं तो वो भी पूरी तरह से हड़ताल में शामिल हो जाएंगे.एमबीबीएस की पढ़ाई करके मेडिकल कालेजों में इंटर्न्स का कहना है कि उन्हें 12 से 18 घंटे तक मरीजों की देखभाल करनी पड़ती है लेकिन उन्हें दिया जानेवाल मानदेय एक मज़दूर की दिहाड़ी से भी कम है. उत्तराखंड के सरकारी अस्पतालों में इंटर्न्स को 7500 रुपये प्रति माह का स्टाइपंड मिलता है.

इनका तर्क है कि इस हिसाब से ये 250 रुपये प्रति दिन आता है जो एक 'अनस्किल्ड' मज़दूर को मिलने वाले पैसे से भी कम है. डेढ़ महीनों से ये रक़म भी उन्हें नहीं दी गई है. राज्य स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इंटर्न्स के मामले को ऊपर शासन को भेजा गया है. headtopics.com

Dhruv Mishra/BBCCopyright: Dhruv Mishra/BBCतीरथ सिंह रावत सरकार में स्वास्थ्य विभाग की ज़िम्मेदारी ख़ुद मुख्यमंत्री के पास है. देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में ही इंटर्नशिप कर रहीं पूजा मीणा कहती हैं कि हॉस्टल से अस्पताल जाने में ही उन्हें सैकड़ों ख़र्च करने पड़ रहे हैं.

कोरोना के कारण सार्वजनिक ट्रांसपोर्ट सर्विसेज उपलब्ध नहीं हैं तो ऑटो या टैक्सी लेकर ही अस्पताल पहुँचा जा सकता है. फिर मेस में खाने के पैसे और दूसरे ख़र्च. पूजा कहती हैं पढ़ाई के समय घर से पैसे मंगाने में बुरा नहीं लगता था लेकिन अब तो नौकरी लग गई है, नाम के आगे डॉक्टर शब्द लग गया है.

इंटर्न्स का आरोप है कि ड्यूटी पर इस्तेमाल करने के लिए मास्क और सेनेटाइजर तक अपने पैसे से खरीदने पड़ते हैं. हल्द्वानी से एमबीबीएस कर चुके गोरखपुर के अजीत तिवारी कहते हैं जो मास्क मिलते हैं वो कहने को तो N95 मास्क हैं लेकिन इतने डिफेक्टिव हैं कि पहने नहीं जा सकते.

Dhruv Mishra/BBCCopyright: Dhruv Mishra/BBCवो कहते हैं कि चूंकि अपनी सुरक्षा अपने हाथ है तो हम मास्क, पीपीई किट और हाथ के दस्ताने भी अपने पैसों से ख़रीद रहे हैं. इंटर्न्स का आरोप है कि लंबी ड्यूटी की वजह से कई बार परिवार वालों तक से हफ्ते-हफ्ते बात नहीं हो पाती. कोविड वार्ड में ड्यूटी के लेकर कई डाक्टर्स ख़ुद भी संक्रमित हो गए थे. headtopics.com

मोहनजोदड़ो की समरीन सोलंगी, जो मिट्टी को भी 'सोना' बना देती हैं - BBC News हिंदी तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन काबुल एयरपोर्ट क्यों चाहते हैं? - BBC News हिंदी हरियाणा में गौ-रक्षा के लिए STF: हर जिले में बनेगी 11 सदस्यों की टीम, पुलिस और गौ-सेवक होंगे शामिल; नोटिफिकेशन जारी

उत्तराखंड इंटर्न्स डॉक्टर्स ग्रुप के मीडिया कॉर्डिनेटर अक्षत थापा कहते हैं कि पिछली बार मानदेय में साल 2011 में बढ़ोतरी हुई थी जब इसे 2500 रुपये प्रति माह से 7500 रुपये किया गया था. अक्षत बताते हैं कि उत्तर प्रदेश में भी पहले स्टाइपेंड 7500 रुपये ही था लेकिन अब उसे बढ़ाकर 12500 रुपये कर दिया गया है.

दूसरे राज्यों में तो 17 से 18 हजार प्रति माह तक है. इस संदर्भ में डॉक्टरों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी दिया है. लेकिन दूसरी ओर से कोई जवाब अभी तक नहीं मिला है. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के डॉक्टर डीडी चौधरी ने बीबीसी से कहा राज्य मेडिकल एजुकेशन के निदेशक ने पिछले साल अगस्त में उत्तराखंड के चिकित्सा स्वास्थ्य सचिव को एक पत्र लिखा था जिसमें स्टाइपेंड बढ़ाये जाने की सिफारिश की गई थी.

उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बीबीसी से कहा कि उन्हें डॉक्टरों की हड़ताल और मांगों की बात का ज्ञान अख़बार से मिला है. राज्य स्वास्थ्य निदेशक तृप्ति बहुगुणा का कहना है कि मामले को ऊपर शासन को भेजा गया है. और पढो: BBC News Hindi »

उत्तराखंड बॉर्डर से दुल्हन के बिना लौटी बारात: पीलीभीत का दूल्हा तीन बार निकला कोरोना पॉजीटिव, अब 14 दिन बाद होगा निकाह; रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही मिलेगी एंट्री

पीलीभीत से उत्तराखंड जा रही एक बारात को बगैर दुल्हन के ही बॉर्डर से लौटना पड़ा। बॉर्डर पर जब सभी बारातियों की जांच की गई तो उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई लेकिन, दूल्हा कोरोना पॉजीटिव निकल आया। चूंकि, शादी का मामला था इसलिए दूल्हे की एक नहीं, तीन बार एंटीजन जांच की गई। लेकिन, हर बार रिपोर्ट पॉजीटिव आई। दूल्हे के पॉजीटिव होने से बारातियों में हड़कंप मच गया। पुलिस ने दूल्हे की गाड़ी को वापस लौटा दिया। | The procession returned from Uttarakhand border without a bride;उत्तराखंड बॉर्डर से दुल्हन के बिना लौटी बारात

मन्दिर की जमीन की रजिस्ट्री देख ली हो तो क्यों न अब देश भर में मजारो मस्जिदों,मदरसों और चर्चों की जमीन की रजिस्ट्री भी देख ली जाए!!🤔 बिल्ली के ख्वाब में छिछड़े ही छिछड़े 😂😂😂😂😂 गरीब लाचारो को लालच देकर उनका धरम परिवर्तन करना। Trainee doctors को 250 रुपये दिहाडी देना और गरीबो के खाते में 15 लाख रूपये आएंगे ये सभी अपने-अपने तरीको से गरीबो का शोषण कर रहे हैं ?

Election की तैयारी..बाद में वही होगा जो पिछले 4 सालों से हो रहा है

किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को सुनाई खरी खोटीकिम जोंग उन की बहन ने बातचीत की संभावनाओं को ख़ारिज कर दिया है। नार्थ कोरिया के सरकारी मीडिया के अनुसार किम यो जोंग ने कहा कि अमेरिका हालात की व्याख्या स्वयं को दिलासा दिलाने के लिए कर रहा है।

7 हजार में कॉफी, 3 हजार में केला...किम जोंग उन के देश की महंगाई जानकर उड़ जाएंगे होश!किम जोंग उन की वजह से नॉर्थ कोरिया लगातार सुर्खियों में बना रहता है. इन दिनों महंगाई की वजह से नॉर्थ कोरिया की चर्चा हो रही है. दरअसल, यहां पर एक कॉफी का पैकेट सात हजार और केला तीन हजार रुपये से अधिक की कीमत पर बिक रहा है. We have our own battles rather thinking about people. Sometimes selfishness is good. भारत की गोदी मीडिया चैनल पूरे विश्व को महंगाई की खबर चलाते हैं लेकिन भारत का खबर नही दिखाते हैं की पेट्रोल 105 रुपया लीटर डीजल 100 रुपए लीटर सरसो का तेल 228 लीटर रिफाइन तेल 180 रुपया लीटर गैस सिलेंडर 900 पहुंच गया है लेकिन गोदी मीडिया चैनल वाले पाकिस्तान में टमाटर दिखाएंगे आप वहां समय मत खरीदो।

जानिए- किस बात को लेकर तानाशाह किम की बहन ने उड़ाया अमेरिका का मजाक और क्‍या कहाउत्‍तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की बहन ने कहा है कि अमेरिका किम के बयानों का गलत अर्थ निकाल कर खुश हो रहा है। उन्‍होंने ये भी कहा है कि अमेरिका ने उत्‍तर कोरिया के बयान का अपने मुताबिक अर्थ निकाला है। बिल में घुस कर चूहा बिल्ली का मजाक उड़ा सकता है

किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को सुनाई खरी खोटीकिम जोंग उन की बहन ने बातचीत की संभावनाओं को ख़ारिज कर दिया है। नार्थ कोरिया के सरकारी मीडिया के अनुसार किम यो जोंग ने कहा कि अमेरिका हालात की व्याख्या स्वयं को दिलासा दिलाने के लिए कर रहा है।

जानिए- किस बात को लेकर तानाशाह किम की बहन ने उड़ाया अमेरिका का मजाक और क्‍या कहाउत्‍तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की बहन ने कहा है कि अमेरिका किम के बयानों का गलत अर्थ निकाल कर खुश हो रहा है। उन्‍होंने ये भी कहा है कि अमेरिका ने उत्‍तर कोरिया के बयान का अपने मुताबिक अर्थ निकाला है। बिल में घुस कर चूहा बिल्ली का मजाक उड़ा सकता है

शेयर बाजारों की रफ्तार को लेकर SBI ने चेताया, कहा- वित्तीय स्थिरता के लिए जोखिम भराएसबीआई के अर्थशास्त्रियों ने एक ताजे नोट में कहा है कि शेयर बाजारों में ऐसे समय बढ़त जबकि वास्तविक अर्थव्यवस्था में कोई उल्लेखनीय घटनाक्रम नहीं हो रहा है, से वित्तीय स्थिरता का मुद्दा पैदा हो सकता है.