Tokyo 2020, Olympics, Teamındia, Cheer 4ındia, Hockey, Hockyindia, Indian Hockey, Tokyo Olympics, Rio Olympics, Olympics Medal Tally, टोक्यो ओलंपिक, Sports News İn Hindi, Hockey News İn Hindi, Hockey Hindi News

Tokyo 2020, Olympics

इस ओलंपिक में भारतीय हॉकी: अब तक 11 खिलाड़ियों ने 20 गोल किए, रियो ओलंपिक के मुकाबले दोगुने

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अब तक सात मैच खेले हैं, जिसमें उसे पांच में जीत और दो में हार का सामना करना पड़ा है। इस दौरान

03-08-2021 13:48:00

इस ओलंपिक में भारतीय हॉकी: अब तक 11 खिलाड़ियों ने 20 गोल किए, रियो ओलंपिक के मुकाबले दोगुने Tokyo2020 Olympics TeamIndia Cheer4India Hockey hockyindia

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अब तक सात मैच खेले हैं, जिसमें उसे पांच में जीत और दो में हार का सामना करना पड़ा है। इस दौरान

ख़बर सुनेंटोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम अब 5 अगस्त को सुबह 7 बजे कांस्य पदक के लिए मुकाबला खेलेगी। 1972 के बाद से पहली बार ओलंपिक सेमीफाइनल में उतरी टीम इंडिया भले ही स्वर्ण पदक से चूक गई हो, लेकिन उसने हॉकी में अपनी बादशाहत वापस पाने के इरादे साफ कर दिए हैं। ऑस्ट्रेलिया से 1-7 से हारने के बाद जिस तरह टीम ने हौसला दिखाया, उसे हर भारतीय आज सलाम कर रहा है। 2016 के रियो ओलंपिक से तुलना करें, तो भारत ने अपने खेल में काफी सुधार किया है। रियो में भारत के छह खिलाड़ियों ने क्वार्टर फाइनल तक के सफर में सिर्फ 10 गोल किए थे। वहीं, टोक्यो में अब तक भारत के 11 खिलाड़ियों ने स्कोर किया है। टीम इंडिया अब तक टूर्नामेंट में 20 गोल कर चुकी है।

इमरान ख़ान को स्नेहा दुबे से मिले वे जवाब, जिनकी हो रही चर्चा - BBC News हिंदी इमरान ख़ान का यूएन महासभा में अमेरिका और भारत दोनों पर तीखा तंज़ - BBC News हिंदी पीएम मोदी के दौरे पर अमेरिकी मीडिया में क्या कहा जा रहा है? - BBC News हिंदी

टोक्यो में भारतीय टीम ने एकजुट होकर खेल दिखाया। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि टूर्नामेंट में टीम के 11 खिलाड़ियों ने गोल दागे हैं। इनमें रुपिंदर पाल सिंह, हरमनप्रीत सिंह, दिलप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह, वरुण कुमार, विवेक प्रसाद, गुजरांत, शमशेर, नीलकंटा, हार्दिक और मनदीप सिंह के नाम शामिल हैं।

रियो में लय नहीं तलाश सकी थी टीमइससे पहले रियो ओलंपिक में टीम इंडिया अपनी लय नहीं पा सकी थी और अंतिम-8 से ही बाहर हो गई थी। इसका सबसे बड़ा कारण था- टीम के सिर्फ आधे खिलाड़ियों का जीत में योगदान देना। इस टूर्नामेंट में भारत के सिर्फ छह खिलाड़ी ही गोल कर पाए थे। इनमें रघुनाथ, रुपिंदर सिंह, चिंगलेंसना सिंह, कोथाजीत खडंगबम, अक्षदीप सिंह और रमनदीप सिंह के नाम शामिल थे। headtopics.com

रियो के मुकाबले टोक्यो में दोगुने गोल किएटीम इंडिया ने रियो के मुकाबले टोक्यो में दोगुने गोल दागे। रियो में भारतीय टीम कुल छह मैचों में 10 गोल ही कर पाई थी। इस दौरान भारत सिर्फ दो मैच ही जीत पाया था और एक मुकाबला ड्रॉ रहा था। वहीं, टोक्यो में भारत ने अब तक सात मैच खेले हैं, जिसमें उसे पांच में जीत और दो में हार का सामना करना पड़ा है। इस दौरान भारत ने कुल 20 गोल दागे हैं।

टीम इंडिया के डिफेंस में सुधार की गुंजाइश है। हालांकि, इसमें लगातार सुधार देखा जा रहा है। रियो में भारत के खिलाफ कुल 12 गोल किए गए थे। यह आंकड़ा भारत की ओर से किए गए गोल से ज्यादा था। वहीं, इस बार टोक्यो में भारत ने खुद किए गोल से कुछ कम यानी 19 गोल खाए हैं।

टोक्यो में पदक की उम्मीद कायमटोक्यो में भारत की मेडल जीतने की उम्मीद अभी कायम है। कांस्य पदक के लिए 5 अगस्त को मुकाबला खेला जाएगा। इससे पहले दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी की टीम के बीच भिड़ंत होगी। उसमें से जो टीम हारेगी, उसके साथ कांस्य पदक के लिए भारत का मुकाबला होगा। भारतीय हॉकी टीम साल 1980 के बाद से ओलंपिक में पदक नहीं जीती है।

विस्तारटोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम अब 5 अगस्त को सुबह 7 बजे कांस्य पदक के लिए मुकाबला खेलेगी। 1972 के बाद से पहली बार ओलंपिक सेमीफाइनल में उतरी टीम इंडिया भले ही स्वर्ण पदक से चूक गई हो, लेकिन उसने हॉकी में अपनी बादशाहत वापस पाने के इरादे साफ कर दिए हैं। ऑस्ट्रेलिया से 1-7 से हारने के बाद जिस तरह टीम ने हौसला दिखाया, उसे हर भारतीय आज सलाम कर रहा है। 2016 के रियो ओलंपिक से तुलना करें, तो भारत ने अपने खेल में काफी सुधार किया है। रियो में भारत के छह खिलाड़ियों ने क्वार्टर फाइनल तक के सफर में सिर्फ 10 गोल किए थे। वहीं, टोक्यो में अब तक भारत के 11 खिलाड़ियों ने स्कोर किया है। टीम इंडिया अब तक टूर्नामेंट में 20 गोल कर चुकी है। headtopics.com

Who is Sneha Dubey: भारत की दमदार ऑफिसर स्नेहा दुबे के बारे में सबकुछ, UNGA में बंद कर दी इमरान खान की बोलती यूपी में बीजेपी ने निषाद पार्टी के साथ किया गठबंधन, क्या होगा असर? - BBC News हिंदी राहुल गांधी से सचिन पायलट की दोबारा मुलाक़ात, लेकिन क्यों? - BBC Hindi

विज्ञापनटोक्यो में दिखी टीम परफॉर्मेंसटोक्यो में भारतीय टीम ने एकजुट होकर खेल दिखाया। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि टूर्नामेंट में टीम के 11 खिलाड़ियों ने गोल दागे हैं। इनमें रुपिंदर पाल सिंह, हरमनप्रीत सिंह, दिलप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह, वरुण कुमार, विवेक प्रसाद, गुजरांत, शमशेर, नीलकंटा, हार्दिक और मनदीप सिंह के नाम शामिल हैं।

रियो में लय नहीं तलाश सकी थी टीमइससे पहले रियो ओलंपिक में टीम इंडिया अपनी लय नहीं पा सकी थी और अंतिम-8 से ही बाहर हो गई थी। इसका सबसे बड़ा कारण था- टीम के सिर्फ आधे खिलाड़ियों का जीत में योगदान देना। इस टूर्नामेंट में भारत के सिर्फ छह खिलाड़ी ही गोल कर पाए थे। इनमें रघुनाथ, रुपिंदर सिंह, चिंगलेंसना सिंह, कोथाजीत खडंगबम, अक्षदीप सिंह और रमनदीप सिंह के नाम शामिल थे।

रियो के मुकाबले टोक्यो में दोगुने गोल किएटीम इंडिया ने रियो के मुकाबले टोक्यो में दोगुने गोल दागे। रियो में भारतीय टीम कुल छह मैचों में 10 गोल ही कर पाई थी। इस दौरान भारत सिर्फ दो मैच ही जीत पाया था और एक मुकाबला ड्रॉ रहा था। वहीं, टोक्यो में भारत ने अब तक सात मैच खेले हैं, जिसमें उसे पांच में जीत और दो में हार का सामना करना पड़ा है। इस दौरान भारत ने कुल 20 गोल दागे हैं।

डिफेंस में भी सुधार हो रहाटीम इंडिया के डिफेंस में सुधार की गुंजाइश है। हालांकि, इसमें लगातार सुधार देखा जा रहा है। रियो में भारत के खिलाफ कुल 12 गोल किए गए थे। यह आंकड़ा भारत की ओर से किए गए गोल से ज्यादा था। वहीं, इस बार टोक्यो में भारत ने खुद किए गोल से कुछ कम यानी 19 गोल खाए हैं। headtopics.com

टोक्यो में पदक की उम्मीद कायमटोक्यो में भारत की मेडल जीतने की उम्मीद अभी कायम है। कांस्य पदक के लिए 5 अगस्त को मुकाबला खेला जाएगा। इससे पहले दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी की टीम के बीच भिड़ंत होगी। उसमें से जो टीम हारेगी, उसके साथ कांस्य पदक के लिए भारत का मुकाबला होगा। भारतीय हॉकी टीम साल 1980 के बाद से ओलंपिक में पदक नहीं जीती है।

विज्ञापनटोक्यो में दिखी टीम परफॉर्मेंसविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?

जयपुर में भीषण सड़क हादसा: ट्रक और वैन की भिड़ंत में 6 की मौत, इनमें से 5 बारां से सीकर रीट की परीक्षा देने जा रहे थे गलवान झड़प पर चीनी प्रोपेगैंडा: चीन ने भारत को लड़ाई के लिए जिम्मेदार ठहराया, तिब्बत कब्जाने वाला देश बोला- भारत ने हमारी जमीन हड़पी अफगानिस्तान का इस्तेमाल किसी भी देश पर हमले के लिए न हो, भारत-अमेरिका के साझा बयान में आह्वान

हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

US दौरे पर PM मोदी, अब होगा आतंक पर वार! देखें हल्ला बोल

दो साल बाद अमेरिका के लिए पीएम मोदी की उड़ान तेजी से बदलती दुनिया में भारत की आन-बान और शान को दमदार अंदाज़ में दर्ज कराएगी. ये पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर जो बाइडेन आमने सामने मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि पीएम मोदी और जो बाइडेन की मुलाकात में अफगानिस्तान में तालिबान राज और उसके बाद के बढ़ते खतरे पर भी बात होगी. भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूती देने के अलावा प्रधानमंत्री के एजेंडे में आतंकवाद पर दुनिया को कड़ा संदेश देना भी शामिल होगा. SCO की बैठक में पीएम मोदी आतंकवाद को लेकर चीन और पाकिस्तान के सामने खरी-खरी सुना चुके हैं. आज हल्ला बोल में देखें इसी मुद्दे पर चर्चा.

10 साल पहले थीं McDonald में वेटर, अब ओलंपिक में पदक की दावेदारअमेरिका की ओलंपिक लॉन्ग जंपर क्यूनेशा बर्क्स ने मैकडॉनल्ड्स से ओलंपिक तक का शानदार सफर तय किया है. बर्क्स 10 साल पहले तक मैकडॉनल्ड्स रेस्टोरेंट में वेटर के तौर पर काम करती थीं लेकिन आज वे ओलंपिक गेम्स में अमेरिका की तरफ से पदक की दावेदार बनी हुई हैं. एक और महिला वेटर है जीसने अपनी तकदिर बदल दि है पयीचान कौन ? I request to govt please ban dhani app This is the way to move on.

टोक्यो ओलंपिक: 41 साल बाद ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष हॉकी टीमभारतीय पुरुष हॉकी टीम ने रविवार को टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचते हुए 41 साल बाद ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। भारत ने क्वार्टरफाइनल मुकाबले में ब्रिटेन को 3-1 से हराकर अंतिम-4 में अपना स्थान पक्का किया है।

टोक्यो ओलंपिक: 49 साल बाद ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष हॉकी टीमभारतीय पुरुष हॉकी टीम ने रविवार को टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचते हुए 49 साल बाद ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। भारत ने क्वार्टरफाइनल मुकाबले में ब्रिटेन को 3-1 से हराकर अंतिम-4 में अपना स्थान पक्का किया है। Very nice update

टोक्यो ओलंपिक: हॉकी में ब्रिटेन को हराकर भारत सेमीफ़ाइनल में पहुँचा - BBC Hindi टोक्यो ओलंपिक में भारत ने क्वॉर्टर फ़ाइनल में ब्रिटेन को 3-1 से हराकर सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली है. मोदी है तो मूमकीन है🤣😂- भारत पहला मैच न्यूज़ीलैंड से खेला था और आखिरी जापान से सही लिखा करो बे । 1980में भारत ने गोल्ड जीता था। 41साल हुए हैं।

कुणाल कपूर लॉन्च करेंगे अपना प्रोडक्शन हाउस, बनाएंगे इस ओलंपिक खिलाड़ी की बायोपिक

Tokyo के बाद अब सिंधु की निगाहें पेरिस ओलंपिक पर, कहा- सफर अभी रुकेगा नहीं...पीवी सिंधु ने कहा कि आज के समय में ब्रॉन्ज मेडल देश के लिए जीतना काफी गर्व करने वाला क्षण है. चीनी ताइपे की खिलाड़ी के साथ हारने के बाद काफी इमोशनल हो गई थी. जैसे ओडिशा भारतीय हॉकी टीम को स्पांसर कर रही थी, वैसे अगर दूसरे स्टेट किसी एक स्पोर्ट को स्पांसर करते तो आज हमारे पास मैडल ही मैडल होते। सर जनवरी दिसम्बर सीटेट उतीर्ण अभ्यर्थियों का भी पीड़ा को समझते हुए सातवे चरण का नोटिफिकेशन जल्द जारी करे। RanjitIAS sanjayjavin NitishKumar yadavtejashwi pushpampc13 ANI News18Bihar VijayKChy 7th_primary_notification 7th_primary_notification 7th_primary_notification Ok