इस्लामिक स्टेट ने ली बगदाद में हुए आत्मघाती बम धमाकों की ज़िम्मेदारी- आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi

इस्लामिक स्टेट ने ली बगदाद में हुए आत्मघाती बम धमाकों की ज़िम्मेदारी

22-01-2021 05:07:00

इस्लामिक स्टेट ने ली बगदाद में हुए आत्मघाती बम धमाकों की ज़िम्मेदारी

इराक़ की राजधानी बगदाद में गुरुवार को हुए इन बम धमाकों में 32 लोगों की मौत हो गई और 100 से अधिक लोग घायल हुए.

1:58बगदाद में हुए दोहरे आत्मघाती धमाके, आईएस ने ली ज़िम्मेदारीEPACopyright: EPAइस्लामिक स्टेट (आईएस) ने इराक़ की राजधानी बगदाद में हुए दोहरे ब्लास्ट की ज़िम्मेदारी ली है. गुरुवार को हुए इस हमले में 32 लोगों की मौत हो गई और 100 से अधिक लोग घायल हुए.आईएस से जुड़े न्यूज एजेंसी अमाक़ के मुताबिक इस हमले का लक्ष्य शिया मुस्लिम थे. आईएस सुन्नी मुसलमानों का ग्रुप है.

SCO में पीएम मोदी ने पाकिस्तान-चीन को दी 'अफगानी वैक्सीन', एक तीर से साधे कई निशाने बंटवारे के समय बरती जाती सावधानी तो भारत में होता करतारपुर साहिब: राजनाथ सिंह 'काउंसिल को लगा कि पेट्रोल-डीजल को GST दायरे में लाने का अभी वक्त नहीं' : निर्मला सीतारमण

बीते तीन सालों के दरम्यान यह बगदाद में हुआ सबसे बड़ा हमला है.इस हमले में आत्मघाती हमलावरों ने तायरान स्क्वायर में कपड़े की बाज़ार में खुद को उड़ा दिया.आईएस ने इस हमले के कई घंटे बाद मैसेजिंग ऐप टेलीग्राम पर अपने अकाउंट के ज़रिए इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

2017 में इस क्षेत्र में सेना से हारने के बाद आईएस की तरफ से बहुत कम आत्मघाती हमले हुए हैं.कभी पूर्वी इराक से पश्चिमी सीरिया तक के क़रीब 88,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में इस्लामिक स्टेट का नियंत्रित था और वो लगभग 80 लाख लोगों पर अपना क्रूर शासन चलाता था. headtopics.com

युद्ध के मैदान में आईएस की हार के बावजूद, संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट ने अगस्त 2020 में अनुमान लगाया था कि 10 हज़ार से अधिक आईएस लड़ाके आज भी इराक़ और सीरिया में सक्रिय हैं.इसके स्लीपर सेल छोटे स्तर के विद्रोह जारी रखे हैं, जो मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे हैं और सुरक्षा बलों को टारगेट कर रहे हैं.

गृह मंत्रालय ने बताया कि गुरुवार की सुबह हुए इस हमले में पहला आत्मघाती हमलावर बाज़ार में जा घुसा और अचानक बीमार पड़ने का बहाना कर अपने आस पास भीड़ इकट्ठा कर लिया.एक दुकानदार ने रायटर्स न्यूज़ एजेंसी को बताया,"हमलावर ने अपने हाथ से डेटोनेटर दबाया. तुरंत धमाका हुआ जिसमें कई लोगों के शरीर टुकड़े टुकड़े हो गए."

मंत्रालय के मुताबिक, पहले धमाके बाद जब घायलों की मदद के लिए लोग इकट्ठा होने लगे तो दूसरा हमलावार ने खुद को उड़ा दिया.प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि तायरान स्क्वायर बीते लगभग एक साल से कोरोनो वायरस से जुड़े प्रतिबंधों में ढील के बाद व्यस्त था.बगदाद में इससे पहले आखिरी आत्मघाती हमला इसी स्क्वायर में जनवरी 2018 को हुआ था, तब 35 लोग मारे गए थे.

इराक़ी राष्ट्रपति बरहाम सालेह ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा कि"सरकार देश को अस्थिर करने के इन दुष्ट प्रयासों के ख़िलाफ़ मजबूती से कदम उठाएगी."मार्च में इराक की यात्रा की योजना बना रहे पोप फ्रांसिस ने सालेह को भेजे एक संदेश में इस"क्रूरता और मूर्खतापूर्ण हमले की निंदा की है." headtopics.com

कोवैक्सीन पर मिलने वाली है खुशखबरी? अगले महीने WHO से मिल सकती है मंजूरी ओवैसी ने कहा, तालिबान और कट्टरता पर क़दम उठाएं पीएम मोदी, सिर्फ़ बातों का कोई मोल नहीं - BBC Hindi अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए

अमेरिका, यूरोपीय संघ और संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी इस हमले की निंदा की है.2018 में किया गया हमला संसदीय चुनावों से कुछ महीने पहले हुआ था और इराक इस साल के अंत में एक और आम चुनाव की योजना बना रहा है.सरकार ने हाल ही में घोषणा की है कि मतदाताओं और नई पार्टियों को पंजीकृत करने के लिए अधिकारियों को अधिक समय देने के लिए वोटिंग जून से अक्तूबर के बीच पुनर्निर्धारित की जाएगी.

और पढो: BBC News Hindi »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

अमेरिका ने इराक का विनाश कर डाला क्योंकि जिनके परिवार के लोग हमलो मे मरे हैं उनमे से बचे हुए लोग आतंकवादी बन गये हैं। भटके हुए नौजवान है। Omama come isi 😁😁😁😁😁😁😁😁😁 Ok ok. Understood. Islam is Peacefuls' religion. Chant loudly - this acts nothing to do with Religion

इराक की राजधानी बगदाद के कोविड अस्पताल में लगी आग, 82 लोगों की मौतइराक में कोविड-19 के रोज 8,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं। Hay raaam..

पांच सितारा होटल में हुए रेप के आरोपी की तलाश, दिल्ली पुलिस की मुंबई में दबिश23 फरवरी को दिल्ली के चाणक्यपुरी थाने में 22 साल की एक लड़की ने रेप की शिकायत दी थी. लड़की की शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी. जानकारी के मुताबिक, पीड़ित लड़की ने पुलिस को बताया था कि वो आरोपी को करीब 4 साल से जानती थी, जब वो पढ़ने के लिए पुणे गई थी.

पाकिस्तान ने मुंबई में बरामद हुए अवैध यूरेनियम की जांच की मांग की - BBC Hindiमहाराष्ट्र एटीएस ने गुरुवार को 7 किलोग्राम यूरेनियम के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया था. इसे लेकर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में चिंता जताई और जांच की मांग की.

पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट की निर्माणाधीन इमारत में लगी आग में पांच लोगों की मौतआग लगने से सीरम इंस्‍टीट्यूम में बनने वाली कोविड-19 वैक्‍सीन का निर्माण प्रभावित नहीं होगा. ऑक्‍सफोर्ड यूनिवर्सिटी और ब्रिटिश-स्‍वीडिश फॉर्मा कंपनी एस्‍ट्राजेनेका के सहयोग से विकसित इस वैक्‍सीन का निर्माण सीरम इंस्‍टीट्यूट में किया जा रहा है. सीरम में आग, iPhone की फैक्टरी में तोड़ फोड़, Jio के टावर में लूट, पतंजलि में लूट ..... ये सब होने के बाद भी भारतीय मोदी को ही गालियां देगा ! SerumInstituteofIndia 😂 Behind it's bjp. Aag lagne ki khabre bohut jiyada aa rahi hai ya kisi ki sajis hai😞?

महाराष्ट्र में मिली गीता की मां, 2015 में परिवार की तलाश में आई थी भारतइंदौर/कराची। पाकिस्तान से वर्ष 2015 में भारत लौटी गीता को महाराष्ट्र की 70 वर्षीय महिला ने अपनी बेटी बताया है और कुछ ब्योरों का मिलान होने के बाद उम्मीद जागी है, कि गीता को उसका खोया परिवार वापस मिल सकता है। इस बीच ईधी वेल्यफेयर ट्रस्ट की बिलकिस ईधी ने दावा ‍किया ‍कि गीता को महाराष्ट्र में उसकी असली मां से मिला दिया गया है।

कोरोनाः मुंबई की महिलाओं में पुरुषों की तुलना में ज्यादा एंटीबॉडी, सीरो सर्वे में खुलासाकोरोना महामारी से जूझ रहे मुंबई में बीएमसी द्वारा तीसरा सीरो सर्वे कराया गया. इसमें खुलासा हुआ है कि महिलाओं में पुरुषों की तुलना में कोरोना से लड़ने के लिए ज्यादा एंटीबॉडी हैं.