इमरान ख़ान ने तालिबान से समावेशी सरकार के लिए बातचीत शुरू की - BBC Hindi

बाबुल सुप्रियो बीजेपी छोड़ टीएमसी में शामिल हुए

18-09-2021 13:09:00

बाबुल सुप्रियो बीजेपी छोड़ टीएमसी में शामिल हुए

इमरान ख़ान ने कहा कि 40 वर्षों के संघर्ष के बाद, इस कदम से अफ़ग़ानिस्तान में शांति और स्थिरता आएगी.

6:13न्यूज़ीलैंड के आने और बिना खेले वापस जाने को पाकिस्तान ने कहा साज़िशGetty ImagesCopyright: Getty Imagesपाकिस्तान के गृह मंत्री शेख़ राशिद अहमद ने न्यूज़ीलैंड टीम का दौरा रद्द करने को साज़िश करार दिया है.शुक्रवार को उन्होंने कहा कि न्यूज़ीलैंड का पाकिस्तान दौरा रद्द करने के पीछे साज़िश थी. बीते 18 साल में ऐसा पहली बार हुआ है, जब टीम ने अपना दौरा रद्द किया है.

आगरा जा रही प्रियंका गांधी वाड्रा को UP पुलिस ने हिरासत में लिया कृषि क़ानून पर केंद्र सरकार को ही मानना पड़ेगा, किसान नहीं मानेंगे: सत्यपाल मलिक - BBC News हिंदी तालिबान की तिजोरी खाली, अमेरिका सख़्त; पाकिस्तान, तुर्की, यूरोप तक आँच, चीन-रूस से बनेगी बात - BBC News हिंदी

एक सवाल के जवाब में शेख़ राशिद अहमद ने इसे साज़िश तो बताया लेकिन साजिशकर्ता का नाम बताने से इनक़ार कर दिया.उन्होंने इसे क्षेत्र में शांति के प्रयासों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश बताया.इस्लामाबाद में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि न्यूज़ीलैंड टीम के सुरक्षा प्रभारी ने सुबह सरकारी अधिकारियों से बात की और उन्हें ख़तरे की आशंका जताई.

उन्होंने कहा कि जब अधिकारियों ने उनसे और ब्यौरा मांगा तो न्यूज़ीलैंड के सुरक्षा प्रभारी के पास बताने के लिए कुछ भी नहीं था.अहमद ने कहा कि पाकिस्तान ने रावलपिंडी में होने वाले मैचों के लिए पाकिस्तानी सेना के विशेष सेवा समूह (एसएसजी), सैनिकों और 4000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया था. headtopics.com

उन्होंने कहा, "हमने उन्हें दर्शकों के बिना मैच खेलने के लिए मनाने की भी कोशिश की, लेकिन वे इसके लिए भी राज़ी नहीं हुए."गृह मंत्री ने कहा कि सरकार की टीम ने प्रधानमंत्री इमरान ख़ान से भी इस संबंध में संपर्क किया, जो वर्तमान में 20वें शंघाई सहयोग संगठन परिषद में भाग लेने के लिए दुशांबे में हैं.

गृह मंत्री ने बताया,"उन्होंने न्यूज़ीलैंड के प्रधानमंत्री (जैसिंडा अर्डर्न) को फ़ोन किया और उनके देश की टीम को पूरी सुरक्षा प्रदान करने का आश्वासन भी दिया. न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री ने कहा कि ख़तरे का कोई मुद्दा नहीं था."अहमद ने बताया कि हालांकि, अर्डर्न ने कहा कि न्यूजीलैंड सरकार को"खुफ़िया जानकारी मिली थी कि जब टीम स्टेडियम जाने के लिए बाहर निकलेगी तो उस पर हमला किया जा सकता है."

उन्होंने कहा,"यह उनका निर्णय है. हमने टीम के लिए भारी सुरक्षा तैनात की थी. पाकिस्तान दुनिया में शांति चाहने वाले देशों में से है और यह दौरा एक साज़िश के माध्यम से रद्द कर दिया गया है."उन्होंने आगे कहा कि नेशनल क्राइसिस मैनेजमेंट सेल ने भी उन्हें दौरा रद्द नहीं करने के लिए मनाने की कोशिश की थी लेकिन वे सहमत नहीं हुए.

'भारतीय मीडिया कर रहा है पाकिस्तान को बदनाम'गृह मंत्री ने कहा कि न्यूज़ीलैंड की सुरक्षा टीम ने चार महीने पहले पाकिस्तान का दौरा किया था. यह दौरा अफ़ग़ानिस्तान से अंतरराष्ट्रीय सेना की वापसी के लिए तय समय सीमा से कुछ महीने पहले ही तय हुआ था."हमारी किसी भी ख़ुफ़िया एजेंसी को किसी ख़तरे के बारे में कोई जानकारी नहीं है. पाकिस्तान इस क्षेत्र में एक प्रमुख भूमिका निभा रहा है और वे नहीं चाहते कि हम आगे बढ़ें." headtopics.com

आगरा में पुलिस हिरासत में सफ़ाईकर्मी की मौत, क्या है पूरा मामला? - BBC News हिंदी VIDEO: जब प्रियंका गांधी के साथ सेल्‍फी के लि‍ए महिला पुलिसकर्मियों में मची होड़... जेल में रोता रहता है मंत्री का बेटा: लखीमपुर हिंसा का आरोपी बार-बार गद्दा और बाहर के खाने की लगा रहा गुहार; 8 दिन से क्वारैंटाइन बैरक है ठिकाना और पढो: BBC News Hindi »

लखीमपुर खीरी से ग्राउंड रिपोर्ट: नाराज किसान बोले- आज हमारे बच्चों को कुचला तो 45 लाख में समझौता हो गया, कल कोई और कुचलेगा तो 50 लाख में मामला निपट जाएगा

पिछले कुछ दिनों से चर्चा में रहे लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में अब खामोशी है। जली हुई गाड़ियां, थके हुए पुलिसकर्मी और सच तलाशते गिने-चुने पत्रकारों को देखने के बाद ये अहसास ही नहीं होता कि 48 घंटे पहले यहां हुए उपद्रव में 8 लोगों की जान गई है। मन में सवाल कौंधता है कि आखिर इतनी जल्दी स्थिति कैसे काबू हो गई। लोग इतने सामान्य क्यों दिखाई दे रहे हैं? सरकार ने इस पूरे मामले को कैसे कंट्रोल किया? | UP Lakhimpur Kheri Violence Ground Report; Farmers On Rs 45 Lakh Compensation जब हमने चश्मदीद प्रदर्शनकारी से घटना को लेकर सवाल किया तो वे किसानों पर गाड़ी चढ़ाने के बारे में तो खुलकर बात कर रहे थे,

जो 40000 वोट से हार जाए वो दीदी का क्या भला कर पाए गा, दीदी ने तो शरन दिया है एक नेता बीक गया भाजपाई के चड्डी मे खुजली हो गई मध्य प्रदेश, मे 22 कर्नाटक मे 15 नेता खरीद कर भाजपाई, चड्डी उतार के नाच रहे थे This has become trend in Indian politics. Who so ever is deprived of a post he changes the party. I don't know any remedy but all political partys should shun these policies

Ke aap mujhe achche lagne lage छोड बाबुल का घर । आज पी के नगर ।। ये आज की राजनीति की हकीकत है, लोग नेतागिरि करते है कमाने के लिये, सेवा के लिये नहीं। अब इनका जाना या तो TMC या दीदी के डर से है, मतलब राजनीति का अपराधीकरण या पैसे कमाने की उम्मीद मतलब राजनीति मे भ्रस्टाचार। बाकी जवाब जनता को देना है, उन्हें क्या चाहिए!

भाई को जिन्दा भी तो रहना है। इन BJP वालो का क्या, एक शोक संदेश दे कर फ्री हो जाते Abhi tak khela ho hi raha hai तलवार की डर से सलवार पहनने वाले लोग ।।।। भाजप ने भारी यूज़ ले किनारा किया जो खुद किनारा बना अब धारा रोकता

एससीओ समिट: पीएम मोदी फिर करेंगे पाकिस्तान को बेनकाब, आज इमरान खान को सुनाएंगे खरी-खरीएससीओ समिट: पीएम मोदी फिर करेंगे पाकिस्तान को बेनकाब, आज इमरान खान को सुनाएंगे खरी-खरी SCOsummit narendramodi PMOIndia DrSJaishankar MEAIndia narendramodi PMOIndia DrSJaishankar MEAIndia एससीओ समिट: पीएम मोदी फिर करेंगे पाकिस्तान को बेनकाब, आज इमरान खान को सुनाएंगे खरी-खरी... 😂😂😂 ऐसे अखबार लगता २०२४ के बाद कटोरा लेंगे..😂 narendramodi PMOIndia DrSJaishankar MEAIndia NationalUnemploymentDay17Sept

Suvendu Adhikari bhi ho jayenge !! बाबुल जैसे नेता मौकापरस्त हैं इनके जैसे नेताओं के कारण ही लोग नेताओँ को गाली देते हैं जब तक मंत्री थे तो मलाई खाते रहे । मंत्रीपद जाते ही पार्टी बदल ली इनकी कोई विचारधारा नहीँ है ये बिना पेंदे के लोटे हैं कभी इधर कभी उधर । ममता से डरते हैं अब कहेंगे ममता जी की छांव में जन्नत है

Ek aur khela ho gaya. No news in Indian media is big news, it is just a big lie and stupid Indians believe it पंजाब कॉन्ग्रेस मैं घमासान, पंजाब राष्ट्रपति शासन की ओर....... Ab wo secular ho gaye hai Pahle communal the Yahi politics hai kal jinko bura kahte the Aaj unki party join kar li public bewaquf hai inke chakkar me dost،rishtedar،padosi se relation kharab karte hai

बिल्कुल सही किया, ममता के खिलाफ कोई ठोस कारवाई नहीं होने से और भी लोग बीजेपी छोड़ सकतें हैं क्योंकि सबको डर लगता है ममता से सिर्फ रोह्ंगीया और बंग्लादेशी जेहादी को छोड़ कर । हर आदमी गुलामी नही कर सकता।जो करता है वो साथ है।जो नही करता वो बाहर है Puri BJP ko Desh Chhod Kar Jana Hoga Sab kursi ke lalchi hain. Koi apni party ka saga nahi hota. Pista ek taraf bhakt h jo apne neta keliye kiya nahi sahta or dusri taraf aam janta h.

SCO Summit 2021: सामने बैठे थे इमरान खान, कट्टरपंथ को लेकर खूब सुना गए पीएम मोदीSCO Summit 2021 Live Updates: शंघाई सहयोग संगठन (Shanghai Cooperation Organisation (SCO) की 21वीं बैठक दुशांबे में हो रही है। इसमें सदस्‍य देशों की सरकारों के मुखिया हिस्‍सा ले रहे हैं। गोदी मीडिया ध्यान दे आज राष्ट्रीय के युवा बेरोजगार दिवस मना रहा है अपेक्षा रहेगा कि गोदी मीडिया भी बधाई देगा क्यो की बेरोजगारी पैदा मोदी जी नोट बंदी कर कर दिया था राष्ट्रीय_बेरोजगार_दिवस

छोड़ छाड़ के अपने बाबुल मोदी की गली सुप्रियो TMC मे चली 😂 𝓐𝓫𝓱𝓲 𝓚𝓱𝓮𝓵𝓪 𝓚𝓱𝓪𝓽𝓪𝓶 𝓝𝓪𝓱𝓲 𝓗𝓾𝓪 𝓗𝓪𝓲 अब तो 'बाबुल'SuPriyoBabul की दुआ भी दीदी से साथ है! आइए तो वेलकम जाओ तो भीड़ कम अपना TRP बड़ा लिया 😀 बरसाती मेढ़क साबित हुए

SCO में अफ़ग़ानिस्तान पर पीएम मोदी और इमरान ख़ान की ये टिप्पणी - BBC Hindiएससीओ की बैठक में तालिबान पर पीएम मोदी और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान की राय बिल्कुल अलग-अलग रही. Wahh Be Afghanistan and the world, where the country will run with religious knowledge, the democracy of that country is going to be like that of Afghanistan in the coming times, so now is the time to handle it.

'भड़काऊ ': शीर्ष मेडिकल संस्‍था के प्रमुख ने कोविड के असर पर अमेरिकी रिपोर्ट को नकाराआईसीएमआर के प्रमुख बलराम भार्गव ने भी कहा, यह एक भड़काने वाला और जबरन ध्‍यान आकर्षित करने वाला लेख है. इसे तब प्रकाशित किया गया है जब भारत इस दिशा में अच्‍छा कर रहा है. हमारा वैक्‍सीनेशन शानदार है और यह ध्‍यान को हटाने की कोशिश है. जिन मुद्दों को उठाया गया है, वे पहले ही खत्‍म हो चुके हैं और इन पर ध्‍यान देने की जरूरत नहीं है.

दिल्ली सरकार ने दिवाली के दौरान पटाखों के भंडारण, बिक्री और उपयोग पर लगाई रोकदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के बाद प्रदूषण की गंभीरता को देखते हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया, जिससे व्यापारियों को नुकसान हुआ था. सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह का भंडारण न करें. बिल्कुल सही निर्णय राष्ट्र द्रोही लोगों को सहन होगा!

मुंबई मेट्रो: उद्धव ठाकरे के बयान से भाजपा-शिवसेना के साथ आने के कयास तेजमहाविकास आघाड़ी सरकार को बने दो साल होने को आ रहे हैं. पर शायद ही कोई महीना ऐसा बीतता हो जब शिवसेना और बीजेपी के साथ आने की अटकलें ना लगी हों. आज तो खुद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बयान ने फिर से इन अटकलों को जिंदा कर दिया. ठाकरे ने कहा- मेरे पूर्व मित्र और यदि हम फिर से एक साथ आते हैं, तो भविष्य के मित्र हो सकते हैं. ठाकरे ने यह बात औरंगाबाद में आयोजित एक सार्वजनिक समारोह में कहा है. देखें वीडियो. BJP should never join hands with S. S.