Humans, Stressing, Tıger, Cheetahs, चीता, इंसान, मध्यप्रदेश, बांधवगढ़, कान्हा टाइगर रिजर्व

Humans, Stressing

इंसानों की वजह से तनाव में चीते या चीतों को तनाव दे रहे इंसान!

मध्यप्रदेश के बांधवगढ़ और कान्हा टाइगर रिजर्व के चीतों पर किए गए अध्ययन में कई तथ्य सामने आए हैं

18.7.2019

मध्यप्रदेश के बांधवगढ़ और कान्हा टाइगर रिजर्व के चीतों पर किए गए अध्ययन में कई तथ्य सामने आए हैं

मध्यप्रदेश के बांधवगढ़ और कान्हा टाइगर रिजर्व के चीतों पर किए गए अध्ययन में कई तथ्य सामने आए हैं. चीतों के समान्य जीवन के व्यवहार में आक्रामकता आ रही है.

डॉक्टर जी उमापैथी के नेतृत्व में हुए इस शोध में बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व और कान्हा टाइगर रिजर्व में मौजूद चीतों की फिजियोलॉजी का अध्यन किया गया है. डॉ. जी उमापैथी के मुताबिक, पर्यटकों की भारी संख्या और उनके व्यवहार की वजह से नर और मादा दोनों तरह के चीतों में तनाव का स्तर बढ़ रहा है.पर्यटक परिवहन भी तनाव के लिए जिम्मेदार कारक साबित हो रहे हैं.

और पढो: आज तक

मैंने तो सुना था भारतीय चीते लुप्त हो गए थे, बचे हैं तो आश्चर्य है कदाचित् विदेशी नस्ल को भारतीय जमीन पर प्रजनन करा बढ़ाया होगा। चमकी बुखार पर भी अध्ययन कर लेते वहाँ भी तथ्य मिल जाते..खरबो रुपए विदेशी सैलानियों के लिए फूंक रहे हो देश मे बच्चे भूखे मर रहे है...कृपया हिंदुस्तान को भेड़ियादसान न बनाएं । जिनको ज्यादा शौक है वो अपने देश ने जाकर शौक पूरा करें ।

पांच हजार साल पुरानी हिन्दू आदर्शवादी सोच से आधुनिक आतंकवादी सोच का सामना नहीं किया जा सकता

गोमांस रखने के शक में मदरसे में तोड़-फोड़उत्तर प्रदेश में फ़तेहपुर ज़िले के एक गाँव में तनाव का माहौल, पुलिसकर्मी तैनात. गोमांस रखने की आशंका नहीं रखा ही होगा मदरसा मेँ Wahan se AK 47 nikala व्हाट द शक

आतंकवाद की जांच करने वाली एजेंसी NIA संशोधन बिल में ऐसा क्या है जिस पर अमित शाह और ओवैसी में हुई तीखी नोंकझोंक, 10 बातेंसोमवार को लोकसभा में एनआईए (NIA)यानी राष्ट्रीय जांच एजेंसी संशोधन बिल पास हो गया है. इस विधेयक में दिए गए प्रावधानों के मुताबिक अब आतंकवाद मामलों की जांच करने वाली देश की सबसे बड़ी एजेंसी एनआईए भारत के बाहर किसी भी गंभीर अपराध के मामले में केस रजिस्टर और जांच का निर्देश दे सकती है. अब इस बिल को राज्यसभा में लाया जाएगा जहां इसको पास करना सरकार के सामने चुनौती होगी.इस बिल पर चर्चा के दौरान एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी और गृहमंत्री अमित शाह के बीच तीखी नोंकझोंक भी हुई. पहले विधेयक को विचार करने के लिए सदन में रखे जाने के मुद्दे पर एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी ने मत-विभाजन की मांग की. गृह मंत्री अमित शाह ने भी कहा कि इस पर मत-विभाजन जरूर होना चाहिए. इसकी हम भी मांग करते हैं ताकि पता चल जाए कि कौन आतंकवाद के साथ है और कौन नहीं. मत विभाजन में सदन ने 6 के मुकाबले 278 मतों से विधेयक को पारित किये जाने के लिये विचार करने के वास्ते रखने की अनुमति दे दी. Sadakon par bhi aisi ladai nhi dikhti ओवैसी देशद्रोही है अमित शाह से देशद्रोही है। ये देश को तोड़ने का काम कर रहा है।

जम्मू -कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकी ढेरजम्मू-कश्मीर के सोपोर कस्बे में बुधवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. मुठभेड़ शहर के बाहरी क्षेत्र में स्थित गुंद ब्राथ क्षेत्र में हुई.

बिहार में बाढ़ के लिए नेपाल को ज़िम्मेदार ठहराना कितना सहीभारत-नेपाल सीमा पर बाढ़ के पीछे की राजनीति. क्या दो पड़ोसी देशों का झगड़ा और पेचीदा हो सकता है. अपनी नाकामी छुपाने का आसान तरीका है दूशरे पर इल्जाम लगा दो एक कामयाब आदमी कभी दूशरे पर इल्जाम नहीं लगाता हे वल्की वो अपनी महनत ओर दिमांग से उन कमियों को दूर करता हे जो गलत हे क्योंकि आप जैसी संस्थाएँ नमक-मिर्च मिलाना शुरु कर देती हैं ! प्रकृति की देनहै किसी को दोष देना उचित नहीं है।

EXCLUSIVE: आखिर कंगना रनौत को मीडिया से नाराज़गी क्या है?– News18 Hindiबॉलीवुड की क्वीन कही जाने वाली एक्ट्रेस कंगना रनौत इन दिनों अपनी आगामी फिल्म जजमेंटल है क्या के प्रमोशन में व्यस्त हैं. वहीं हाल ही में फिल्म के सॉन्ग लॉन्च के दौरान कंगना की एक हॉट टॉक भी हुई जोकि काफी चर्चा में आ गई. इस हॉट टॉक के बाद मीडिया के तरफ कंगना को बैन कर देने की भी मांग उठी. जिसके बारे में न्यूज़ 18 ने कंगना से खास बातचीत की. कंगना ने कहा कि किसी के ऊपर अपने विचार थोपना, गलत है... मैंने पॉवरफुल लोगों के खिलाफ आवाज़ उठाई इसलिए मुझ पर बैन लगा...मूवी माफिया के प्रेशर के कारण बैन..मुझे मेंटल नहीं एक ज़ोम्बी की तरह दिखाया गया... बार-बार मुझे जो बोलने से रोका जाता था, मैं इस चीज़ से इतने दबाव में थी कि मैं खुश हूं कि मुझ पर ये बैन लगा. वहीं पत्रकारों के बारे में दिए बयान पर कंगना कहती हैं कि हर चीज़ पर प्राइस टैग है...पर्सनल एजेंडा से जो पत्रकारिता करते हैं सिर्फ उन्होंने इस प्रोफेशन को बदनाम कर रखा है. देखिए न्यूज़ 18 हिंदी के साथ कंगना रनौत का ये एक्सक्लूसिव इंटरव्यू... KanganaTeam sushantmohan Rangoli_A जब तक मीडिया मे anjanaomkashyap BDUTT ravishndtv ppbajpai etc जैसे पत्रकार पत्रकारिता करेंगें कंगना ही नही हर उस इन्सान को नाराजगी होगी जो भारतीय संस्कार को मानते है और अपने भारत माता से प्यार करते है ! KanganaTeam sushantmohan Rangoli_A मीडिया एक माफिया की तरह काम कर रहा है आजकल और पत्रकार ५०/-में बिक रहे हैं सही खबर को गलत और गलत खबर को सही दिखाने के लिए-- आदरणीय 'मणिकर्णिका' KanganaTeam sushantmohan Rangoli_A KanganaTeam को हि नही देश के हर उस नागरिक को जब तक नाराजगी रहे गे तब तक दलाल मिडीया इस देश मे गोदी मिडीया के तलवे चाटे गी तब तक नाराजगी कायम रहे गी..!!

बंगाल में हनुमान चालीसा पर बवाल, BJP वर्कर और पुलिस में जमकर झड़पपश्चिम बंगाल के हावड़ा में बीजेपी कार्यकर्ताओं को सड़क के एक ओर हनुमान चालीसा पढ़ने के कार्यक्रम की इजाजत मिली थी लेकिन बाद में भीड़ बढ़ने के बाद लोगों ने पूरा रास्ता बंद कर दिया. इसी के बाद पुलिस के साथ उनकी जमकर बहस हुई और झड़प भी. बीजेपी कार्यकर्ताओं में इशरत जहां भी शामिल थीं तो ट्रिपल तलाक केस में एक याचिकाकर्ता भी हैं. देखते ही देखते मामला बिगड़ता गया और पुलिस के साथ बीजेपी कार्यकर्ताओं की हाथापाई भी हुई.

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

18 जुलाई 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

महाराष्ट्र में पटरी से उतरी गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस, कोई हताहत नहीं

अगली खबर

समझौता केस में एक धर्म से टेररिज़्म जोड़ने के लिए हेरफेर: अमित शाह