आधार कार्ड को लेकर क्यों जारी हुए नागरिकता साबित करने के नोटिस

आधार कार्ड को लेकर क्यों जारी हुए नागरिकता साबित करने के नोटिस

19.2.2020

आधार कार्ड को लेकर क्यों जारी हुए नागरिकता साबित करने के नोटिस

जब आधार नागरिकता का प्रमाण नहीं है तो हैदराबाद में 127 लोगों को नागरिकता साबित करने को क्यों कहा गया?

ये एक्सटर्नल लिंक हैं जो एक नए विंडो में खुलेंगे शेयर पैनल को बंद करें इमेज कॉपीरइट Getty Images हैदराबाद में रहने वाले मोहम्मद सत्तार ख़ान नाम के शख़्स को आधार के क्षेत्रीय कार्यालय की ओर से एक नोटिस मिला है जिसमें उनपर फ़र्ज़ी दस्तावेज़ों पर आधार कार्ड बनवाने का आरोप लगा है. सत्तार ख़ान का दावा है कि वह भारतीय नागरिक हैं मगर इस नोटिस में उनसे अपनी नागरिकता साबित करने के लिए भी कहा गया है. आधार कार्यालय की ओर से जारी नोटिस में नागरिकता साबित करने के लिए कहे जाने पर सवाल उठ रहे हैं क्योंकि आधार को नागरिकता का प्रमाण नहीं माना जाता है. इस संबंध में आधार जारी करने वाले संस्थान यूआईडीएआई का कहना है कि उसने हैदराबाद पुलिस की ओर से मिली शिकायत के आधार पर यह क़दम उठाया है. यूआईडीएआई का कहना है कि 'राज्य पुलिस की शुरुआती जांच के अनुसार 127 लोगों ने फर्ज़ी दस्तावेज़ों के ज़रिये आधार हासिल किया है. ये अवैध आप्रवासी हैं और आधार के हक़दार नहीं हैं.' Image caption सत्तार ख़ान को मिला नोटिस क्या है मामला मोहम्मद सत्तार ख़ान ने बीबीसी को बताया कि वह ऑटो रिक्शा चलाते हैं और उनके पिता केंद्र सरकार की कंपनी में काम करते थे. उनकी मां को अभी भी पिता की पेंशन मिलती है. सत्तार को मिला नोटिस आधार रेग्युलेशन 2016 के अध्याय छह के नियम 30 के तहत इस महीने की तीन तारीख़ को जारी हुआ था. नोटिस में कहा गया है,"हमारे कार्यालय को शिकायत मिली है कि आप भारतीय नागरिक नहीं हैं और आपने फ़र्ज़ी दस्तावेज़ों के माध्यम से आधार लिया है. UIDAI कार्यालय ने इस संबंध में जांच का आदेश दिया है." इसे लेकर सत्तार का कहना है कि उनके पास वोटर आईडी कार्ड और दसवीं क्लास की मार्कशीट भी है. सत्तार ने कहा कि उन्हें तीन दिन पहले यह नोटिस मिला जिससे बाद वह एक स्थानीय नेता के पास गए मगर उन्हें भी मामला समझ नहीं आया. सत्तार ख़ान को 20 मई को इस संबंध में अपील के लिए पेश होने के लिए कहा है. उनसे कहा गया है कि कार्यवाही के लिए आते समय असली दस्तावेज़ लाएं ताकि नागरिकता साबित की जा सके. अगर वह सुनवाई में पेश नहीं होते हैं और ज़रूरी दस्तावेज़ जमा नहीं करते हैं तो नियम 29 के तहत उनके आधार को रद्द कर दिया जाएगा. इमेज कॉपीरइट और पढो: BBC News Hindi

PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल



कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला

मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak



कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला

'रामायण' ने खड़ा कि‍या सवाल, क्या सास-बहू के नाटक देखना चाहते हैं इंडियन टेलीविजन दर्शक?



दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल

कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi



घुसपैठीयो ने गलत प्रमाण पत्रों की मदद से आधार बनवा लिया है👍 आधार की जांच होनी चाहिए👍 npr nrcbill_जल्दी_लाओ 👍 Adhar card jb banaye gaye tb shuru shuru me logo ne inki gambhirta ko samjha hi nhi..saalo pahale kari gai galtiyan hi to hm.aaj bhugat rahe hain अगर कोई बात समझ में न आए तो थोड़ा ध्यान लगाकर बैठा करे, हमारे देश में डोनाल्ड ट्रम्प का और ऐसे कई सारे फर्जी आधार मौजूद है तो क्या ये गलतियां ठीक नहीं करनी चाहिए

ये तो बहुत अच्छा कदम है। भारत में हर बंगलादेश और नेपाल के नागरिकों ने आधार कार्ड बनवा लिया।भारतीयों को डरने की जरूरत नहीं है। अगर आधार कार्ड धारक नागरिकता साबित न करने पाये तो डिटेंशन सेंटर को तैयार रखा जाये। Why not a DNA test ?

नागरिकता कानून के समर्थन में आए देश के 154 प्रबुद्ध लोग, राष्ट्रपति को लिखा पत्रप्रबुद्ध जनों ने पत्र में चिंता जताई है कि सीएए, एनआरसी, एनपीआर को लेकर जानबुझकर लोगों में अफवाह फैलाई जा रही है. यह देश को नुकसान पहुंचाने के लिए एक सोची समझी साजिश है. Yes very great guys I also support CAA_NRC_NPR You won't hear a word on this from 2 biased reporters- sardesairajdeep & ShekharGupta . They will be busy in collecting details of Anti CAA protests. ये बिल्कुल 100% सही है। इसमे TOI भी शामिल है जो जानभुज कर गलत न्यूज़ फैला रहा है ना केवल देश मे बल्कि हमरे पड़ोसी देशों को भी गलत मैसेज दे रहा है। ये है 👇👇

उमर अब्दुल्ला को किस आधार पर बंद किया गया है?हिरासत में रखे जाने की वजहों में उनका पूर्वाग्रह से ग्रस्त होना और सोशल मीडिया पर सक्रिय रहना शामिल है. Modi ka kya hai kisi bhi aadhar pe kar sakta hai, aur aadhar na ho to rashan card pe bhi kar sakta hai. Is waja se Wo KASHMIR k hai isliye clean answer

जानिए क्यों कहा जाता है ट्रंप के Airforce-1 को दुनिया का सबसे शक्तिशाली विमान...नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी को दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं। ट्रंप के भारत आने से पहले ही अमेरिकी सेना का विशेष विमान Airforce-1 अहमदाबाद पहुंच गया है। आधुनिक हथियारों से लैस इस विमान को दुनिया में सबसे शक्तिशाली विमान माना जाता है।

कोरोनावायरस को कह रहे 'चीनी वायरस', H1N1 को अमेर‍िकी वायरस कहा था क्‍या?चीन ने हुपेई प्रांत के वुहान शहर में केवल दस दिनों के भीतर ही दो अस्पताल- हुओशनशान और लेइशनशान का निर्माण किया जो मुख्य तौर पर नये कोरोनावायरस संक्रमण ग्रस्त रोगियों के उपचार के लिए हैं। किसी भी प्रकार की महामारी के खिलाफ सब को साथ मिलकर लड़ना चाहिए ना कि किसी को नीचा दिखा कर आपस में लड़ना चाहिए। उम्मीद है चीन जल्द ही जानलेवा बीमारी coronavavirus से मुक्ति पा लेगा। जहाँ एक पार्टी और एक नेता का राज है वहाँ यही होगा, जनता सिर्फ दिखावे के लिए, भारत की जनता सीखे कुछ चीन से।

कसाब को हिंदू साबित करना चाहता था पाकिस्तान, दाऊद गैंग को दी थी सुपारीकसाब को हिंदू साबित करना चाहता था पाकिस्तान, दाऊद गैंग को दी थी सुपारी AzmalKasab MumbaiAttacks2008 DawoodIbrahim Vijaysanghvi15 कांगिए और वामपंथी देशद्रोही भी तो साथ ही होंगे ,हिंदुओं को बदनाम करने के लिए ये सुअर हमेशा षड्यंत्र रचते रहते है।

फैक्ट चेक: ट्रेन में सीट को लेकर हुई हत्या को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिशपुणे के दौंड रेलवे स्टेशन के पास कुछ यात्रियों के बीच सीट को लेकर झगड़ा हुआ था. इस हादसे में एक शख्स की हत्या भी हुई थी जिसको लेकर सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक रंग देकर वायरल किया जा रहा है. journovidya Just like they did for Junaid... But at that time you didn't fact check journovidya यही हत्या अगर मुस्लिम समुदाय के किसी परिवार की होती तो अब इस मामले को UNO तक पहूंचा दिया होता journovidya महिला_अतिथिविद्वान_मुंडन_मध्यप्रदेश



कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक

मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं!

आज तक @aajtak

VIDEO: जमातियों की बदसलूकी, सुनिए क्या बोल रहे मुस्लिम धर्मगुरु

कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी

तबलीगी जमात के मौलाना साद को क्राइम ब्रांच का नोटिस, पूछे गए 26 सवाल

बिहार के सिविल सर्जन को 'झोला छाप डॉक्टरों' की ज़रूरत क्यों पड़ी?

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

19 फरवरी 2020, बुधवार समाचार

पिछली खबर

ISWOTY Landing Page - BBC हिंदी

अगली खबर

पाकिस्तान में रहस्यमय गैस लीक, 14 की मौत
PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला 'रामायण' ने खड़ा कि‍या सवाल, क्या सास-बहू के नाटक देखना चाहते हैं इंडियन टेलीविजन दर्शक? दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi आज तक @aajtak कोरोना: यूपी में छोड़े जाएंगे 359 बाल कैदी, इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद होगी रिहाई कोरोना: पाकिस्तान ने 80 एकड़ जमीन पर क्यों बनाया नया कब्रिस्तान? - Coronavirus AajTak लॉकडाउन में फंसा तो 3 दिन में 400 km साइकिल चलाकर गांव पहुंचा ये शख्स आज तक @aajtak
कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं! आज तक @aajtak VIDEO: जमातियों की बदसलूकी, सुनिए क्या बोल रहे मुस्लिम धर्मगुरु कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी तबलीगी जमात के मौलाना साद को क्राइम ब्रांच का नोटिस, पूछे गए 26 सवाल बिहार के सिविल सर्जन को 'झोला छाप डॉक्टरों' की ज़रूरत क्यों पड़ी? भारतीय इंजीनियरों का कायल हुआ अमेरिका, बनाया 60 गुना सस्ता वेंटिलेटर 'कोरोना का डर हमें अमानवीय बनाता जा रहा है': नज़रिया LIVE: तबलीगी जमात से जुड़े कोरोना के 647 केस आए सामने-स्वास्थ्य मंत्रालय आरोग्य संजीवनी में अब कोरोना का भी होगा इलाज, सरकार ने दी बड़ी राहत - Coronavirus AajTak CM केजरीवाल AAP विधायकों से बोले- दिल्ली में सबको मिले राशन