Jeevanmantra, Aaj Ka Jeevan Mantra By Pandit Vijayshankar Mehta, Life Management Tips İn Hindi, Story Of Lord Shiva, Vishnu And Brahma

Jeevanmantra, Aaj Ka Jeevan Mantra By Pandit Vijayshankar Mehta

आज का जीवन मंत्र: एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा करना ठीक है, लेकिन दूसरे को हराने के लिए गलत काम न करें

आज का जीवन मंत्र: एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा करना ठीक है, लेकिन दूसरे को हराने के लिए गलत काम न करें #JeevanMantra

23-07-2021 05:27:00

आज का जीवन मंत्र: एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा करना ठीक है, लेकिन दूसरे को हराने के लिए गलत काम न करें JeevanMantra

कहानी - शिवपुराण की कथा है। एक बार विष्णु जी विश्राम कर रहे थे, उस समय ब्रह्मा जी उनके पास पहुंचे। विष्णु जी को सोता हुआ देखकर ब्रह्मा जी को लगा कि ये मेरा अपमान है। | aaj ka jeevan mantra by pandit vijayshankar mehta , life management tips in hindi , story of lord shiva , vishnu and brahma

आज का जीवन मंत्र:एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा करना ठीक है, लेकिन दूसरे को हराने के लिए गलत काम न करें7 मिनट पहलेलेखक: पं. विजयशंकर मेहताकॉपी लिंककहानी -शिवपुराण की कथा है। एक बार विष्णु जी विश्राम कर रहे थे, उस समय ब्रह्मा जी उनके पास पहुंचे। विष्णु जी को सोता हुआ देखकर ब्रह्मा जी को लगा कि ये मेरा अपमान है।

ओवैसी ने कहा, तालिबान और कट्टरता पर क़दम उठाएं पीएम मोदी, सिर्फ़ बातों का कोई मोल नहीं - BBC Hindi अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए SCO में पीएम मोदी ने पाकिस्तान-चीन को दी 'अफगानी वैक्सीन', एक तीर से साधे कई निशाने

ब्रह्मा जी गुस्सा हो गए और उन्होंने विष्णु जी को भला-बुरा कहना शुरू कर दिया। विष्णु जी ने भी जवाब दिया। हम दोनों में कौन श्रेष्ठ है, इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद बहुत बढ़ गया। झगड़ा इतना बढ़ गया कि दोनों ने अपने-अपने शस्त्र निकाल लिए और युद्ध के हालात बन गए।

युद्ध आरंभ हुआ, दोनों ओर से ऐसे-ऐसे शस्त्र चलाए जा रहे थे कि अगर युद्ध चलता रहा तो ब्रह्मांड समाप्त हो जाएगा, ये सोचकर सभी देवता शिव जी के पास पहुंचे और कहा, 'इस युद्ध को खत्म कराएं।'शिव जी एक अग्नि स्तंभ के रूप में ब्रह्मा और विष्णु के बीच प्रकट हुए। अग्नि स्तंभ को देखकर दोनों ने युद्ध रोक दिया और सोचने लगे कि इसकी महिमा जानी जाए तो तय हो जाएगा कि कौन श्रेष्ठ है। headtopics.com

विष्णु जी ने शूकर यानी सूअर का शरीर लेकर उस अग्नि स्तंभ में नीचे से प्रवेश किया। ब्रह्मा जी हंस रूप लेकर ऊपर से प्रवेश कर गए। दोनों उस अग्नि स्तंभ में घूमते रहे, लेकिन उन्हें स्तंभ का ओर-छोर मालूम नहीं चला, उसकी महिमा नहीं जान पाए।स्तंभ के अंदर ब्रह्मा जी को केतकी नाम का एक फूल मिल गया। विष्णु जी स्तंभ से बाहर आ चुके थे। ब्रह्मा जी ने सोचा कि विष्णु हार गए हैं, पता नहीं लगा पाए, पता तो मैं भी नहीं लगा पाया हूं। ब्रह्मा जी ने केतकी पुष्प से कहा, 'जब हम बाहर निकलेंगे तो तुम मेरी ओर से ये सूचना देना कि मुझे इसका रहस्य मालूम हो गया।'

स्तंभ से बाहर निकलकर केतकी ने ऐसा कर दिया। उसी समय शिव जी वहां प्रकट हुए और उन्होंने ब्रह्मा से कहा, 'अपने आप को श्रेष्ठ साबित करने के लिए आपने झूठ का सहारा लिया है, अब आपकी कहीं पूजा नहीं होगी। विष्णु आप हर जगह पूजे जाएंगे, क्योंकि आपने सच का साथ दिया है।'

सीख -प्रतिस्पर्धा होना अच्छी बात है, लेकिन दूसरों को हराने के लिए गलत रास्ते का या झूठ का सहारा नहीं लेना चाहिए। झूठ एक दिन बुरे परिणाम देता ही है। और पढो: Dainik Bhaskar »

Delhi में बड़े Terror Module का पर्दाफाश, जांच एजेंसियों ने 6 को दबोचा, देखें स्पेशल रिपोर्ट

दिल्ली में पाकिस्तान की बड़ी साजिश का खुलासा करते हुए एजेंसी ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक इस पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करने वाले 6 लोगों में से दो ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग हासिल की थी. जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान द्वारा पोषित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में जांच एजेंसियों ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया है. पकड़े गए संदिग्ध भारत में इस आतंकी मॉड्यूल को ऑपरेट कर रहे थे. इन सभी से लगातार पूछताछ की जा रही है. एजेंसी का दावा है कि पकड़े गए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

Yahi seekh tumhare liye bhi he fakenewspaper Is khabar ke bare me kya kehna he...

‘प्रवासियों के औपचारिक समावेशन के लिए समाज, सरकार तथा बाजार को एक साथ होना होगा’द इंडियन एक्सप्रेस के डिप्टी एसोसिएट एडिटर उदित मिश्रा द्वारा संचालित आईई थिंक माइग्रेशन सीरीज के चौथे संस्करण में पैनलिस्टों ने चर्चा की थी कि क्यों लाखों प्रवासी कामगारों के विषय में राष्ट्रीय परिचर्चा बंद हो गई है और इसे बदलने के लिए क्या किया जा सकता है?

एक देश दो विधान वाले हालात: अदालतें हिंदू त्योहारों के प्रति एक रवैया अपनाती हैं और दूसरे त्योहारों के प्रति दूसरा?भाजपा को भी वोट हिंदू के नाम पर नहीं मिलता। उसे भी चुनावी बिसात पर जातियों का गणित बिठाना पड़ता है। धर्म आत्मा है और राजनीति शरीर यह बात जब तक सनातन धर्म को मानने वालों की समझ में नहीं आएगी तब तक वे पिटते और पिछड़ते रहेंगे। 23pradeepsingh BJP4India INCIndia बहुत मामले ऐसे होते हैं कि अगर उनमे सरकारें ही सूझ बूझ का परिचय दें तो फिर बात अदालतों तक नहीं जाए. ज़रूरी है सरकार सबकी भावनाओं का सम्मान करे. 23pradeepsingh BJP4India INCIndia कांग्रेस की देन है ये 23pradeepsingh BJP4India INCIndia This is why demand of one nation and one civil code becone important.

पुतिन ने अमेरिका को दिया करारा जवाब, पेश किया सुखोई चेकमेट फाइटर जेट, भारत को ऑफरदुनिया के हथियारों के बाजार में तेजी से पिछड़ रहे रूस ने अब अमेरिकी बादशाहत को चुनौती देने के लिए अपना सबसे घातक 'सुखोई चेकमेट' फाइटर जेट पेश किया है। पांचवीं पीढ़ी का यह सुखोई चेकमेट लड़ाकू विमान आकाश में अमेरिका के सबसे आधुनिक F-35 विमानों को टक्‍कर देगा। रूस का कहना है कि यह फाइटर जेट दुश्‍मन के अत्‍याधुनिक रेडॉर को चकमा देने में सक्षम है और सुपरसोनिक स्‍पीड से उड़ान भर सकता है। सुखोई चेकमेट की अहमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि खुद रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने MAKS-2021 एयर शो के दौरान इस घातक विमान का जायजा लिया। इस विमान को रूस की चर्चित कंपनी सुखोई ने बनाया है। यही नहीं रूस ने अपने भरोसेमंद दोस्‍त भारत को भी इस घातक विमान को बेचने का ऑफर दे डाला है। आइए जानते हैं कितना शक्तिशाली है रूस का यह नया हवाई योद्धा सुखोई चेकमेट....

MP में वैक्सीनेशन पर हाईकोर्ट का केंद्र को निर्देश: कहा- तीसरी लहर आने से पहले हर व्यक्ति को वैक्सीन का एक डोज जरूरी, इसलिए मप्र को हर महीने डेढ़ करोड़ डोज उपलब्ध कराएंMP हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश को हर महीने 1.50 करोड़ डोज उपलब्ध कराने के लिए कहा है। कोर्ट ने कहा कि सितंबर में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका है। इससे पहले हर नागरिकों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लगा दी जाए। इसके लिए MP को हर महीने 1.50 करोड़ डोज उपलब्ध कराई जाए। प्रदेश को अब तक वैक्सीन के 1.51 करोड़ डोज मिल चुके हैं। | MP High Court's instructions to the Center - Provide 1.50 crore doses of vaccine every month to MP, so that every citizen gets one dose before the third possible wave of corona in September

संघ प्रमुख का एक और विवादित बयान: भागवत ने कहा- 1930 से मुस्लिमों की आबादी बढ़ाई गई, क्योंकि भारत को पाकिस्तान बनाना था पर विभाजन हुआ16 दिन पहले भागवत ने कहा था- सभी भारतीयों का DNA एक है, चाहे वो किसी भी धर्म का हो,ओवैसी-दिग्विजय समेत कई विपक्ष नेताओं के निशाने पर आ गए थे संघ प्रमुख | Rashtriya Swayamsevak Sangh Mohan Bhagwat Hindu Muslim DNA Statement दो दिन के असम दौरे पर पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत ने अब मुस्लिमों और पाकिस्तान पर नया बयान दिया है। संघ प्रमुख ने कहा कि हिंदुस्तान में 1930 से योजनाबद्ध तरीके से मुस्लिमों की संख्या बढ़ाई गई। DrMohanBhagwat चर्चा मे रहने के लिये कुछ बयान देना पडता है. DrMohanBhagwat Ab ye kaise vivadit ho gya pattalkaro? DrMohanBhagwat ऐसे कई लोग ऊट-पटांग बयान देने के लिए ही तो रखे हुए हैं ताकि जनता असली मुद्दों से भटककर इनमें ही उलझी रहे। जयहिन्द

कोविड का ऐसा डर: आंध्र प्रदेश में पड़ोसी की संक्रमण से मौत हुई तो एक परिवार ने खुद को 15 महीनों तक घर में कैद कर लियाआंध्र प्रदेश के ईस्ट गोदावरी में अधिकारियों ने बुधवार को एक परिवार को रेस्क्यू किया है, जिसकी सेहत काफी खराब हालत में थी। कदाली गांव के इस परिवार ने कोरोना के डर से करीब 15 महीनों तक खुद को घर में कैद कर लिया था। कोई भी स्वास्थ्यकर्मी जब इनके घर पहुंचता था तो ये लोग जवाब नहीं देते थे। इस वजह से इनकी स्थिति का पता नहीं चल पाया। | Andhra Pradesh Latest News Update | Andhra Pradesh Police, COVID-19 Outbreak, Coronavirus Cases