आंबेडकर ज़िंदा होते तो उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक बता देती बीजेपी: महबूबा मुफ़्ती- आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने कहा है कि अगर आज डॉक्टर भीमराव आंबेडकर ज़िंदा होते तो बीजेपी उन्हें भी ‘पाकिस्तान समर्थक’ बता देती.

13-06-2021 19:23:00

मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर का कोविड-19 से निधन भारतीय वॉलीबॉल टीम की पूर्व कप्तान और मशहूर भारतीय एथलीट मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर का निधन हो गया है. वो कोरोना वायरस से संक्रमित थीं और मोहाली के एक निजी अस्पताल में भर्ती थीं.

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने कहा है कि अगर आज डॉक्टर भीमराव आंबेडकर ज़िंदा होते तो बीजेपी उन्हें भी ‘पाकिस्तान समर्थक’ बता देती.

13:07जॉर्ज फ़्लॉयड का वीडियो बनाने वाली 17 साल की लड़की, जिसे पुलित्ज़र अवॉर्ड मिलाFacebook/Michael Moore See LessCopyright: Facebook/Michael Moore See Lessद पुलित्ज़र प्राइज़ बोर्ड ने 18 वर्षीय डारनेला फ़्रेज़ियर को ‘स्पेशल जर्नलिज़्म अवॉर्ड’से सम्मानित किया है.

राकेश अस्‍थाना की दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर के रूप में नियुक्ति को SC में दी गई चुनौती, फैसले को रद्द करने की मांग मसीहा का जन्मदिन: चंद रुपए लेकर हीरो बनने पंजाब से मुंबई आए थे सोनू सूद, स्ट्रगल के दिनों में लोकल ट्रेन के धक्के खाते हुए महीनों तक किया रिजेक्शन का सामना टोक्यो ओलिंपिक LIVE: पीवी सिंधु मेडल से एक जीत दूर, क्वार्टर फाइनल में चौथी सीड जापानी खिलाड़ी को हराया; बॉक्सिंग में भारत का मेडल पक्का

उन्होंने एक गोरे पुलिस अफ़सर द्वारा काले अमेरिकी, जॉर्ज फ़्लॉयड की हत्या का वीडियो बनाया था जिसने ना सिर्फ़ जॉर्ड फ़्लॉयड को न्याय दिलवाया, बल्कि नस्लीय भेदभाव के ख़िलाफ़ एक बड़े आंदोलन को जन्म दिया.अब अमेरिकी फ़िल्मकार माइकल मूर ने डारनेला फ़्रेज़ियर की सराहना में एक फेसबुक पोस्ट लिखी है.

उनके फ़ेसबुक पोस्ट का सार कुछ इस तरह है:कल मिनियापोलिस की डारनेला फ़्रेज़ियर को पुलित्ज़र प्राइज़ साइटेशन से सम्मानित किया गया. वो कोई पेशेवर पत्रकार या लेखक या प्लेराइटर नहीं हैं.वो महज़ 18 साल की हैं जिन्होंने कल अपना पुलित्ज़र पुरस्कार लिया है क्योंकि उन्होंने पिछले साल 25 मई को जब वो 17 साल की थीं बहादुरी के साथ अपनी जेब से अपना स्मार्ट फ़ोन निकाला था और जॉर्ज फ़्लॉयड की हत्या करती हुई पुलिस का वीडियो बनाना शुरू कर दिया था. headtopics.com

इस एक काम, इस दर्दनाक फुटेज ने लाखों लोगों में विद्रोह को जगाया, जो इस देश के इतिहास में सबसे बड़ा और सबसे लंबे समय तक बिना रुके चलने वाला विरोध था. सैकड़ों दूसरे देश इसमें शामिल हुए.डारनेला ने अगर उस क्रूरता का वीडियो ना बनाया होता तो इस हद तक ये नहीं हो पाता.

अधिकारी डेरेक शॉविन जॉर्ज फ़्लॉयड को धीरे-धीरे प्रताड़ित करते और मारते हुए उनके लेंस में देख रहे थे और घूर रहे थे पर भी उन्होंने ये वीडियो इतने संतुलन और स्थिरता के साथ बनाया.उन्होंने डारनेला को बुरे, क्रूर इरादों के साथ देखा, वो हाव-भाव जिन्होंने कहा,"अगली तुम हो." लेकिन, फिर भी वो आठ मिनट 46 सेकंड तक वीडियो बनाती रहीं. जिस दुनिया में हम रहते हैं उन्होंने उसे बदल दिया.

एक कैमरे से. जैसे कि मैंने पहले भी यहां कहा है कि डारनेला ने दशकों में अब तक की सबसे महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट्री बनाई है और एक अकेडमी सदस्य के तौर पर मैंने उन्हें इस साल के ऑस्कर में सम्मानित करने के लिए कहा था. ऐसा नहीं हुआ लेकिन पुलित्ज़र समिति ने उन्हें सम्मानित करने के लिए बिल्कुल सही पाया.

समिति ने यह बताया कि हां, एक सामान्य नागरिक, एक किशोर बिना किसी पेशेवर प्रशिक्षण या अनुभव के ऐसा महत्वपूर्ण गैर-काल्पनिक वीडियो बना सकती है जिसे दुनिया ने शायद ही कभी देखा हो.मेरा मानना है कि यह पहला पुलित्ज़र है जो किसी ऐसे व्यक्ति को दिया गया है जिनकी पत्रकारिता शब्दों से नहीं बल्कि चलायमान तस्वीरों से थी. headtopics.com

पीवी सिंधु सेमीफ़ाइनल में, पदक के और करीब पहुँचीं - BBC Hindi Tokyo Olympic 2020 Live: पीवी सिंधु दो रैकिंग बेहतर यामागुची को सीधे गेमों में हराकर सेमीफाइनल में तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन काबुल एयरपोर्ट क्यों चाहते हैं? - BBC News हिंदी

मुझे यकीन है कि आप में से बहुत से लोग इस बात से सहमत हैं कि अब हमारे पास युवाओं की एक ऐसी पीढ़ी है जो बुद्धिमान है, जोशीली है और उस बिखरी हुई दुनिया को लेकर जागरुक है जो हमने उन्हें दी है.हम खुशकिस्मत हैं कि वो और उनकी काबिलियत हमारे पास है और जिस तरह से वो खुले दिल से चीज़ों को देखते हैं और उन्हें ठीक करने के लिए गंभीर प्रतिबद्धता रखते हैं जो हमारे अंदर नहीं है.

मैं बहुत उम्मीद से भर जाता हूं जब ये देखता हूं कि हमारे पास मौजूद लाखों डारनेल वयस्क दुनिया में कदम रख रही हैं.शुक्रिया डारनेल, हम सभी को प्रेरणा देने के लिए. और पढो: BBC News Hindi »

वारदात: Dhanbad के जज की मौत के पीछे का असली सच! देखें

धनबाद में जज उत्तम आनंद की मौत के पीछे अब भी कई सवाल घूम रहे हैं. ये मौत वाकई एक हादसा था या हत्या? इस वीडियो में तस्वीर दिखा रही है कि एक शख्स सड़क के बिल्कुल बायीं ओर जॉगिंग कर रहा है. तभी अचानक पीछे से एक टेंपो आता है और जॉगिंग कर रहे शख्स को धक्का मार कर आगे बढ़ जाता है. पहली नज़र में यही गुमान होता है कि सड़क हादसे का एक मामला है. मगर इससे पहले कि आप किसी नतीजे पर पहुंचे, इसी सीसीटीवी तस्वीर की हर फ्रेम को अब गौर से देखिएगा. इसलिए कि इसी तस्वीर का जो बारीक पहलू है उसके बाद पूरा केस ही पलट जाएगा. इस केस की फॉरेंसिक जांच भी हो रही है. इस मामले में आज रांची हाईकोर्ट ने स्वत: संज्ञान लेते हुए सुनवाई की है. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अदालत ने झारखंड के डीजीपी और धनबाद के एसएसपी से जवाब तलब किया है. इस मामले में चीफ जस्टिस की बेंच ने डीजीपी से कहा कि अगर पुलिस जांच करने में विफल रहती है तो यह मामला सीबीआई को जा सकता है. देखें वारदात का ये एपिसोड.

मैडम जी अगर अम्बेडकर की चलती तो कशमीर को स्पेशल स्टेटस मिलता हि नही और पाकिस्तान के साथ कोइ इसू हि नहीं होता पेट्रोल प्राइस घरेलू सिलेंडर सरसों का तेल मॉब लिंचिंग भ्रष्टाचार आंखों के सामने होते हुए अत्याचार भारत में इतना सब कुछ हो रहा है इन हरामियों अंध भक्तों को क्या दिखाई नहीं देता Mehbooba doesn't have any ethics or any aim in life she only wants to vent her frustration nothing else...

शायद उनको पता नही कि अम्बेडकर जी की सोच और उनका सिद्धांत क्या था। अंबेडकर के वंशज देख लो क्या कर रहे है। पाकिस्तान के नाम पर कयी पीढ़ी मलाई खाई, बंद होने के बाद अम्बेडकर की याद आ रही है|| हां अंबेडकर को अब तक अंटीनेशनल और अर्बन नक्सल भी भाजपा बना देती।

UNDP की रिपोर्ट में भारत की ADP योजना की तारीफ, PM मोदी ने जताई खुशीपीएम मोदी ने साथ ही इस बात पर खुशी जाहिर की है कि संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने ADP की मुख्य विशेषताओं को रेखांकित किया है. बताते चलें कि संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि ‘आकांक्षी जिला कार्यक्रम’ (ADP) ने कई जिलों में तेजी से विकास का काम किया है. Modiji ko bolo filme main acting karne Badhai देश इतनी त्रासदी से गुजर रहा है तो आपके खुश होने की कोई वजह नहीं है।

. प्रत्यक्ष को प्रमाण की आवश्यकता नहीं होती मन्दिर निर्माण का सबसे पहला कार्य जमीन की खरीददारी ही थी । चम्पत राय ने प्रथम काज में ही घोटाला कर दिया । हजारों करोड़ रुपये से होने वाले निर्माण में क्या होगा .....? RamMandirScam Ambedkar ne toh article 370 lagane ko Mana Kia tha. Aur SC ko kitna aarakshan milta tha Kashmir me ye batao

🤔😋😇 अंबेडकर ने आपको बोला था की 370 लगा रहेगा पर आप भारत को बेवकूफ बनाकर अपनी राजशाही चलाती रहो बारी बारी से उमर अब्दुल्ला के परिवार से एक बार एक सभा मे सुभाषचंद्र बोस अपनी बात रख रहे थे,तभी पीछे से 2 गधे ज़ोर से चिल्लाने लगे,लोग सभा को छोड़ कर गधो को देखने लगे, तब सुभाष चंद्र बोस ने कहा कि जिस देश की जनता इतनी मूर्ख हो,उसका गुलाम बनना स्वाभाविक ही है।।

वक्त वक्त से जुड़ते गए .. हर क्षण में स्थिति से.. विकल्प मिलते गए..🎭

पुतिन की चेतावनी के बावजूद अमेरिका ने की यूक्रेन की मदद - BBC News हिंदीअमेरिका ने यूक्रेन के लिए नये सैन्य सहायता पैकेज की घोषणा की. ये मदद ऐसे समय में की गई है, जब रूस और यूक्रेन के बीच तनाव बढ़ रहा है. पुतिन कुछ नहीं कर सकता सिर्फ रेड कार्पेट पर चलने के सिवा Both are adamant 😢 मानवता का सार है ... मन में मानव भाव का प्रमाण है ... हम हैं सबके.. फिर किस भाव में संघर्ष ज्ञात है..🎭

PG फाइनल ईयर की परीक्षा रद्द करने की मांग खारिज: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- जिन डाॅक्टरों ने परीक्षा पास नहीं की, उनके हाथों में मरीजों की जान कैसे सौंप सकते हैंदेशभर में पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल की फाइनल परीक्षा को रद्द करने की मांग सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है। सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस एमआर शाह की पीठ ने कहा कि वे परीक्षा रद्द करने का आदेश जारी नहीं कर सकते, क्योंकि यह एक शैक्षिक नीति का मामला है। पीठ ने सुनवाई के दौरान पूछा,‘वे मरीजों का इलाज करेंगे। वैसे भी जिन डाॅक्टरों ने परीक्षा नहीं दी, उनके हाथों में मरीजों की जान कैसे सौंप... | The Supreme Court said that the doctors who did not pass the examination, how can they hand over the lives of patients pawan2 Rajsthan state open board ke bacho ke bare me bhi sochlo koi 🙏 ya is bar bhi hamara 1 saal kharab karke manoge ashokgehlot51 GovindDotasra shiksha_vibhag1 rbseboard RbseAjmer pawan2 आज कॉलेज का छात्र असमंजस की स्थिति में है अतः आप से निवेदन है कि यूनिवर्सिटी केे 1st और 2nd इयर केे छात्रों को प्रमोट करे एवं अंतिम वर्ष की परीक्षाएं ओपन_बुक से करवायी जाये। canceluniversityexams ashokgehlot51 GovindDotasra BSBhatiInc pawan2 Ye tab kyu ni socha jab corona me sab ko laga rakha tha .....jo Dr final year paas ni thr

अमेरिका के एफडीए ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल की मंज़ूरी नहीं दीअमेरिकी खाद्य एवं दवा नियामक (एफडीए) ने भारत बायोटेक के अमेरिकी साझेदार ओक्यूजेन इंक को सलाह दी है कि वह भारतीय वैक्सीन के इस्तेमाल की मंज़ूरी हासिल करने के लिए अतिरिक्त आंकड़ों के साथ जैविक लाइसेंस आवेदन (बीएलए) पाने के लिए अनुरोध करे. ऐसे में कोवैक्सीन को अमेरिकी मंज़ूरी मिलने में थोड़ा और वक़्त लग सकता है. Achha hua माफीनामा ------- सियासत में माफी मांगने और माफी देने के बीच कैसा सद्भाव होता है, यह सोचने की बात है। ----

असम के मुख्यमंत्री की अल्पसंख्यकों के उचित परिवार नियोजन की टिप्पणी गुमराह करने वाली: विपक्षराज्य के तीन ज़िलों में अतिक्रमित भूमि से कई परिवारों को हाल में हटाए जाने का संदर्भ देते हुए मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा शर्मा ने अल्पसंख्यक समुदाय से परिवार नियोजन अपनाने की अपील की थी. विपक्षी कांग्रेस, एआईयूडीएफ तथा अल्पसंख्यक छात्र निकाय ने इस बयान को दुर्भाग्यपूर्ण, तुच्छ व भ्रामक क़रार दिया है. टिप्पणी उचित ही है। Islam woh paudha hai, jitna bhi tarsogey utna hi yeh panpaiga

कोरोना की दूसरी लहर में 719 चिकित्सकों की गई जान, बिहार ने खोए सबसे ज्यादा डॉक्टरआईएमए के मुताबिक कोरोना की दूसरी लहर में देशभर के 719 डॉक्टर्स की मौत हुई है. इन 719 में 111 डॉक्टर्स अकेले बिहार के हैं. दिल्ली में 109, यूपी में 79, पश्चिम बंगाल में 63 और राजस्थान में 43 चिकित्सकों की मौत हुई है. snehamordani IMA को एक आंकड़ा येभी जारी करना चाहिए के कितने हस्पतालों ने ओर कितने डाक्टरों ने बीस लाख से ज्यादा के बिल कोरॉना मरीजों से वसूले ओर उन मरीजों में से कितने जिंदा बचे।