अहमदाबाद से बिहार लौटी महिला की मौत, वजह पता नहीं

अहमदाबाद से बिहार लौटी महिला की मौत भूख से नहीं, रेल ने कहा बीमार थीं, परिवार का दावा कोई बीमारी नहीं

27-05-2020 17:38:00

अहमदाबाद से बिहार लौटी महिला की मौत भूख से नहीं, रेल ने कहा बीमार थीं, परिवार का दावा कोई बीमारी नहीं

कोरोना में प्रवासी मज़दूरों का अपने अपने राज्यों में लौटने का सिलसिला जारी है, इसी सिलसिले में बिहार लौटी एक महिला की रेलवे स्टेशन पर मौत.

शेयर पैनल को बंद करेंइमेज कॉपीरइटPANKAJ KUMAR/BBCमुज़फ़्फ़रपुर रेलवे स्टेशन का एक वीडियो बुधवार को दिन भर वायरल रहा.वीडियो में एक मृत महिला का शव पड़ा दिख रहा है और दो साल का बच्चा उस मृत शरीर पर पड़ा कपड़ा हटा कर उससे खेल रहा है.इसके बाद सोशल मीडिया पर यह वीडियो पूरे दिन कई बार शेयर किया गया और लोगों के कमेंट्स आते रहे.

Amitabh Bachchan Covid 19 Positive: अमिताभ बच्चन को कोरोना, मुंबई के नानावटी अस्पताल में किया गया एडमिट अमिताभ बच्चन कोरोना पॉज़िटिव पाए गए, अस्पताल में हुए भर्ती अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन कोरोना पॉज़िटिव पाए गए

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में श्रमिकों की होती मौत के बीच वायरल होते इस वीडियो पर कयास लगाए जाते रहे कि महिला की मौत भूख से हुई होगी.इस बीच बीबीसी भी इस महिला से जुड़े तथ्यों की तस्दीक करने की कोशिश में जुटा रहा.बीबीसी ने मृत महिला के रिश्तेदार वज़ीर आजम जो उनके साथ ट्रेन में यात्रा कर रहे थे, उनसे बात की.

वज़ीर आजम ने बताया कि ट्रेन में खाने पीने की कोई दिक्कत नहीं थी. ट्रेन में खाना सिर्फ़ एक वक्त मिला था लेकिन पानी, बिस्कुट और चिप्स बार बार मिले. हालांकि पानी इतना गर्म था कि उन्होंने दो तीन बार पानी की बोतल ख़रीद कर पी.इमेज कॉपीरइटTwitterवज़ीर के साथ उनकी साली यानी 23 साल की मृतका अबरीना ख़ातून, वज़ीर की पत्नी कोहिनूर, अबरीना के दो बच्चे ( दो और पांच साल के अरमान और रहमत) और वज़ीर- कोहिनूर का एक बच्चा यात्रा कर रहे थे.

अहमदाबाद में मज़दूरी करने वाले वज़ीर ने बीबीसी को बताया कि अबरीना और उनके पति इसराम का एक साल पहले तलाक़ हो चुका है.उन्होंने ही बताया कि अबरीना की मौत तो ट्रेन में ही हो गई थी.वहीं मुज़फ़्फ़रपुर के डीपीआरओ कमल सिंह ने बीबीसी को बताया कि महिला की मौत के बाद उनके शव को एम्बुलेंस से कटिहार भेज दिया गया था. हालांकि महिला के पोस्टमार्टम के सवाल पर उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम की ज़रूरत नहीं थी क्योंकि महिला की बीमारी से मौत हुई थी.

इस वीडियो को देखिएऔर सर झुका लीजिए और पढो: BBC News Hindi »

बेहद दुखद घटना है ये ye sarkar our railway apni nakami chupane ke liye garibo ko bimari ka bahana batha rahi hai kithne sharam ki bath hai jo railway chala raha hai vo ek no ka zutha admi hai nikamma hai Jb bimar thi to ilaz kyon nhi kiya gya use safar m kaise jane diya gya ? Bjp सरकार को दस हाथ रखने चाहिए।50 आंखे।ये शांति दूतों को सिर्फ फोकट का चाहिए । और सरकार को शिकायत करते रहेंगे।

रेलवे ये भी तो बताए 2 दिन की जगह 9 दिनों में क्यों पहुंच रही हैं ट्रेनें.....? महामहिम_राष्ट्रपति महोदय हमupके 25000 मदरसा_आधुनिकीकरण शिक्षकोंके2016से HRD मंत्रालय नेकेन्द्रांश नहींदियाहै इसकोरोनासंकट में हमारापरिवार भूखोंमर रहाहैंअतःहम सहपरिवार आपसे इच्छामृत्यु कीमांग करतेहै rashtrapatibhvn myogiadityanath HRDMinistry narendramodi yaserjilani

जब उस महिला की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई ही नहीं तब किस आधार पर यह कहा कि इस महिला की मौत बीमारी की वजह से हुई है यह सब घटनाएं इस बात का सबूत है की सरकार द्वारा की जाने वाली व्यवस्थाएं पर्याप्त नहीं है तथा इनमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है यदि किसी एक समुदाय के साथ अति उदारतावादी व्यवहार करोगे तो दूसरे समुदाय के साथ अन्याय जरूर करोगे,इसका प्रत्यक्ष उदाहरण आर्टिकल 30 जो हिंदूओं के अधिकार का हनन कर रहा है! अतः सरकार से हमारी मांग आर्टिकल_30_हटाओ

बीबीसी को होती है निर्णय करने वाली लो अब मज़दूर हमदर्दों को रेल भी दुश्मन लगने लगी। रेल का काम इधर उधर पहुंचना है ना कि श्रमिकों की सेवा करना। इतने नवाब अगर वो है तो सब कुछ दूसरे से उम्मीद क्यों रख रहे है। बात तो ऐसे करते है जैसे आज तक कोई मज़दूर मरा नहीं। All future deaths in this country will be counted in corona death

Musalman bhuka nahi mar sakta.. रेलवे लीपापोती में लगा है जबसे श्रमिक ट्रेन चली है 40 से ज्यादा ट्रेन रास्ता भटक चुकी है 2 दिन का सफर आठ नों दिन तय कर रही है ओर यात्रियों को 60 घण्टे बाद खाना मिल रहा है किसी जिम्मेदारी है सरकार की या जनता की Doob maro, apni galti chupane k liye ilzam uspar laga rahe (jo mar gaya) ki wo apni bimari se mara, na ki bhook se, in logo ki nazar me koi bhi bhooka nahe mara, sab apni bimari ya apni galti se mare

Kehnewale kuchh bhi keh dete apni karni nhi dekhte JB kedarnath m badh aae thi tb jinko bhi muaabja chahiye tha wo pahuch Gaye wo bhale kisi bhi dharam k then Jo baad m khulasa hua aise m log kehte sarkar gaddari karti . Sarkar sirf apne hisse ka kaam karegi aapke hisse ka nhi. Kuchh logon ko to samajh m nhi aata ki ek din bhukhe rehne se koe nhi Marta inshan mahine bhar bhukhe rehne se kamjor hote hai fir dhire dhire maut k karib jate Hain. Yahan to bs y dekhna hai Kahan p governing party ko girana hai uski yojna banayen. Dukh ki baat hai ye.

कोई जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं क्यों कि गरीब आम लोग हैं सिर्फ इनके वोट से मतलब है उस रडंवे का statement अच्छी तरह से सुन BBC या bossDk,bhondu chutiye समझा.. ग़लत खबर वालों को भी parmanent block करना ही होगा... वन्दे मातरम् 9 migrants found dead in Shramik Special trains since Monday: Officials Us mahila ki bhook se hi mot hui hai

Bahut duk ki bat hei ग़रीबी ना मिट सकी तो गरीबों को मिटा दिया, Did RailMinIndia supply food & water to the poor labourers in the train. If not, their claim is height of impudence. khanumarfa क्या ख़्वाब ले हम इन शहरों में आये थे, खुद को समझते इश्वर का शरमाया थे।। आज जाना! हम आज भी कीड़े मकोड़े है, हम कल भी कीड़े मकोड़े थे। हमारे लिए नही पसीजता किसी का दिल, हमारे लिए नही है इंसान होने का ओहदा। मर जाय,मिट जाय पर नही फटता, हमारे लिए धरती का कलेजा।

Modi government failed. इतने बिमार लोग कि मर जाये कब से सफर करने लगे दो चार दिन भूखे रहने से कोई नही मर सकता आजमा के देख लीजिये ह कुछ कमजोड़ जरूर हो जायेगा बीमारी थी या नहीं इसमें झगड़ा करने की क्या जरूरत है मेडिकल जांच करा लीजिए हो सकता है मुआवजा ना देना पड़े इसके लिए रेलवे बचाव कर रहा हो Passenger ka test nahi huwa tha keya

गाड़ी में खाने पीने की कोई व्यवस्था नहीं।ऐसी लापरवाह, गैरजिम्मेदार, संवेदनहीन, वेशर्म रेल विभाग।शायद वेमिशाल Shame on you RailMinIndia Jab train 27 ghante ki 5 din lagate Hain to marna to taye h garmi ki siddat plus bhkh plus piyas or Train late fir bhi Marne k Karan puchhte Hain ShushilSinghAap AAPBihar नेतृत्व अगर झूठ और फरेब पे आमादा हो जाए तो रेलवे का अनुक्रम भी उसी का अनुसरण करेगा। ऊपर से लेकर नीचे तक सभी झूठ बोलते नजर आयेंगे।किसी को भी गरीब मजदूरों की पीड़ा क्यों नहीं नजर आ रही है। रेल मंत्री और आला अधिकारियों पर क्रिमिनल केस होना चाहिए।

That is not correct.... Nitish Kumar or Vijay rupani ko sharm karni chaiye majduro ki hai lagengi India yad rakhenga a sub.. RajeshR71176567 कैसे पता होगी जांच होगी जभी तो ना गरीब है ना कोई नहीं देख सकता नर्क बना दिया हिंदुस्तान को इन लोगों की बद्दुआ जरूर लगेगी जो हुक्मरान कुर्सियों पर बैठे पड़े हैं और जो पहले कहते थे हम तो हिंदुस्तान को बर्बाद नहीं होने देंगे अभी जो बांग्लादेश पाकिस्तान से आएंगे उनका क्या होगा

Railway के अधिकारी, केंद्र सरकार की जुबान बोल रहे हैं। हद होती है दोगली राजनीति की। शर्म करो ss366£&_?%%, पूरा हिनदुस्तान देख रहा है। Ab rail khud bata degi koi bimar he ya nahi to sach me maza aa jayega Always Respect for RSS. यही तो सभी जानते थे कि यही होगा। कोई भूख से मर रहा है कोई पैदल चल कर मर रहा है और सरकार के आंखों पर लगा चश्मा बीमारी बताता है

परिवार वाले ज्यादा बेहतर जानते हैं कोई भी परिवार दुख और दर्द के समय झूठ नहीं बोलता दिल में जब किसी अपने के खोने का दर्द हो तो उस दिल से झूठ कभी निकलेगा ही नहीं सिर्फ सच ही सच निकलेगा रेल मंत्रालय अपनी मनगढ़ंत कहानियां बनाना बंद करें और अपनी नाकामियां स्वीकार करे रेलवे को आज कल कुछ नहीं दीखता हैं बस इनको पैसा चाहिए.

Nowadays. all people of India is lying. all authority's and stakeholders are saying that this is true. Trying to ply railway. Why not to provide basic needs like waters, foods and all necessary things.? This is common things . abandoned by respected Govt.? यदि बीमार थी तो ट्रेन मे क्यों बैठने दिया ? Rly station मे अन्दर आने पर डाक्टर द्वारा प्रत्येक यात्री की जॉच करता है। Who is responsible ? punish him/them either Rlys or Doctor

सच्चाई को छुपाने से नहीं छुपेगा अगर महिला बिमार थी तो स्टेशन पर जांच करने बाला को क्यों नहीं पता चला कि ये महिला बीमार है उसको स्वास्थ सेवा उपलब्ध कराना railway का जिम्मेदारी है रेलवे कब से डॉक्टरी करने लगा? Aankhe bandh karke humare pm sutta maar rahe hain aur keh rahe hain All is well क्या कोई पत्रकार है जो न्यूज़ डिबेट में सरकार से पूछ सके कि प्रतिदिन होने वाली 'कोरोना टेस्ट' (परीक्षण) की संख्या क्यों नही बताई जा रही है? प्रतिदिन कोरोना संक्रमित मरीजो की संख्या बताई जा सकती है तो कोरोना टेस्ट की संख्या क्यों नही? देश को TESTING के आंकड़े जानना बहुत जरूरी है

Bhook se koi itni jaldi nahi marta. Sharir asthi panjar bn jata hai mrne se pehle Welcome to LIAR world, is 3 after AAP & MuslimSena. यह रेलवे और सरकार की नाकामी है। मंत्री जी यदि रेलवे जिम्मेदारी न ले तो कम से कम ऐसा शर्मनाक बयान तो न दे। PiyushGoyal / भूख से मरी या बिमारी से, उसके निरीह बच्चों को RailMinIndia RailwaySeva को गोद लेकर एक बेहतर राष्ट्रीय मैसेज दे देना चाहिए PiyushGoyalOffc.

कैसे लोग है सिस्टम में भूख से तो कोई नहीं मरेगा आज के टाइम,बहुत लोग है पैसा नहीं देते है पर अच्छी से अच्छी चीज खिला देते है,आज जो बोलता है कि भुक से मर गया वो सरासर झूट बोलता है Jee haan usko bhookh aur pyaas ki bimari thi jo ke har ek admi ko hoti hei... मौत पर राजनीति!! अत्यंत दुखद 😢😩 रेलवे वाला कया बताऐगा जिसको पता ही नहीं की रेलगाडी कहाँ और किधर जाऐगी वह बता दिया रहे हैं कि भूख से नहीं बिमारी से मरा थोड़ा शर्म करो रेलवे वाले

अलीगढ़ खेडा बूजूर्ग गांव के शर्मा परीवार वाले राहूल शर्मा नवीन शर्मा गैरी शर्मा जयप्रकाश शर्मा हम बच्चो की जिंदगी बरबाद कर रहे है हम बच्चो से हमारी मंमि को छिना है हमारी मंमि को वापस भेज दिजीयेplz अब रेलवे वाले इतने भी बेवकूफ नहीं हैं कि खुद कबूल कर लें!!! RailMinIndia RailwaySeva Central_Railway SWRRLY IRCTCofficial

एक या दो दिन की रेल यात्रा में कोई भी भूख से नही मर सकता। alpharay63 एक तो ये चादर्मोद एक्सेप्ट b नई करते की गलती हुई भी है 😡😡😡 पति बहन और 1200 यात्री भूख से न मरे, न ही किसी ने पानी दिय्या काहे मौतों का बाजार बना रहे हो अगर ये महिला बीमार थी तब भी जिम्मेदारी तो रेलवे की ही बनती है इलाज करवाने की, रेलवे पल्ला नहीँ झाड़ सकती ऐसे

Jago indian Desh ke liye kuch jimmedari se bhag nhi sakte ab hum Log !jati dharm se brainwash janta Ko gumrah kar &Political dangal Fund Andar kar Sab ok kaho! Please Speakup for indian Labour's 🙏!20Lakh crore package !shame on u Sarkaar⚖️ 💔Savendnayain mar chuki kya humari. भारतीय झूठा पार्टी, शर्म करो झूठ की राजनीति नहीं चलेगी और पीड़ित को सहायता के साथ साथ दोषी पे कारवाई होना चाहिए! भाजपा_का_सफेद_झूठ

Railway ne kaha bimar thi to bimar thii. रेलवे विभाग सही कह रहा है बीमारी से ही मिली है सबसे बड़ी बीमारी ही भूख है साहब और क्या कहेगी सरकार बीमार थी तो स्टेशन पर जाँच मे ठीक क्यो निकली देश में कुछ बदला नहीं है। अव्यवस्था, भूख, बदहाली, लापरवाही बदस्तूर जारी है। अब नेता लोग बहस कर कर के मुद्दे को भटकाने में संलग्न हो जाएंगे।

Ab Railways kisi person ko uski family sa jyada janta ha👏👏👏👏 मोदी जी के गुजरात से सुशासन बाबू के बिहार के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन से निकली एक ग़रीब महिला अपने घर मुजफ्फरपुर पहुंचने से पहले भूख से दम तोड़ देती है, उसके मासूम बच्चे उसे उठाने की कोशिश करते हैं पर वह नहीं उठती! इस भ्रष्ट सरकार की आँख का पानी सूख चुका है! - शर्म करो मोदी जी!

PTI_News कितनी सत्यता हैं इस ख़बर में ? Hahaha. Indian railway 😡😡😡😡 Jo majdoor bhai ko apne state me chal ke jaa skte he Wo log NRC lagu karege pure India me इनको तो शर्म आती नहीं , कुछ भी बोलेंगे SharmKaro SharmKaro अफवाह फैलाना बंद करो बे भूखा व्यक्ति बीमार ही होगा। Zee tv wala kaha hai bhai Topic ko abhi tak dikhaya nahi usne

रेलवे लीपा पोती कर के जवाब देने से भागना चाहता है! जो भी जिम्मेदार है हत्या का केस होना चाहिए!! और रेल मंत्री जी केवल टवीट के बजाए काम भी किया कीजिये!! Can you not share this story with BBCWorld and let the workd see this. Bjb walo abh tho sudar jao besharmo ... Shame on bjb rail ka chela jhut bolne se pehle kuch sharm kar

बीमार मीडिया और मोदी सरकार है जिस देश की जनता अपने ऊपर हुए वर्ण व्यवस्था के अत्याचारों को जानती है इतिहास अधिकार जानती है न्याय शिक्षा सुरक्षा समानता प्राप्त करने के लिए लड़ना जानती है वर्ण और जाति व्यवस्था के भेदभाव के खिलाफ लड़ना जानती है उस देश की 'जनता अपना भविष्य और इतिहास बनाना भी जानती है

अयोध्या: दिल्ली से लौटी महिला को बगीचे में किया था क्वारनटीन, अब कोरोना पॉजिटिव आई रिपोर्टअयोध्या लौटी एक महिला को गांव वालों ने बगीचे में क्वारनटीन किया था, लेकिन अब जब उसका टेस्ट करवाया गया तो रिपोर्ट कोरोना वायरस पॉजिटिव आई है. CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI CBI_जांच_विष्णुदत्त_CI abhishek6164 Sirohi माउंट आबू , डीएफओ तीन से चार व्यक्तियों के समूह में आकर सन्त समाज को दी खुले आम धमकी कहा माउंट के पहाड़ो में एक भी मंदिर नहीं रहने दूँगा,साथ ही झूठे मुकदमे,समय पर डीएफओ पर कार्यवाही न होने पर सन्त समाज नराज abhishek6164 महाराष्ट्र में कहां क्वारिंटाइन किया जा रहा है 'आज तक' को दिखाई नहीं देता सबको यूपी की फ़िक्र है kiyoki योगी अच्छा काम कर रहे है।

इंदौर में 300 साल में पहली बार ईदगाह में नहीं पढ़ी जा सकी ईद की नमाजदेश में कोविड-19 के प्रसार का बड़ा केंद्र बने इंदौर में सोमवार को ईद-उल-फितर का त्योहारी उल्लास घरों में सिमट गया। Well-done 🤝🤝🤝 Mtlb 1947 48 me bhi padhi gyi thi इसमें इतना कष्ट क्यों भाई महामारी में तो सबको सकारात्मक होना चाहिए! फिर इस बात का मलाल क्यों क्या साबित करना चाहते हो आप मिडिया वाले जहां और जिस बात को दिखाना ल बताना चाहिए वहां आप की चुप्पी की किमत लग जाती है! VIRENINFRA drneeraj13 ChouhanShivraj

बिहार में डाक विभाग लोगों के दरवाजों तक पहुंचाएगा ‘शाही लीची’ और ‘जर्दालु आम’बिहार में डाक विभाग लोगों के दरवाजों तक पहुंचाएगा ‘शाही लीची’ और ‘जर्दालु आम’ IndiaPostOffice NitishKumar IndianPostalService Shahilichi ZardaluAam IndiaPostOffice NitishKumar फ्री में क्या

बिहार: प्याज पर कोरोना की मार, खेतों में उपज छोड़ने को मजबूर किसानबिहार में 57 लाख हेक्टेयर खेत में प्याज की खेती होती है और इनमें 13 लाख टन प्याज का उत्पादन होता है. मूलतः नालंदा और पटना के किसान प्याज उत्पादक हैं. बिहार के प्याज को उच्च कोटि का माना जाता है. इन प्याजों की ज्यादातर खपत बंगाल, असम के साथ-साथ बांग्लादेश में होती है. sujjha Kio NAA log 10rs minimum price maan5-10kg per family jarur khareed lein chorey kisano kaa pyaaj directly unsey.bade kissan tau store Kar leingey. sujjha Locust attack will add on to this issue. We are clearly ill prepared sujjha महँगाई हो तो तैबा सस्ती तो तैबा ये प्याज़ है महँगी हो तो ग्राहक रोये😢 ये प्याज़ है सस्ती हो तो किसान रोये😢

बिहार: गोपालगंज ट्रिपल मर्डर केस में जेडीयू विधायक पर पुलिस ने कसा शिकंजा, भाई-भतीजा गिरफ्तारबिहार: गोपालगंज ट्रिपल मर्डर केस में जेडीयू विधायक पर पुलिस ने कसा शिकंजा, भाई-भतीजा गिरफ्तार Bihar NitishKumar SushilModi yadavtejashwi NitishKumar SushilModi yadavtejashwi ED and vigilance enquiry shall also be ordered in his illegal wealth from extortions and ransom...

फैक्ट चेक: पारिवारिक विवाद में हुई महिला की पिटाई, वीडियो सांप्रदायिक रंग देकर वायरलइंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है. यह घटना उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में एक पारिवारिक विवाद से जुड़ी है और सांप्रदायिक नहीं है. पुलिस ने स्पष्ट किया है कि पीड़ित और आरोपी दोनों हिंदू हैं और एक ही परिवार से हैं. arjundeodia बस केजरीवाल के विज्ञापन ही सही है।।।। arjundeodia I was that keyword who exposed this alikeskin_tr on the same day he posted this fake video .....his account should be banned.... arjundeodia IndiaToday should appeal the Twitter to Ban this guy...

विकास दुबे: 'मुठभेड़' में इतने इत्तेफ़ाक़! ऐसा कैसे? विकास दुबे 'मुठभेड़': उत्तर प्रदेश पुलिस की 'ठोक देंगे' परंपरा में क़ानून की जगह कहाँ है? कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश PM CARES फंड की जांच नहीं करेगी लोक लेखा समिति, BJP ने रोका रास्ता नेपाल के पीएम ओली को विलेन बनाकर भारतीय मीडिया बड़ी भूल कर रहा है? न टायरों के निशान-न शीशों को नुकसान... कैसे पलटी विकास दुबे की गाड़ी? हागिया सोफ़िया म्यूज़ियम को मस्जिद बनाने का रास्ता साफ़, कोर्ट का आया फ़ैसला कानपुर 'मुठभेड़' या हैदराबाद 'एनकाउंटर': सड़क पर इंसाफ़, जश्न और वही सवाल पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ानों पर अमरीका ने लगाई रोक VIDEO: आजतक की टीम से STF की बदसलूकी, कार से निकालकर फेंकी चाबी चीनी राजदूत ने कहा, भारत ऐसा कोई क़दम न उठाए जिससे उसे ही नुक़सान हो