Covid 19, Assam, Boardexams, Supremecourt, Education, कोविड19, असम, बोर्डपरीक्षाएं, सुप्रीमकोर्ट, शिक्षा

Covid 19, Assam

असम: छात्रों ने शीर्ष न्यायालय से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का अनुरोध किया

असम: छात्रों ने शीर्ष न्यायालय से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का अनुरोध किया #Covid19 #Assam #BoardExams #SupremeCourt #Education #कोविड19 #असम #बोर्डपरीक्षाएं #सुप्रीमकोर्ट #शिक्षा

15-06-2021 23:30:00

असम : छात्रों ने शीर्ष न्यायालय से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का अनुरोध किया Covid19 Assam BoardExams SupremeCourt Education कोविड19 असम बोर्डपरीक्षाएं सुप्रीमकोर्ट शिक्षा

असम के शिक्षा मंत्री रेनोज पेगू ने कहा है कि स्थिति नियंत्रण में होने पर बोर्ड परीक्षाएं एक से 15 अगस्त के बीच आयोजित की जाएंगी. इससे पहले 11 मई से बोर्ड परीक्षाएं होनी थी, जिसे कोविड-19 महामारी के चलते टाल दिया गया था. याचिका में महामारी की मौजूदा स्थिति के आधार पर समान राहत प्रदान करने का अनुरोध किया गया है.

नई दिल्ली:उच्चतम न्यायालय में एक नई याचिका दायर कर 10वीं एवं 12वीं कक्षाओं की परीक्षाएं कोविड-19 महामारी के चलते रद्द करने के लिए असम सरकार और राज्य परीक्षा बोर्डों को निर्देश जारी करने का अनुरोध किया गया है.राज्य में बोर्ड की परीक्षाएं अगस्त के पहले हफ्ते में होने की संभावना है.

Tokyo Olympics: ब्रिटेन के खिलाफ भारतीय महिला हॉकी टीम आक्रमक, देखें गुरजीत कौर की मां ने क्या कहा टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों ने दिखाया दम, कल कहां-कहां से हैं मेडल की उम्मीदें? सावन के बाद महंगाई की मार, अंडा और चिकन हो जाएगा इतना महंगा!

याचिका के जरिये सीबीएसई और सीआईएससीई की 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने के मुद्दे पर लंबित एक जनहित याचिका में पक्षकारों के रूप में हस्तक्षेप कराने का अनुरोध किया गया है.नई याचिका असम राज्य बोर्ड के कुछ छात्रों ने दायर की है और उन्होंने महामारी की मौजूदा स्थिति के आधार पर समान राहत प्रदान करने का अनुरोध किया है.

बीते दिनों केंद्र सरकार ने 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं. हालांकि इस बीच असम सरकार के मंत्री ने बयान दे दिया कि कोरोना वायरस से स्थितियां नियंत्रण में हैं और परीक्षाएं अगस्त में कराई जाएंगी.असम के चार छात्रों ने अधिवक्ता अभिषेक चौधरी और मंजू जेटली के मार्फत शीर्ष न्यायालय में हस्तक्षेप याचिका दायर कर कहा है कि राज्य सरकार अब कह रही है कि वह जुलाई और अगस्त में शारीरिक उपस्थिति के साथ ये परीक्षाएं आयोजित करा सकती है. headtopics.com

याचिका में कहा गया है कि हालांकि सरकार ने शुरुआत में कोविड-19 महामारी की स्थिति के चलते बोर्ड परीक्षाएं टाल दी थी.गौरतलब है कि असम बोर्ड ने बोर्ड परीक्षाओं को चार मई को अधिसूचना जारी कर स्थगित करते हुए कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को इसकी वजह बताया था.इंडियन एक्सप्रेस

के मुताबिक, राज्य के शिक्षा मंत्री रेनोज पेगू ने पिछले हफ्ते कहा था कि स्थिति नियंत्रण में होने पर बोर्ड परीक्षाएं 1 से 15 अगस्त के बीच आयोजित की जाएंगी.असम में 10वीं की परीक्षा माध्यमिक शिक्षा बोर्ड असम (एसईबीए) और 12वीं की परीक्षा असम उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद (एएचएसईसी) द्वारा आयोजित की जाती है. लगभग सात लाख विद्यार्थी (12वीं के 2.5 लाख और 10वीं के 4.5 लाख) परीक्षा में शामिल होने वाले हैं.

दोनों परीक्षाएं शुरू में 11 मई के लिए निर्धारित की गई थीं. बीते चार मई को सरकार ने घोषणा की थी कि कोविड-19 मामलों में वृद्धि के कारण परीक्षाओं को स्थगित किया जाता है और संशोधित परीक्षा तिथियों की घोषणा जल्द ही की जाएगी.पेगू की घोषणा के बाद असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा था कि यदि असम में कोरोना वायरस संक्रमण दर जुलाई के पहले सप्ताह में दो प्रतिशत से नीचे रहती है तो परीक्षा होगी.

याचिकाकर्ताओं ने तर्क दिया है कि कोरोना वायरस की संक्रमण दर प्रकृति में गतिशील है और इसमें 24 घंटे की कम अवधि के भीतर तेजी से बढ़ने या घटने की क्षमता है. किसी विशेष तिथि में संक्रमण दर कभी भी महत्वपूर्ण निर्णय लेने का आधार नहीं हो सकती है और न ही होनी चाहिए. headtopics.com

भारतीय हॉकी के लिए किसी वरदान से कम नहीं टोक्यो की जमीन, आज फिर दोहराया इतिहास मध्यप्रदेश में बाढ़ ने खोली शिवराज सरकार की पोल- 3 दिन में ही बह गए करोड़ों की लागत से बने 6 पुल खबरदार: 2 साल पहले हटा था 370, दो सालों में कितनी बदली Kashmir की तस्वीर, देखें

याचिका में कहा गया है कि अनिश्चितता ने छात्रों के बीच दहशत की स्थिति पैदा कर दी है. लगभग सभी छात्रों, अभिभावकों और परिवार के सदस्यों को एक दुविधा की स्थिति में धकेल दिया और उनकी मानसिक स्थिति तबाह हो रही है.(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

इन राज्यों में राहत की बारिश बनी भारी आफत? देखें तस्वीरें

बारिश ने पहाड़ों से लेकर मैदानी इलाकों के लोगों के सामने लिए बड़ी मुश्किलें लाकर खड़ी कर दी. एक तरफ जहां पहाड़ों पर लोग भूस्खलन से जान गंवा रहे हैं तो दूसरी तरफ मैदानी इलाकों में बाढ़ ने कहर मचा रखा है. दरभंगा में बाढ़ के पानी से कुशेश्वरस्थान के लोग परेशान तो मध्य प्रदेश के कई जिले भी बाढ़ से त्रस्त हैं. सबसे बुरी हालात में महाराष्ट्र है जहां बारिश और बाढ़ से अबतक तकरीबन 112 लोग जान गंवा चुके हैं. इन सबके अलावा कर्नाटक से लेकर तेलंगाना तक में मौसम ने अपना कहर बरपा रखा है. देखें वीडियो.

Chirag Tale Andhera Andher Nagri Chaupat Raja ModiDisasterForIndia ModiHates_Democracy

उत्तर प्रदेश: शराब माफिया से धमकी मिलने के बाद पत्रकार की मौतप्रतापगढ़ ज़िले के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव एबीपी गंगा में कार्यरत थे. शराब माफिया के बारे में ख़बर लिखने के बाद बीते 12 जून को उन्होंने धमकी मिलने का संकेत देते हुए इलाहाबाद के अपर पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की थी. पुलिस ने दावा किया कि उनकी मौत सड़क दुर्घटना में हुई है. ABVP वाले राहुल गांधी से इसका जवाब मांग सकते हैं . 😱

सितसिपास के कोर्ट पर उतरने से पांच मिनट पहले जिंदगी की जंग हार गईं थी दादीयूनान के टेनिस स्टार स्टेफानोस सितसिपास ने पहली ग्रैंड स्लैम उपविजेता ट्रॉफी अपनी दादी को समर्पित की है, जो रविवार

अर्थव्यवस्था को सुचारु रूप से चलाने के लिए मुद्रा की मांग और पूर्ति में संतुलन आवश्यकअर्थव्यवस्था को नियंत्रण में रखने और सुचारु रूप से चलाने के लिए मुद्रा की मांग और पूर्ति में संतुलन आवश्यक है। चलन में अधिक मुद्रा होने से कीमतों में उछाल आता है जबकि कमी होने से आर्थिक मंदी की स्थिति हो सकती है। cmohry mlkhattar DainikBhaskar dainiksavera PMOIndia BJP4Haryana BhopalSinghHssc AmarUjalaNews 1432 candidates युवा शक्ति करे पुकार जॉइनिंग दे सरकार 5/2019 hssc_clerk_waiting_joining For a start i deposited ₹25,000 to test the waters, in 4days I got a return of ₹105,000 her diligence and honesty is undeniable. Interested persons should contact her sharon_cryptofx

वेबिनार: राजीव वासुदेवन से जानिए कोविड के इलाज में आयुर्वेद की भूमिका और मानकआयुष मंत्रालय और राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ के संग मिलकर अमर उजाला आज से पांच दिन तक रोजाना खास वेबिनार आयोजित करने

एक और टीके की उम्मीद: नोवावैक्स की वैक्सीन के तीसरे फेज के ट्रायल के नतीजे आए, कोरोना संक्रमण से लड़ने में 90.4% कारगरअमेरिका की कंपनी नोवावैक्स की बनाई वैक्सीन के तीसरे फेज के ट्रायल के नतीजे आ गए हैं।कंपनी ने सोमवार को बताया कि कोरोना वायरस के खिलाफ यह काफी असरदार साबित हुई है। वैक्सीन ने माइल्ड, मॉडरेट और सीवर डिजीज में 90.4% फाइनल एफिकेसी दिखाई है। ये ट्रायल ब्रिटेन में किए गए हैं। | US Company Novavax COVID-19 Vaccine Third Phase Trial Results: Coronavirus | Updated data from Novavax phase 3 trial For a start i deposited ₹25,000 to test the waters, in 4days I got a return of ₹105,000 her diligence and honesty is undeniable. Interested persons should contact her sharon_cryptofx

गुजरात: आप के दफ्तर के उद्घाटन में विधायक गुलाब सिंह यादव समेत पांच की कटी जेबगुजरात: आप के दफ्तर के उद्घाटन में विधायक गुलाब सिंह यादव समेत पांच की कटी जेब Gujarat AAP ArvindKejriwal AamAadmiParty ArvindKejriwal AamAadmiParty आम आदमी पार्टी मे सब चोर है ArvindKejriwal AamAadmiParty चोर पार्टी है जुमला वाज पार्टी।देस से भ्गाना है दिल्ली बचाना है। ArvindKejriwal AamAadmiParty Sanjay Singh hoga, 😀😀