Btcelections, Btcpollresults, Assam, Assam, Btc Election Result, Bpf, Uppl, Cm Announces New Chief

Btcelections, Btcpollresults

असम बीटीसी चुनावः BPF ने 17 सीटों पर जमाया कब्जा, बीजेपी का दमदार प्रदर्शन

बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद (बीटीसी) के चुनावी नतीजे आ गए हैं. 40 सीटों के लिए हुए चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है. @hemantakrnath #BTCElections #BTCPollResults #Assam

13-12-2020 21:23:00

बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद (बीटीसी) के चुनावी नतीजे आ गए हैं. 40 सीटों के लिए हुए चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है. hemantakrnath BTCElections BTCPollResults Assam

यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) को 12 सीटों पर जीत मिली है. वहीं बीजेपी 9, कांग्रेस और गण सुरक्षा पार्टी (जीएसपी) को एक-एक सीट से संतोष करना पड़ा. बीटीसी चुनाव को असम विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा है.

वहीं, भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यूपीपीएल को 12 सीटें जीतने के लिए बधाई दी और कुछ ही समय बाद अपने ट्वीट में पार्टी को अपना ‘सहयोगी’ करार दिया.NDA secured a comfortable majority in Assam BTC election. और पढो: आज तक »

लखीमपुर खीरी से ग्राउंड रिपोर्ट: नाराज किसान बोले- आज हमारे बच्चों को कुचला तो 45 लाख में समझौता हो गया, कल कोई और कुचलेगा तो 50 लाख में मामला निपट जाएगा

पिछले कुछ दिनों से चर्चा में रहे लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में अब खामोशी है। जली हुई गाड़ियां, थके हुए पुलिसकर्मी और सच तलाशते गिने-चुने पत्रकारों को देखने के बाद ये अहसास ही नहीं होता कि 48 घंटे पहले यहां हुए उपद्रव में 8 लोगों की जान गई है। मन में सवाल कौंधता है कि आखिर इतनी जल्दी स्थिति कैसे काबू हो गई। लोग इतने सामान्य क्यों दिखाई दे रहे हैं? सरकार ने इस पूरे मामले को कैसे कंट्रोल किया? | UP Lakhimpur Kheri Violence Ground Report; Farmers On Rs 45 Lakh Compensation जब हमने चश्मदीद प्रदर्शनकारी से घटना को लेकर सवाल किया तो वे किसानों पर गाड़ी चढ़ाने के बारे में तो खुलकर बात कर रहे थे,

असम चुनावः शाह बोले, नहीं बनने देंगे बदरुद्दीन अजमल को असम की पहचानशाह ने कहा, वह बदरुद्दीन अजमल को असम की पहचान नहीं बनने देंगे। लैंड जिहाद के जरिए से असम की पहचान को बदलने का काम अजमल ने किया। अगर अजमल और कांग्रेस की सरकार असम आती है तो सूबे में फिर से आतंकवाद अपनी जड़े जमा लेगा।\n

असम: बीटीसी चुनाव में बीपीएफ को बढ़त, प्रदेश सरकार में सहयोगी बीजेपी से है टक्कर40 सीटों के लिए हुए चुनावों में बीपीएफ अब तक 14 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि यूपीपीएल छह पर और बीजेपी आठ सीटों पर आगे है.

Bodo Accord से असम में आई शांति, देखें असम चुनाव पर क्या बोले JP Nadda?बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने असम में एक इंटरव्यू के दौरान विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. जेपी नड्डा ने कहा कि हम असम में 3 मुद्दों पर चुनाव लड़े. सुरक्षा, समृद्धि और संस्कृति की रक्षा. बीजेपी असम की संस्कृति को स्थापित करना चाहती है. बीजेपी ने भूपेन हजारिका को भारत रत्न दिया. बीजेपी असम की सांस्कृतिक धरोहर की रक्षा कर रही है. भाषा की रक्षा करनी हो, सुरक्षा की रक्षा करनी हो बीजेपी आगे रहती है. जेपी नड्डा ने असम एकॉर्ड का भी जिक्र किया. देखें वीडियो. Yah to roj ka kaam he bjp ka...Vipaksh par hi 7 sal Bharat ke bigad diye ...😂😂 जरूरी नहीं, पूरे भारतवर्ष को गुलाम करने के लोग, अरब देशों ,अफ़ग़ानिस्तान या इंगलैड से ही आएँ, गुजरात से भी आ सकते हैं 🤷‍♀️ बल्कि गुजरात के एक दो बड़े कबीलों के लोग ही हो सकते हैं 😜 जिनको फैंकू बाबाजी का पूरा आशीर्वाद है, जीत गए तो मोदी मैजिक,ओर हार गए तो नड्डा है ही सुनने को।।

असम-मिज़ोरम सीमा पर फ़िर हुई हिंसा, असम के हैलाकांडी ज़िले में निषेधाज्ञा लागूमिज़ोरम के कोलासिब और असम के हैलाकांडी ज़िले में बीते नौ फरवरी की रात हुई झड़प में कई लोग घायल हो गए. पिछले साल अक्टूबर-नवंबर में भी असम के कछार ज़िले और मिज़ोरम के कोलासिब ज़िले के लोगों के बीच हिंसक झड़प हुई थी, जिसके बाद सीमा पर तब कई दिन तक तनाव रहा था.

असमः बीटीसी की 40 में से 9 सीटें जीतकर भी क्यों गदगद है बीजेपी आलाकमान?बीटीसी पर बीपीएफ 17 साल से काबिज थी, लेकिन इस बार बहुमत से दूर रह गई है. वहीं, बीजेपी एक सीट से बढ़कर नौ पर पहुंच गई है, जिसके बाद पार्टी ने बीटीसी पर काबिज होने के लिए अपने नए सहयोगी तलाश लिए हैं.