असफलताओं से परेशान होकर छोड़ दी थी UPSC की तैयारी, फिर कैसे प्रेरित होकर अनिरुद्ध बने IPS?

असफलताओं से परेशान होकर छोड़ दी थी UPSC की तैयारी, फिर कैसे प्रेरित होकर अनिरुद्ध बने IPS?

Upsc, Upsc Topper

02-12-2021 16:41:00

असफलताओं से परेशान होकर छोड़ दी थी UPSC की तैयारी, फिर कैसे प्रेरित होकर अनिरुद्ध बने IPS?

2015 में अनिरुद्ध कुमार की शादी आरती सिंह से हुई। आरती और वे दोनों मिलकर यूपीएससी की तैयारी करने लगे। इसके बाद दोनों ने 2016 में यूपीएससी की परीक्षा दी। 2016 की परीक्षा में आरती सिंह का आईपीएस में चयन हो गया लेकिन अनिरुद्ध कुमार को डिफेंस सर्विसेज मिला।

अनिरुद्ध कुमार के पिताजी रेलवे में नौकरी किया करते थे। इसी दौरान उनके पिताजी का ट्रान्सफर कानपुर हो गया। जिसके बाद अनिरुद्ध कुमार अपने परिवार के साथ कानपुर आ गए। बाद में उनकी पढ़ाई लिखाई कानपुर में ही हुई। उन्होंने कानपुर के ही एचबीटीआई से बीटेक की डिग्री हासिल की। बीटेक के बाद वे इंफोसिस में नौकरी करने लगे। तभी अनिरुद्ध कुमार के जीवन में एक ऐसी घटना घटी जिन्होंने उन्हें सिविल सेवा अधिकारी बनने के लिए दोबारा से प्रेरित किया।

दरअसल अनिरुद्ध कुमार के पिता ने अपनी कमाई से कानपुर में एक जमीन खरीदी थी। जिसपर दबंगों ने कब्ज़ा कर लिया। अनिरुद्ध कुमार और उसके परिवारवालों ने इसकी शिकायत कानपुर के एसएसपी से की। एसएसपी ने स्थानीय थाने को तत्काल कार्रवाई करने का आदेश दिया। जिसके बाद वो जमीन अनिरुद्ध कुमार के परिवार को वापस मिल गई। इस घटना ने उनके मन पर गहरी छाप छोड़ी और वो यूपीएससी की तैयारी में जुट गए।

अनिरुद्ध कुमार ने 2012 में अपना पहला प्रयास दिया लेकिन वे इंटरव्यू तक नहीं पहुंच पाए। दूसरे प्रयास में वे इंटरव्यू तक पहुंचे लेकिन उन्हें सफलता हाथ नहीं लगी। इसके बाद उन्होंने पीसीएस की तैयारी शुरू कर दी। उन्होंने तीन बार पीसीएस की परीक्षा दी और तीनों बार सफलता मिली। लेकिन उन्हें लगा कि वे अपने मूल लक्ष्य से भटक गए हैं। इसके बाद उन्होंने दोबारा से यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। headtopics.com

जज पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली पूर्व अधिकारी की बहाली की मांग, विरोध में हाईकोर्ट

इसी दौरान 2015 में उनकी शादी आरती सिंह से हो गई। आरती और वे दोनों मिलकर यूपीएससी की तैयारी करने लगे। इसके बाद दोनों ने 2016 में यूपीएससी की परीक्षा दी। 2016 की परीक्षा में अनिरुद्ध कुमार की पत्नी आरती सिंह का आईपीएस में चयन हो गया लेकिन उन्हें डिफेंस सर्विसेज मिले। चूंकि अनिरुद्ध का लक्ष्य आईएएस या आईपीएस ही था। इसलिए उन्होंने डिफेंस सर्विसेज को छोड़ दिया और वापस से तैयारी में लग गए। अगले ही प्रयास में अनिरुद्ध कुमार को

की परीक्षा में 146वां रैंक हासिल हुआ और वे आईपीएस के लिए चुन लिए गए।

और पढो: Jansatta »

अगला राष्ट्रपति कौन: फिर सरप्राइज कर सकते हैं पीएम मोदी, 4 नाम सबसे ज्यादा चर्चा में

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 25 जुलाई 2022 को खत्म हो रहा है। पांच महीने बाद राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इससे पहले BJP और RSS के भीतर राष्ट्रपति पद के प्रत्याशियों के नामों को लेकर मंथन शुरू हो चुका है। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव के बाद नामों पर मंथन और तेज हो जाएगा। | Presidential Election Candidate 2022; राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 25 जुलाई 2022 को खत्म हो रहा है। पांच महीने बाद राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। और पढो >>

मुजफ्फरपुर में मोतियाबिंद के ऑपरेशन में गड़बड़ी, 65 में से 15 लोगों की निकालनी पड़ी आंखजानकारी के लिए बता दें कि बीते 22 नवंबर को मुजफ्फरपुर के आई हॉस्पिटल में 65 लोगों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन हुआ था. जिसमें ज्यादातर लोगों की आंखों में इंफेक्शन हो गया.

शाह रुख खान की राजनीतिक बलि दी गई, मुंबई में बोलीं बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जीबंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि शाह रुख खान की राजनीतिक बलि दी गई है। बता दें कि दो अक्टूबर को शाह रुखके पुत्र आर्यन खान को नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की एक कार्रवाई में गिरफ्तार किया गया था। Ha sahi kaha mamata ji ne vah jis raste se jaa rahi hai, To aisa lagna swabhavik hai. अब ये भी बोल दो की बांग्लादेश को भी इंडिया में मिलाया जा सकता था लेकिन वहां मुस्लिम थे उस लिए उनको अलग देश बनाया गया 😔😔 छापा मारा था लोगों को तो नहीं ।

असम में बढ़ रही है पुलिस हिरासत में मौतों की तादाद | DW | 02.12.2021असम में एक छात्र नेता की पीट-पीट कर हत्या के मामले का मुख्य अभियुक्त सड़क हादसे में मारा गया है. इसे लेकर बीती मई से अब तक कुल 28 लोगों की पुलिस हिरासत में मौत हो चुकी है. PoliceBrutality CustodialDeaths Assam HumanRights

अंतरिक्ष में मिले 5 लाख ऐसे तारे...जो भविष्य में बन सकते हैं धरती की 'बैटरी'भारतीय वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में ऐसे पांच लाख तारों की खोज की है, जो लिथियम से भरे हुए हैं. अगर किसी तरह से इन तारों से लिथियम लाने की व्यवस्था या तकनीक विकसित कर ली जाए तो सैकड़ों सालों दुनिया को ग्रीन और क्लीन एनर्जी का स्रोत मिल जाएगा. JusticeForRailwayStudent railway_exam_calander railway_hay_hay

गाजियाबाद : इंदिरापुरम की सोसायटी की एक बिल्डिंग में 5वें माले पर आग, दिखा भयानक मंजरवहां मौजूद लोगों ने तत्काल इस घटना की जानकारी दमकल विभाग को दी. सूचना पर दमकल की टीम मौके पर पहुंचकर आग बुझाने का प्रयास कर रही है

Covid-19: देशभर में पिछले 24 घंटों में 9,765 नए केस, 477 की मौतदेश में फिलहाल रिकवरी रेट 98.35 फीसदी दर्ज की गई है जो मार्च 2020 के बाद से सबसे ज्यादा है. पिछले 24 घंटों में देशभर में कुल 8,548 मरीज कोविड महामारी से स्वस्थ हुए हैं. अब तक देशभर में कुल 3 करोड़, 40 लाख, 37 हजार, 054 लोग इस महामारी को मात दे चुके हैं. pikaso_me screen shot this Lagta hai ki ab '0' nhi hone denge...kbhi