Ayodhya, Ayodhyarammandir, New-Delhi-City-Politics, Ayodhya Land Purchase, Alok Kumar, Vhp, Land Purchase İn Ayodhya Completely Transparent, Nothing To Doubt, Hence No İnvestigation, Alok Kumar, अयोध्या, मंदिर निर्माण जमीन खरीद, अयोध्या जमीन प्रकरण, विहिप, विश्व हिंदू परिषद, आलोक कुमार, Delhi News

Ayodhya, Ayodhyarammandir

अयोध्या में जमीन खरीद पूरी तरह से पारदर्शी, कुछ संदेह करने लायक नहीं, इसलिए जांच नहीं: विहिप

अयोध्या में जमीन खरीद पूरी तरह से पारदर्शी, कुछ संदेह करने लायक नहीं, इसलिए जांच नहीं: विहिप #Ayodhya #AyodhyaRamMandir @VHPDigital

14-06-2021 17:24:00

अयोध्या में जमीन खरीद पूरी तरह से पारदर्शी, कुछ संदेह करने लायक नहीं, इसलिए जांच नहीं: विहिप Ayodhya Ayodhya RamMandir VHP Digital

अयोध्या मेें जमीन खरीद में अनियमितताओं का आरोप लगाने वाले सियासी लोगों पर विश्व हिंदू परिषद ( विहिप ) के कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने करारा प्रहार किया है। उन्होंने कहा ये वहीं रामद्रोही लोग हैं जो राम को काल्पनिक बताते रहे हैं तथा हर चरण में भव्य मंदिर निर्माण में रोड़े अटकाते रहे हैं।

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या मेें जमीन खरीद में अनियमितताओं का आरोप लगाने वाले सियासी लोगों पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने करारा प्रहार किया है। उन्होंने कहा ये वहीं रामद्रोही लोग हैं, जो राम को काल्पनिक बताते रहे हैं तथा हर चरण में भव्य मंदिर निर्माण में रोड़े अटकाते रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह आधारहीन आरोप उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में राजनीतिक लाभ पाने के मद्देनजर लगाए जा रहे हैं। इससे इस आंदोलन से जुड़े चंपत राय जैसे लोगों की दशकों की तपस्या व संघर्ष को धूमिल करने तथा उनके प्रति संदेह पैदा करने का कुत्सित प्रयास हो रहा है।

असम-मिज़ोरम विवाद में क्या-क्या हुआ और क्या है पूरा मामला? - BBC News हिंदी टोक्यो ओलंपिक: हॉकी में भारत ने स्पेन को 3-0 से हराया - BBC Hindi कोरोना देश में: एक्टिव केस की संख्या 4 लाख से नीचे आई, महाराष्ट्र एक करोड़ लोगों को वैक्सीन के दोनों डोज देने वाला पहला राज्य बना

आलोक कुमार ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सुझाव देते हुए कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया जाना चाहिए और पहले के दो बार की तरह आरोप लगाने वालों की तरफ से माफी मांग लेने पर क्षमा कर देने वाली स्थिति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने विवाद को तथ्यहीन और भ्रामक बताते हुए कहा कि पूरे खरीद मामले में कोई संदेह नहीं है। इसलिए किसी जांच की जरूरत नहीं है। यह पूरी तरह से पारदर्शी है। सारा लेनदेन बैंक खाते के माध्यम से हुआ है। जिस जमीन को 18.5 करोड़ रुपये में खरीदा गया है। उसका वर्तमान मूल्य तकरीबन 20 करोड़ रुपये हैं। यह खरीद से पहले पता लगाया गया था। वर्ष 2012 में उक्त जमीन के मालिक कुसुम पाठक व हरीश पाठक ने उस समय जमीन के बाजार मूल्य के हिसाब से दो करोड़ रुपये में सुल्तान अंसारी व रवि मोहन तिवारी के पक्ष में "एग्रीमेंट टू सेल' किया था। जबकि नौ सालों की अवधि के साथ ही श्रीराम जन्मभूमि मंदिर और उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा नए अयोध्या की चर्चा से वहां जमीन के भाव कई गुना बढ़ गए।

यह भी पढ़ेंयह जमीन अयोध्या रेलवे स्टेशन के पास है। बहुत उपयोगी है। तीर्थ क्षेत्र ने उक्त जमीन को लेने के लिए कुसुम पाठक, सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी से बात की। इसको तीनों में से कोई एक अकेले नहीं बेच सकता था। इसलिए तय हुआ कि एग्रीमेंट टू सेल के अनुसार कुसुम पाठक इसको सुल्तान अंसारी और रवि मोहन तिवारी को बेच दें। फिर मंदिर ट्रस्ट इसे खरीद लेगा। यह भी सोचा गया कि यह दोनों काम एक साथ ही कर लेने चाहिए। एक ही व्यक्ति स्टाम्प पेपर लेने गया। इसलिए कौन पहले या बाद में मिला इसका कोई औचित्य नही है। headtopics.com

यह भी पढ़ें और पढो: Dainik jagran »

Population Control Policy: विकासवादी सोच या ध्रुवीकरण की राजनीति, देखें 10 तक

आबादी ज्यादा तो जनता के लिए जरूरी संसाधनों का बंटवारा सभी को बराबरी और जरूरत मुताबिक मिल पाना कठिन होता है. 130 करोड़ से ज्यादा आबादा वाला देश भारत. जहां की जनसंख्या चुनावी भाषणों में देश की ताकत के रूप में प्रदर्शित की जाती है. उसी देश में आबादी को नियंत्रित करने की पॉलिसी का ड्राफ्ट जब चुनावी राज्य उत्तर प्रदेश में आता है तो विकास के लिए आवश्यक जनसंख्या नियंत्रण नीति राजनीति में फंस जाती है. विकासवादी सोच के मुकाबले ध्रुवीकरण और अपना अपना धर्म, अपनी आबादी आबादी की चिंता के विवाद में ज्यादा उलझी नजर आती है. देखें वीडियो.

VHPDigital ये लोग मंदिर के नाम पर लोगो की बलि चढाते रहे और खुद ए सी में बैठकर आराम करते रहे माल इकट्ठा करते रहे! जब सब कुछ सही है तो सामने लाकर दिखा दो! VHPDigital commission me hissa sabko mil gaya hoga..... VHPDigital अयोध्या में जो राम जन्मभूमि ट्रस्ट पर धोखाधड़ी का आरोप लगा रहे हैं, वही लोग राम मंदिर निर्माण का विरोध कर रहे थे। इन लोगों ने राम मंदिर निर्माण के लिए एक धेला नहीं दिया और आज राम मंदिर निर्माण को रोकने के लिए भोली-भाली जनता को बढ़ाकाने में लगे हैं। लोग इन की बातों को क्यों सूने।

VHPDigital करोड़ो लोगो की आस्था के साथ खेलते रहे राम के नाम पर खुद की जेबे भरते रहे । लेकिन जनता को सच्चाई से परे रखना ही इन की फितरत है । VHPDigital चोर की दाढ़ी में तिनका VHPDigital Ye sahi h khud hi faisla kr liya jaach ho ya nhi VHPDigital जाच करवाने में कैसा डर दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा VHPDigital जबरदस्ती..जो विषय चर्चा से परे है उस पर मीडियाबाजी पेपरबाजी करने का अर्थ..क्या समझा जाये.? जबकि बाहुल्य समाज की घोर आस्था का विषय है

VHPDigital लो भाई संघियों ने खुद को क्लीन चिट दे दी VHPDigital VHP should file defamation suit as well in court and ask public apology from parties and persons who targeted just for doing politics VHPDigital ArrestSanjaySingh

मुंह में राम, जेब में चंदा- राम मंदिर जमीन घोटाले में पूर्व IAS का तंज़पूर्व आईएएस अधिकारी ने तंज करते हुए एक और ट्वीट किया और लिखा 'मुँह में राम, जेब में चंदा, चम्पत होगा अब ये बंदा।' उन्होंने आगे लिखा 'ट्रस्ट ने ट्रस्ट खोया, लाखों रामभक्तों का।' संज्ञान में लिया जाय और सीबीआई से जांच हो BJP4UP priyankac19 ppbajpai narendramodi myogiadityanath नेता बनने का कितना सौक पाल रखा है आपने जरा समर्पण राशि के बारे में बताना आप ने कितना दिया है सिविल सर्विस में देश को लूटा जी नही भरा तो राजनित करने आ गये लेकिन मेरे ठाकुर जी पर तो रहम करो राजनित करने के बहुत मंच मिलेंगे जब हमारे प्रधानमंत्री हजारों करोड़ खर्च करके कुर्सी खरीद सकते हैं और कहते हैं मैने तो 35 साल भीख मान्गकर कर खाया था,!

Ist पार्टी को पैसा कब मिला। 2011 में या अभी। VHPDigital यह क्या मतलब हुआ

एक जमीन, तीन किरदार...10 मिनट में बढ़े करोड़ों में दाम... अयोध्या जमीन विवाद की Inside storyसमाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी की ओर से आरोप लगाया गया है कि राम मंदिर के लिए ज़मीन खरीद के नाम पर करोड़ों रुपये को घोटाला हुआ है. रविवार को हुए इस खुलासे के बाद से ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है और उत्तर प्रदेश की सियासत में उबाल आ गया है. Toolkit by AamAadmiParty Y scams first time nhi huwa ha but 1990 me bhi 1400 crore ka scam ho chuka ha Ye virodhiyon ki chaal hai u.p. ke election ke pahle sir jai sri ram 💯

मुंबई में जोरदार बारिश के बीच पार्किंग में खड़ी कार गड्ढे में समाई, वीडियो वायरलरविवार को भारी बारिश होने की वजह से मुंबई के घाटकोपर में स्थित राम निवास सोसायटी की पार्किंग में खड़ी एक कार देखते ही देखते जमीन में समा गई।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में घोटाले का आरोप: मंदिर ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई जमीन पर पूर्व मंत्री ने उठाए सवाल; कहा-10 मिनट में 2 करोड़ की जमीन 18.5 करोड़ रुपए की कैसे हो गई अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई जमीन पर सवाल उठाए गए हैं। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडेय पवन ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर जमीन खरीद में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि दो करोड़ रुपये में बैनामा करा ली गई। भूमि का 10 मिनट के अंदर 18.50 करोड़ रुपये में रजिस्टर्ड एग्रीमेंट कर दिया ग... | Former minister raised questions on land purchased by Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust; 2 crore land became 18.5 crore rupees in 10 minutes, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई जमीन पर पूर्व मंत्री ने उठाए सवाल Narangi khatmal desh ke liye abhishaap hain श्री राम प्रभु सब देख रहे हैं !श्रीराम जी का मैटर है उन्हीं पर छोड़ दिया जाए !! WAH WAH KYA BAAT HAI

अयोध्या: राम मंदिर की ज़मीन ख़रीद में घोटाले के आरोप, चंद मिनटों में 2 से 18 करोड़ हुए दाम - BBC News हिंदी अयोध्या में जारी राम मंदिर निर्माण के लिए ज़मीन ख़रीद में घोटाले के आरोप एक सपा नेता ने लगाए हैं. राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने कहा आरोप बेबुनियाद और राजनीति से प्रेरित. मोदी है तो मुमकिन है Sab apna apna lutane ka Tarika hai mandir ke name Par sab lut rha hai Kuch din ke baat a government or aandbhakt Ram ko vi ghotala kar ke chorega the great lol ram

भोपाल में हुई मानसून की पहली बारिश: राजधानी में 10 दिन पहले आया मानसून, 3 से 4 दिन में पूरे MP में पहुंच जाएगा; प्रदेश के सभी संभागों में बारिश की चेतावनीभोपाल में 10 दिन पहले मानसून पहुंच गया है। राजधानी में रविवार दोपहर बाद मानसून की पहली बारिश हुई। मौसम विभाग ने प्रदेश के सभी संभागों में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में दक्षिण-पश्चिम मानसून समय से पहले ही पहुंच गया है। पिछले साल राजधानी में 23 जून को मानसून आया था। | Monsoon arrived in Bhopal, Vidisha, Chhatarpur, Bhopal…. Monsoon came the day before, yellow alert of rain in the state