America, China, Iran, United States, İran, Plane Threat, Persian Gulf, अमेरिका, ईरान, विमानों को खतरा, फारस की खाड़ी, World News İn Hindi, World Hindi News

America, China

अमेरिका-ईरान तनाव : फारस की खाड़ी पर विमानों को खतरा

कुवैत और संयुक्त अरब अमीरात में तैनात अमेरिकी राजनयिकों ने कहा कि फारस और ओमान की खाड़ी से गुजरने वाली सभी वाणिज्यिक

18.5.2019

अमेरिकी राजनयिकों ने चेतावनी देकर बताया कि फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले वाणिज्यिक विमानों को खतरे का सामना करना पड़ सकता है। America China Iran realDonaldTrump POTUS

कुवैत और संयुक्त अरब अमीरात में तैनात अमेरिकी राजनयिकों ने कहा कि फारस और ओमान की खाड़ी से गुजरने वाली सभी वाणिज्यिक

उड़ानों को सैन्य गतिविधियों और राजनीतिक तनाव के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है। इस चेतावनी में इन विमानों के नेविगेशन तंत्र और संचार में खलल पड़ने की आशंका व्यक्त की गई है। अमेरिका ने बढ़ा दी सैन्य तैनाती हाल ही में ‘लॉयड ऑफ लंदन’ ने भी समुद्री जहाजों के लिए इस क्षेत्र में खतरे के प्रति आगाह किया था। कुछ दिनों पहले अमेरिका ने ईरान से संभावित हमले की जवाबी कार्रवाई के लिए क्षेत्र में बमवर्षक और युद्धपोत की तैनाती की थी। इसके बाद दोनों देशों में खींचतान और बढ़ गई थी। इसी बीच अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि संयुक्त अरब के तट पर तेल के चार टैंकरों को निशाना बनाया गया और ईरान की ओर झुकाव वाले विद्रोहियों ने महत्वपूर्ण सऊदी तेल पाइपलाइन पर ड्रोन हमले की जिम्मेदारी ली थी। सऊदी अरब ने इस ड्रोन हमले के लिए सीधे तौर पर ईरान को जिम्मेदार ठहराया था और शाही परिवार से जुड़े एक अखबार ने तेहरान पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ करने की बात सुझाई। तनाव की वजह ट्रंप का निर्णय ईरान के साथ मौजूदा तनाव की बड़ी वजह अमेरिका का 2015 की परमाणु हटना रहा। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान और वैश्विक ताकतों के बीच हुई संधि से पिछले साल खुद को अलग कर लिया था। ओबामा प्रशासन के समय ईरान से इस संधि पर सहमति बनी थी। ट्रंप के निर्णय के बाद ईरान पर अमेरिका ने एक बार फिर सख्त प्रतिबंध लगा दिए थे। इसके बाद ईरान ने परमाणु संधि की शर्तों से हटने की घोषणा करते हुए यूरोप को 60 दिन के भीतर नई शर्तें बनाने की बात कही। वरना यूरेनियम को हथियार स्तर तक उन्नत करने की धमकी दी। तेहरान इस बात पर जोर देता रहा है कि वह परमाणु हथियार नहीं बनाएगा लेकिन पश्चिमी देशों को उस पर भरोसा नहीं है। अमेरिका और ईरान के बीच कूटनीतिक और सैन्य तनाव गहराता जा रहा है। अमेरिकी राजनयिकों ने शनिवार को चेतावनी देकर बताया कि फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले वाणिज्यिक विमानों को खतरे का सामना करना पड़ सकता है। फेडरल एविएशन एडमिमिस्ट्रेशन (एफएए) द्वारा जारी चेतावनी में कहा गया कि खाड़ी से उड़ान भरने वाले विमान गलत पहचान का शिकार हो सकते हैं। विज्ञापन विज्ञापन उड़ानों को सैन्य गतिविधियों और राजनीतिक तनाव के प्रति जागरूक रहने की जरूरत है। इस चेतावनी में इन विमानों के नेविगेशन तंत्र और संचार में खलल पड़ने की आशंका व्यक्त की गई है। अमेरिका ने बढ़ा दी सैन्य तैनाती हाल ही में ‘लॉयड ऑफ लंदन’ ने भी समुद्री जहाजों के लिए इस क्षेत्र में खतरे के प्रति आगाह किया था। कुछ दिनों पहले अमेरिका ने ईरान से संभावित हमले की जवाबी कार्रवाई के लिए क्षेत्र में बमवर्षक और युद्धपोत की तैनाती की थी। इसके बाद दोनों देशों में खींचतान और बढ़ गई थी। इसी बीच अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि संयुक्त अरब के तट पर तेल के चार टैंकरों को निशाना बनाया गया और ईरान की ओर झुकाव वाले विद्रोहियों ने महत्वपूर्ण सऊदी तेल पाइपलाइन पर ड्रोन हमले की जिम्मेदारी ली थी। सऊदी अरब ने इस ड्रोन हमले के लिए सीधे तौर पर ईरान को जिम्मेदार ठहराया था और शाही परिवार से जुड़े एक अखबार ने तेहरान पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ करने की बात सुझाई। तनाव की वजह ट्रंप का निर्णय ईरान के साथ मौजूदा तनाव की बड़ी वजह अमेरिका का 2015 की परमाणु हटना रहा। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान और वैश्विक ताकतों के बीच हुई संधि से पिछले साल खुद को अलग कर लिया था। ओबामा प्रशासन के समय ईरान से इस संधि पर सहमति बनी थी। ट्रंप के निर्णय के बाद ईरान पर अमेरिका ने एक बार फिर सख्त प्रतिबंध लगा दिए थे। इसके बाद ईरान ने परमाणु संधि की शर्तों से हटने की घोषणा करते हुए यूरोप को 60 दिन के भीतर नई शर्तें बनाने की बात कही। वरना यूरेनियम को हथियार स्तर तक उन्नत करने की धमकी दी। तेहरान इस बात पर जोर देता रहा है कि वह परमाणु हथियार नहीं बनाएगा लेकिन पश्चिमी देशों को उस पर भरोसा नहीं है। Recommended और पढो: Amar Ujala

बारूद के ढेर पर बैठी दिख रही है दिल्ली: ग्राउंड रिपोर्ट



Delhi Violence: हिंसा भड़कने से जुड़ी 30 बड़ी बातें, बेहद जरूरी है आपके लिए जानना

Delhi Violence: अब तक 13 लोगों की मौत, कमान संभालने मैदान में उतरे अजीत डोभाल



सेब नहीं रख पाई, वो व्रत पर थे: दिल्ली हिंसा के शिकार जवान रतनलाल के घर का हाल

Delhi Violence: 10वीं के छात्र ने VIDEO संदेश जारी कर गृह मंत्री अमित शाह से की यह अपील...



Delhi Violence LIVE: हिंसा के बीच सीलमपुर पहुंचे NSA डोभाल, हालात का लिया जायजा

Delhi Violence: दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का आदेश, देर रात सीलमपुर पहुंचे NSA अजित डोभाल



ईरान से तनाव: US ने किया आगाह, फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले विमानों को खतरा-Navbharat Times ईरान के साथ तनाव के बीच ​अमेरिकी राजनयिकों ने आगाह करते हुए कहा है कि फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले कमर्शल विमानों को जोखिम का सामना करना पड़ सकता है।

उमर खय्याम को गूगल ने किया याद, बनाया डूडलनई दिल्ली। फारसी गणितज्ञ, साहित्यकार, कवि, चिंतक और ज्योतिर्विद उमर खय्याम के 971वें जन्मदिन पर सोशल नेटवर्किंग साइट गूगल ने शनिवार को अपना डूडल समर्पित कर उन्हें याद किया है। उत्तर-पूर्वी फारस के निशापुर में जन्मे उमर खय्याम ने इस्लामिक ज्योतिष को नई पहचान दी और समय देखने का तरीका बदलते हुए इन्होंने तारीख मलिकशाही, जलाली संवत या सेल्जुक संवत् की शुरुआत की। उन्होंने नए कैलेंडर का भी आविष्कार किया।

ईरान से तनाव: US ने किया आगाह, फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले विमानों को खतरा-Navbharat Times ईरान के साथ तनाव के बीच ​अमेरिकी राजनयिकों ने आगाह करते हुए कहा है कि फारस की खाड़ी के ऊपर से गुजरने वाले कमर्शल विमानों को जोखिम का सामना करना पड़ सकता है।

अमेरिका-ईरान तनाव कहां ले जा रहा है दुनिया को, जानिए भारत पर क्या होगा असरहाल ही में अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव के कारण दुनिया भर में तेल की कीमतों पर इसका विपरीत असर होना तय है. Iran may return to Mohammed Reza Pahlavi, and this is the best option हमें अमेरिका- ईरान के तनाव की ज़रूरत नहीं है भाई , हमारे तनाव का ध्यान कांग्रेस , TMC, or महागठबँधन ने अच्छे से रखा है! We need everything ‘made in India ‘ nothing from outside.😌 यह वार अच्छी नहीं जी हमारे भारत इरान अच्छे रीति है को नुकसान है समान

ईरान और अमेरिका के बीच बढ़ता तनाव कहीं तीसरे विश्व युद्ध की आहट तो नहीं? अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान को चेतावनी दी कि यदि वह कोई हिमाकत करता है तो उसे इसका भारी खामियाजा भुगतना पड़ेगा. Abhi nahi, 2 desh aur baaki hain जब किसी लड़की की id से ज्यादा रोमांटिक मैसेज आने लगे। समझ लो कोई अपना ही चुनरी ओढ़ कर बैठा है। 😆😆 कुछ नहीं होगा अमेरिका अपने स्वार्थ में लगा रहेगा और बाद में समझौता करवायेगा

अमेरिका-ईरान तनाव का असर: इराक से ट्रंप प्रशासन ने बुलाए अधिकारी-Navbharat Times अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव के बीच ट्रंप प्रशासन ने आपातकालीन परिस्थितियों से निपटने का संकेत दिया है। इराक में मौजूद अपने गैर-आपातकालीन अधिकारियों को वापस बुला लिया है। कुछ दिन पहले ही अमेरिका ने पश्चिमी एशिया में युद्धपोत और मिसाइल तैनात कर ईरान को सख्त संदेश दिया था।

अमेरिका ने चीन की कंपनी हुवावे को ब्लैकलिस्ट किया, राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बतायाहुवावे दुनिया की सबसे बड़ी टेलीकॉम उपकरण निर्माता कंपनी, अमेरिका को उस पर जासूसी का शक हुवावे यूएस की कंपनियों से तकनीक नहीं खरीद पाएगी, अमेरिकी फर्म हुवावे के उपकरण इस्तेमाल नहीं कर पाएंगी | US blacklists China Huawei as trade dispute clouds global outlook Rightly taken steps against China

ईरान के साथ तनाव में भड़का अमेरिका, सऊदी के दो तेल टैंकर उड़ाए - World AajTak अमेरिका और ईरान में बढ़ रहे तनाव के बीच सऊदी अरब को भारी नुकसान हुआ है. बताया जा रहा है कि संयुक्त अरब अमीरात के अपतटीय क्षेत्र फिर से पेट्रोल का रेट तो नही बड़े गना |

सऊदी के तेल टैंकरों पर हमला, अमेरिका-ईरान तनाव का असर दिखेगा पूरे विश्व पर?-Navbharat Timesसऊदी के तेल टैंकरों को निशाना बनाने के बाद से वैश्विक स्तर पर तनाव बढ़ गया है। ईरान ने इस घटना में किसी भूमिका से इनकार किया है। अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए इस घटना के दूरगामी प्रभाव से इनकार नहीं किया जा सकता है। ईरान के खिलाफ अमेरिका के प्रॉक्सी वॉर की आशंका भी बरकरार है।

ईरान पर चढ़ाई के मूड में अमेरिका, भारत में महंगा हो सकता है पेट्रोल-डीजलभारत को तेल सप्लाई करने वाला ईरान तीसरा बड़ा देश है. चीन के बाद भारत ईरान से तेल खरीदने वाला दूसरा बड़ा देश है. भारत तेल ज़रूरतों को पूरा करने के लिए 80 प्रतिशत ईरान पर निर्भर करता है. अमेरिका से क़रीबी के कारण भारत- ईरान रिश्तों पर भी असर पड़ सकता है. मंहगा तेल खरीद लेंगे, पेलने दो मुल्लों बदजातों को Like Iraq, US is not going to get anything in Iran. At last, they will get only ' Baba ji ka thulu '.

ईरान से प्रतिबंध पर पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति पर असर नहीं: इंडियन ऑयलदेश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कार्पोरेशन ने कहा है कि ईरान से तेल आयात बंद होने का उसके कारोबार और पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति पर कोई असर नहीं होगा. ZeeBJP



गौतम गंभीर ने कपिल मिश्रा पर कार्रवाई की मांग की

दिल्ली हिंसा में मारे गए फुरकान के भाई ने कहा- वो तो बच्चों के लिए खाना लेने गया था

डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे

दिल्ली हिंसाः पुलिस पर गोली तानने वाला शख़्स CAA समर्थक प्रदर्शन का हिस्सा था?- फ़ैक्ट चेक

कपिल मिश्रा का पुलिस को अल्टीमेटम, तीन दिन में सड़क खाली कराएं वरना हम आपकी भी नहीं सुनेंगे

ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा

सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

19 मई 2019, रविवार समाचार

पिछली खबर

नेपाल : दलाई लामा की रिपोर्टिंग पर जांच का जवाब, हमारी खबर बेहतर

अगली खबर

कांग्रेस से नाराज जेडीएस नेता बोला, भंग करो विधानसभा, सीएम ने कहा, चुप रहो
बारूद के ढेर पर बैठी दिख रही है दिल्ली: ग्राउंड रिपोर्ट Delhi Violence: हिंसा भड़कने से जुड़ी 30 बड़ी बातें, बेहद जरूरी है आपके लिए जानना Delhi Violence: अब तक 13 लोगों की मौत, कमान संभालने मैदान में उतरे अजीत डोभाल सेब नहीं रख पाई, वो व्रत पर थे: दिल्ली हिंसा के शिकार जवान रतनलाल के घर का हाल Delhi Violence: 10वीं के छात्र ने VIDEO संदेश जारी कर गृह मंत्री अमित शाह से की यह अपील... Delhi Violence LIVE: हिंसा के बीच सीलमपुर पहुंचे NSA डोभाल, हालात का लिया जायजा Delhi Violence: दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का आदेश, देर रात सीलमपुर पहुंचे NSA अजित डोभाल हैदराबाद में शाहीन बाग क्यों नहीं वाली टिप्पणी पर फंसे इमरान प्रतापगढ़ी, एफआईआर देखिए, राष्ट्रपति भवन में डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया का डिनर अयोध्या: सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड ने स्वीकारी पांच एकड़ ज़मीन, कहा- मस्जिद के साथ अस्पताल भी बनेगा अमित शाह ने रद्द किया त्रिवेंद्रम दौरा, दिल्ली हिंसा पर की तीसरी बैठक दिल्ली के हिंसाग्रस्त इलाकों में बुधवार भी बंद रहेंगे स्कूल : पांच बड़ी ख़बरें
गौतम गंभीर ने कपिल मिश्रा पर कार्रवाई की मांग की दिल्ली हिंसा में मारे गए फुरकान के भाई ने कहा- वो तो बच्चों के लिए खाना लेने गया था डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे दिल्ली हिंसाः पुलिस पर गोली तानने वाला शख़्स CAA समर्थक प्रदर्शन का हिस्सा था?- फ़ैक्ट चेक कपिल मिश्रा का पुलिस को अल्टीमेटम, तीन दिन में सड़क खाली कराएं वरना हम आपकी भी नहीं सुनेंगे ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak दिल्ली हिंसा पर अब आया दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी का बयान, कहा- लोगों को भड़काने वालों की हो पहचान गुजरात के खंभात में सांप्रदायिक हिंसा, 13 लोग घायल, घर और दुकानें जलाई गईं Delhi Violence: विवादित बयान देने वाले कपिल मिश्रा बोले, 'जान से मारने की दी जा रही है धमकी' शांति बहाली के लिए केजरीवाल ने राजघाट पर की प्रार्थना, बोले- हिंसा पर पूरा देश चिंतित बिहार विधानसभा में CAA-NPR-NRC को लेकर हंगामा, तेजस्वी यादव ने नागरिकता कानून को बताया 'काला कानून'