Senatebillpassed, American Senate, America China Trade Wars, Coronavirus, Donald Trump, Alibaba Share Price, Delist Chinese Companies, World News İn Hindi, World Hindi News

Senatebillpassed, American Senate

अमेरिकी बाजारों से चीन की कंपनियों को निकालने के लिए विधेयक पास, अलीबाबा ग्रुप को खतरा

बुधवार को अमेरिकी संसद के एक सदन सीनेट में बुधवार को एक विधेयक पारित हुआ

21-05-2020 19:16:00

अमेरिकी बाजारों से चीन की कंपनियों को निकालने के लिए विधेयक पास, अलीबाबा ग्रुप को खतरा USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup SenateBillPassed

बुधवार को अमेरिकी संसद के एक सदन सीनेट में बुधवार को एक विधेयक पारित हुआ

Updated Thu, 21 May 2020 07:00 PM ISTविज्ञापनडोनाल्ड ट्रंप-शी जिनपिंगएड फ्री प्रीमियम एक्सपीरियंस के लिएअमर उजाला प्लस सब्सक्राइब करेंख़बर सुनेंख़बर सुनेंअमेरिका चीन पर लगाम कसने की पूरी तैयारी में है। बुधवार को अमेरिकी संसद के एक सदन सीनेट में एक विधेयक पारित हुआ, जिसके अनुसार अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड और बैदू इंक जैसी चीन की कंपनियों को अमेरिकी शेयर बाजारों में प्रतिबंधित किया जा सकता है। अमेरिका की दोनों प्रमुख राजनीतिक पार्टियां (रिपब्लिकन और डेमोक्रैट) इस विधेयक के समर्थन में हैं, इसलिए ऐसे विधेयक को बाइपार्टिसन विधेक कहा जाता है।

अफसर पर चप्पल बरसाती रहीं BJP नेता, मूक दर्शक बनी रही पुलिस BJP नेता सोनाली फोगाट ने अफसर को जड़ा थप्पड़, बरसाई चप्पल, वीडियो वायरल हथिनी की मौत: गिरफ़्तार अभियुक्त ने कहा- विस्फोटक नारियल में था

चीन की कंपनियों पर अमेरिकी बाजारों में नकेल कसने के लिए इस विधेयक को लुसियाना के रिपब्लिकन सीनेटर जॉन केनेडी और मैरीलैंड के डेमोक्रैट सीनेटर क्रिस वान हौलेन ने सीनेट में पेश किया था। सदन में विधेयक सर्वसम्मति से में पारित हो गया। विधेयक के प्रावधानों के मुताबिक कंपनियों को यह प्रमाणित करना होगा कि वे किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में नहीं हैं। हालांकि इसे लागू होने में अभी थोड़ा कानूनी दांव-पेच है।

ट्रंप लगातार चीन पर कोरोना को लेकर निशाना साध रहे हैंब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार विधेयक के पारित होने से अमेरिका में लिस्टेड की कुछ सबसे बड़ी चीन की कंपनियों के शेयरों में गुरुवार को गिरावट दर्ज की गई। जबकि इस दौरान बाजार में तेजी रही। विधेयक में कहा गया है कि अमेरिकी कंपनियों में निवेश को बढ़ावा देने के लिए ऐसा कदम उठाया गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार चीन पर कोरोना वायरस को लेकर ठीकरा फोड़ रहे हैं और सबक सिखाने की भी बात कर रहे हैं।

विधेयक में प्रावधान है कि यदि कोई कंपनी यह साबित करने में असफल रहती है कि वो किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में नहीं है या तीन साल तक अमेरिकी पब्लिक अकाउंटिंग ओवरसाइट बोर्ड (पीसीएओबी) ये पता नहीं कर पाता है कि कोई भी कंपनी किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में है, तो ऐसी कंपनियों को अमेरिका के शेयर बाजारों में प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।

हालांकि पीसीएओबी तकनीकी तौर पर अमेरिका की सरकारी संस्था नहीं है, लेकिन सिक्युरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) के निगरानी के तहत यह संचालित होती है। एसईसी के मुताबिक अमेरिका में 224 ऐसी कंपनियां लिस्टेड हैं, जिनके स्रोत देश पीसीएओबी को लेकर आपत्ति जता रहे हैं।

एक हफ्ते पहले अमेरिकी कंपनियों को चीन से वापस अमेरिका लाने के लिए भी कांग्रेस में एक बिल पेश किया गया है। अमेरिकी सांसद मार्क ग्रीन ने यह बिल कांग्रेस में पेश किया है। सांसद का कहना है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए अपने यहां निवेश को आकर्षित करना जरूरी है।

अमेरिका चीन पर लगाम कसने की पूरी तैयारी में है। बुधवार को अमेरिकी संसद के एक सदन सीनेट में एक विधेयक पारित हुआ, जिसके अनुसार अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड और बैदू इंक जैसी चीन की कंपनियों को अमेरिकी शेयर बाजारों में प्रतिबंधित किया जा सकता है। अमेरिका की दोनों प्रमुख राजनीतिक पार्टियां (रिपब्लिकन और डेमोक्रैट) इस विधेयक के समर्थन में हैं, इसलिए ऐसे विधेयक को बाइपार्टिसन विधेक कहा जाता है।

Video: TikTok स्टार और BJP नेता सोनाली फोगाट की दबंगई, अफसर पर बरसाई चप्पल आज तक @aajtak यूपी में बेहाल किसान, खेतों में मिट्टी के मोल बिक रहीं सब्जियां

विज्ञापनचीन की कंपनियों पर अमेरिकी बाजारों में नकेल कसने के लिए इस विधेयक को लुसियाना के रिपब्लिकन सीनेटर जॉन केनेडी और मैरीलैंड के डेमोक्रैट सीनेटर क्रिस वान हौलेन ने सीनेट में पेश किया था। सदन में विधेयक सर्वसम्मति से में पारित हो गया। विधेयक के प्रावधानों के मुताबिक कंपनियों को यह प्रमाणित करना होगा कि वे किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में नहीं हैं। हालांकि इसे लागू होने में अभी थोड़ा कानूनी दांव-पेच है।

ट्रंप लगातार चीन पर कोरोना को लेकर निशाना साध रहे हैंब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार विधेयक के पारित होने से अमेरिका में लिस्टेड की कुछ सबसे बड़ी चीन की कंपनियों के शेयरों में गुरुवार को गिरावट दर्ज की गई। जबकि इस दौरान बाजार में तेजी रही। विधेयक में कहा गया है कि अमेरिकी कंपनियों में निवेश को बढ़ावा देने के लिए ऐसा कदम उठाया गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार चीन पर कोरोना वायरस को लेकर ठीकरा फोड़ रहे हैं और सबक सिखाने की भी बात कर रहे हैं।

विधेयक में प्रावधान है कि यदि कोई कंपनी यह साबित करने में असफल रहती है कि वो किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में नहीं है या तीन साल तक अमेरिकी पब्लिक अकाउंटिंग ओवरसाइट बोर्ड (पीसीएओबी) ये पता नहीं कर पाता है कि कोई भी कंपनी किसी विदेशी सरकार के नियंत्रण में है, तो ऐसी कंपनियों को अमेरिका के शेयर बाजारों में प्रतिबंधित कर दिया जाएगा।

हालांकि पीसीएओबी तकनीकी तौर पर अमेरिका की सरकारी संस्था नहीं है, लेकिन सिक्युरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) के निगरानी के तहत यह संचालित होती है। एसईसी के मुताबिक अमेरिका में 224 ऐसी कंपनियां लिस्टेड हैं, जिनके स्रोत देश पीसीएओबी को लेकर आपत्ति जता रहे हैं।

और पढो: Amar Ujala »

RGGupta9 USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup टेक्नोलॉजी चोर चाइना USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup ऐसा क्या भारत मे नही हो सकता ? USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup India me bhi bnd hona chahiye USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup बहुत बढ़िया। भ्रष्टाचार में लिपा-पुता मेरा भारत कब ऐसी हिम्मत जुटा पाएगा

USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup Well done America to show the exit gate to China ..rest of the nation should take the same step as America did...China has to payoff for spreading this Corona. USSenatePhoto POTUS AlibabaGroup क्या देशवासियों को तिब्बत पर अपनी दावेदारी प्रस्तुत करने का दबाव नहीं बनाना चाहिए। जैसे चीन जब चाहे तब भारत के किसी भी भाग पर अपना दावा पेश कर देता है।

JK पुलिस को बड़ी कामयाबी, रियाज नायकू के करीबी को पकड़ा, NIA को सौंपाsunilJbhat मुझे तीन पर सबसे ज़्यादा भरोसा हैं RSS, ARMY, MODI और इन तीनों को मिलाकर जो बनता हैं वो हैं 😊 RAM 😊 😊 सुप्रभात 😊 🙏 जय श्री राम 🙏 Good morning everyone sunilJbhat 72 हुरो के पास पहुँच गए दोनो sunilJbhat Good job JmuKmrPolice Is kutte ko NIA ko handover karne se pehle achi si service karni thi..

अमेरिकी शोध में दावा, कोरोना के प्रसार को रोकने में कारगर नहीं गर्मियों का मौसमअमेरिकी शोध में दावा, कोरोना के प्रसार को रोकने में कारगर नहीं गर्मियों का मौसम POTUS realDonaldTrump WHO Coronavirus Covid19 Coronavirus Crisis Coronavirus Pandemic

जेवर एयरपोर्ट को विकसित करने के लिए स्विट्जरलैंड की कंपनी को मिली सुरक्षा मंजूरीजेवर एयरपोर्ट को विकसित करने के लिए स्विट्जरलैंड की कंपनी को मिली सुरक्षा मंजूरी JewarAirport UPGovt HMOIndia myogiadityanath Noida UttarPradesh MoCA_GoI UPGovt HMOIndia myogiadityanath MoCA_GoI Haad hai tum jaise patrakar aur patrakarita pay. Bina chate jaban ki khujali nahi jati UPGovt HMOIndia myogiadityanath MoCA_GoI Nice

अमेरिका ने अल कायदा के बड़े आतंकवादी इब्राहिम जुबैर को भारत को सौंपा, अमृतसर लाया गयाIndia News: मोहम्मद इब्राहिम जुबैर मूल रूप से हैदराबाद का रहने वाला है। उसने वहीं से शुरुआती पढ़ाई की और बाद में अमेरिका चला गया और वहां की नागरिकता भी हासिल कर ली। अमेरिकी कोर्ट ने उसे आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त होने का दोषी ठहराया है। अब होगा न्याय.. 300+ ka kamal hai

कॉलेजियम की सिफारिश के चार साल बाद कर्नाटक के न्यायिक अधिकारी को हाईकोर्ट जज बनाया गयाकॉलेजियम की सिफारिश के चार साल बाद कर्नाटक के न्यायिक अधिकारी को हाईकोर्ट जज बनाया गया SupremeCourt Collegium KarnatakaHighCourt Judge सुप्रीमकोर्ट कॉलेजियम कर्नाटकहाईकोर्ट जज

कोरोना के डर के बीच घरेलू सामान को कैसे इस्तेमाल करें?बाहर से सब्जी या फल खरीद रहे हैं, लेकिन साथ में कोरोना का खतरा साथ ना आ जाए इसके लिए इन चीजों के इस्तेमाल पर चंडीगढ़ पीजीआई

जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र शामली: एक को गिरफ्तार करने गई पुलिस ने 35 मुस्लिम घरों में तोड़फोड़ व मारपीट की NDTV से बोले नितिन गडकरी- देश संकट में है, अभी राजनीति करने का समय नहीं पुरी के जगन्नाथ मंदिर में देवस्नान के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, पुजारियों ने मास्क भी नहीं पहना - देखें VIDEO मोदी सरकार पर सिब्बल का वार, कहा- आत्मनिर्भर भारत अभियान एक और जुमला कोरोना वायरस: दुनिया भर में 65.6 लाख से ज़्यादा संक्रमित, 3.87 लाख लोगों की मौत - BBC Hindi एटलस साइकिल ने बंद किया आख़िरी कारखाना, हज़ार के क़रीब कर्मचारी बेरोज़गार George Floyd की मौत पर डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी टिफनी ने किया प्रदर्शनकारियों का समर्थन, शेयर की ये पोस्ट सीएए: प्रदर्शनकारियों को दिल्ली दंगों से जुड़े मामलों में गिरफ़्तारी पर सांसदों ने उठाई आवाज़ RS चुनाव: गुजरात में दो कांग्रेसी विधायकों के इस्‍तीफे से बीजेपी की बल्‍ले-बल्‍ले, कांग्रेस के सामने है यह उलझन..