अमरीका या रूसः सैन्य तकनीक-उपकरणों के लिए भारत किस पर ज़्यादा निर्भर?

अमरीका या रूसः सैन्य तकनीक-उपकरणों के लिए भारत किस पर ज़्यादा निर्भर?

2/26/2020

अमरीका या रूसः सैन्य तकनीक-उपकरणों के लिए भारत किस पर ज़्यादा निर्भर?

क्या सैन्य तकनीक-उपकरणों के लिए भारत ऐसी हैसियत में है कि जैसा चाहे, वैसा वो चुन सकता है?

ये एक्सटर्नल लिंक हैं जो एक नए विंडो में खुलेंगे शेयर पैनल को बंद करें इमेज कॉपीरइट Reuters पहले इन पांच बातों को ध्यानपूर्वक पढ़िए.• 25 फ़रवरी, 2020 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि दुनिया के सभी ताक़तवर देशों के बीच, भारतीय सेना अमरीकी सैनिकों के साथ सबसे ज़्यादा ट्रेनिंग करती है. उन्होंने ये भी बताया कि अमरीकी और भारतीय सेना के बीच पारस्परिक संबंध काफ़ी बेहतर हुए हैं.• इसके जवाब और भारत के अमरीकी एमएच 60 आर सीहॉक और अपाचे हेलिकाप्टर ख़रीदनों को सही ठहराते हुए अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रप ने इन शब्दों को इस्तेमाल किया,"हमारे सैनिक प्रशिक्षण देना और साथ में काम करना जारी रखेंगे."• रूसी सरकार का कहना है कि,"भारत के विदेशी देशों के साथ सैन्य-तकनीकी संबंधों में रूस सबसे पहले स्थान है, रूस की हिस्सेदारी भारत के सैन्य तकनीकी उपकरणों में 60 प्रतिशत से ज़्यादा है." बीते साल, रूसी समाचार एजेंसी तास ने रिपोर्ट किया था कि भारत ने क़रीब 14.5 अरब डॉलर के हथियार और सैन्य उपकरणों की ख़रीद का ऑर्डर रूस को दिया है.• भारतीय वायुसेना, थल सेना और नौ सेना, साइज़ और मात्रा के हिसाब से दुनिया की इकलौती सेना है जिसने अमरीका और रूस दोनों देशों के हथियारों को प्रमुख हथियारों में जगह दी हुई है.• 2014 से 2018 के बीच, भारत दुनिया का दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सैन्य हथियारों का आयातक देश था. स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एसआईपीआरआई) के मुताबिक़ दुनिया भर में बेचे जा रहे हथियारों में 10 प्रतिशत की ख़रीददारी भारत कर रहा था. इमेज कॉपीरइट Reuters इन सबके क्या मायने निकलते हैं? संक्षेप में कहें तो, इन बातों से ज़ाहिर होता है कि भारत ऐसी हैसियत में है कि जैसा चाहे, वैसा चुन सकता है. कई लोग यह कह सकते है कि भारत को अपने पैसों के उपयोगी इस्तेमाल की स्वतंत्रता है.भारतीय नौसेना के प्रवक्ता रहे कैप्टन डीके शर्मा (रिटायर्ड) इसे समझाते हुए कहते हैं,"इतिहास से ये ज़ाहिर है कि हमने सारे अंडों को एक टोकरी में रखने जैसी ग़लती कभी नहीं की. हम अपने सैन्य उपकरणों के लिए केवल एक स्रोत पर निर्भर नहीं रहे. हम अपनी स्वायत्ता क़ायम रखने में कामयाब रहे. इसलिए आज देखते हैं कि रफाल जेट फ्रांस से आ रहे हैं, पी8आई और एमएच60 आर हेलिकाप्टर अमरीका से और हवा में रक्षा करने वाले एस400 सिस्टम रूस से आ रहे हैं, तो हमारी नीति वही है."अर्थव्यवस्था में सुस्ती और वैश्विक स्तर पर ऊंचे पायदान वाली सीट की चाहत को जोड़कर देखें तो यही सवाल उत्पन्न होता है कि क्या अब तक अपनाए भारत का दृष्टिकोण अभी भी सही है? इमेज कॉपीरइट Reuters इसके अलावा, एक पहलू और है जिस पर लोगों का ध्यान कम ही जाता है.कैप्टन शर्मा बताते हैं,"भारतीय वायु सेना का उदाहरण लीजिए. सुखोई विमान रूस से आए थे, जगुआर ब्रिटेन से लिए गए थे. फ्रांस भी एक अन्य आपूर्तिकर्ता देश था. इन अलग-अलग देशों से उपकरणों की ख़रीद का असर हमारे सिस्टम पर बहुत अधिक पड़ा. लॉजिस्टिक नज़रिए से देखें तो इनके पार्ट्स को हासिल करना, शार्ट नोटिस पर उन्हें देश के विभिन्न स्थानों तक पहुंचाना और उसे चालू हालत में बनाए रखना, यह बहुत बड़ी चुनौती साबित हुआ है."इन अलग अलग तरह के उपकरणों के रख रखाव के लिए विदेशी फ़र्म को हर साल करोड़ों रुपये का भुगतान अलग करना होता है. कैप्टन शर्मा के मुताबिक़,"अगर हम आयात पर इतने अधिक निर्भर नहीं होते तो बाहर जाने वाला पैसा अपने देश में रहता. यही रफाल डील में भी हो रहा है."वैसे यहां यह स्पष्ट करना ज़रूरी है कि ऐसा भी नहीं है कि भारत ने इस दिशा में कुछ नहीं किया.आज भारत अपना एयरक्राफ्ट कैरियर, अपना फ़ाइटर जेट और अपना टैंक तक बना रहा है. लेकिन ये सब मिलकर भी भारत को उसकी मुश्किल से बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं.ऐसे में सवाल यही है कि भारत इस दिशा में कुछ कर सकता है? इमेज कॉपीरइट PIB विशेषज्ञ क्या कहते हैं? रक्षा अनुसंधान एवं विकास संस्थान (डीआरडीओ) के पूर्व वैज्ञानिक और प्रवक्ता रहे रवि गुप्ता एक दिलचस्प पहलू की ओर ध्यान दिलाते हैं.वे बताते हैं,"भारत परमाणु चालित पनडुब्बी बना सकता है, अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल बना सकता है, बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च करने वाली पनडुब्बी तैयार कर सकता है. इतना ही नहीं एंटी-सैटेलाइनट मिसाइल भी तैयार कर सकता है. हम जो आयात करते हैं, उससे ये सब ज़्यादा बेहतर हैं. कितना अजीब है ये. मेरे ख्याल से आयात पर पाबंदी लगाने की इच्छा शक्ति से जुड़ा मसला है यह. लेकिन मैं गारंटी दे सकता हूं अगर हम इच्छा शक्ति दिखाएं तो हमारी स्वदेशी तकनीकी अधिक बेहतर परिणाम दे सकती हैं."रवि गुप्ता कहते हैं,"इस बाज़ार को बनाने के लिए हम ज़िम्मेदार हैं, जहां वैश्विक कंपनियां पाई पाई के लिए होड़ कर रही हैं. वे हम पर दबाव डालते हैं, वे हमें एक के बाद दूसरे, दूसरे के बाद तीसरे और ऐसे ही तमाम कंपनियों से ख़रीदारी करने के लिए धकेलती हैं." इमेज कॉपीरइट Reuters ऐसे में भविष्य में क्या होगा? विदेशी मामलों और रणनीति पर नज़र रखने वाली वरिष्ठ पत्रकार स्मिता गुप्ता बताती हैं,"हमारी सैन्य निर्भरता काफ़ी हद तक रूस से शिफ्ट होकर अमरीका पर हो गई है. पहले जो तकनीक हमें नहीं दी जाती थी वह हमारे लिए अब उपलब्ध है. ऐसे में अमरीकी उपकरणों की संख्या बढ़ेगी. लेकिन मेक इन इंडिया को देखते हुए यह कितना अधिक होगा, यह सवाल बना हुआ है. इसके अलावा यह भी सही है कि जब अमरीका सख्ती से पेश आएगा और तकनीकों के स्थानांतरण पर रोक लगाएगा तो भारत एक बार यूरोपीय ताक़तों के साथ अपने संबंध मज़बूत करेगा."स्मिता शर्मा बताती है,"अभी यह निश्चित नहीं है कि भारत कब ख़ुद से अपनी ज़रूरतों को पूरी करने में सक्षम होगा और कब निर्यात करने की स्थिति में आएगा."स्मिता के मुताबिक़,"सैन्य सौदों का उपयोग अमूमन दो देशों के बीच सौदेबाज़ी की चिप के तौर पर होता है. इसका श्रेय भारत को देना होगा कि वह एक साथ अमरीका और रूस के साथ, ईरान और इसराइल के साथ संबंध रख रहा है. यह तनी हुई डोर पर चलने जैसा है लेकिन भारत के लिए नई बात बिलकुल नहीं है." बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां और पढो: BBC News Hindi

#जीवनसंवाद : जिसके होने से फर्क पड़ता है!



पांच दिन बाद घर पहुंचे सीएमएचओ दहलीज से चाय पीकर ही लौट आए, सभी कर रहे हैं सराहना

भारत में कोरोना वायरस के 'हॉटस्पॉट' कैसे बने ये 10 इलाक़े



तब्लीगी जमात के चलते देश में संक्रमण का विस्फोट, एक दिन में सवा दो सौ मामले, संक्रमितों की कुल संख्‍या 15 सौ से पार

तबलीगी जमात ने किया है तालिबानी जुर्म, माफी के लायक नहीं गुनाह: मुख्तार अब्बास नकवी



कोरोना से लड़ाई में रिलायंस के कदमों की पीएम मोदी ने की तारीफ, दिया चेयरमैन मुकेश अंबानी को धन्यवाद

पीएम केयर फंड प्रधानमंत्री मोदी की मां हीराबा ने अपनी बचत से 25 हजार रुपए दान किए; आईटीबीपी जवानों ने भी एक दिन का वेतन दिया



हा हा हा हा हा । बीबीसी को चिंता है ,! Aaj bbc ko unfollow kiya fake news about caa and against hindus विश्व गुरु और निर्भर ये कैसी भारत विरोधी बाते लिख रहे हो Next year Jwab du to Chalega uncle बीबीसी किस पर निर्भर है, ऐसे पत्रकारों पर ?!! क्या जरूरत पड़ रही है साला हथियार खरीदने की अब पाकिस्तान तो वैसे भी डरता है तो फिर किस पर चलाओगे

दोनो पर !!! क्यों के इस चूतिये को ‘हिंदू मुस्लिम, मस्जिद मंदिर’ से फ़ुरसत नही !!! और सपना देखता है १० सालों में अमेरिका के बराबरी का ? घंटा 👎👎👎

iQOO 3 5जी तकनीक के साथ भारत में हुआ लॉन्च, शुरुआती कीमत 36,990IQOO 3 5g smartphone launch in india: आईकू ने भारत में अपना पहला 5जी स्मार्टफोन आईकू 3 लॉन्च कर दिया है। यूजर्स को इस फोन में 5जी के साथ 4जी कनेक्टिविटी

अमेरिका से 21 हजार करोड़ के सैन्य उपकरण खरीदने का करार, पाकिस्तान पर आतंकवाद खत्म करने के लिए दबाव बनाएंगेडोनाल्ड ट्रम्प बोले- भारतीयों की मेहमाननवाजी याद रहेगी, गांधीजी के आश्रम में खास अनुभूति हुई मोदी ने कहा- अमेरिका और भारत के संबंध सिर्फ दो सरकारों के बीच नहीं, पीपुल सेंट्रिक है | Donald Trump In India Delhi Live Update; Prime Minister Narendra Modi to hold bilateral meeting with US President Donald Trump in Delhi today: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच मंगलवार को हैदराबाद हाउस में प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत होगी। कितना दबाव? उतना जितना वो भी 21000 करोड़ के सैन्य उपकरण खरीदने में मजबूर हो जाए? खैर अमरीकी कंपनियों को बधाई😏

चीन को घेरने के लिए पहली बार ट्रम्प ने पब्लिक प्लेटफार्म से क्वाड का जिक्र किया; डिफेंस डील से भारत की सैन्य ताकत बढ़ेगीअमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के चलते ट्रम्प ट्रेड डील को साल के अंत या अगले साल के शुरू में फाइनल करना चाहते हैं ट्रम्प ने बार-बार इस्लामिक कट्टरपंथ का जिक्र किया, पाकिस्तान को साफ संदेश दिलाने में भारत काफी हद तक कामयाब | donald trump india visit, donald trump, donald trump latest news, donald trump news, donald trump in india rashtrapatibhvn narendramodi realDonaldTrump SAVIDHANANE JEENE KI AAZADI DI PAR POLICE WALE,COLLECTOR,MAHANGAR PALICA NE CHHINI AAZADI rashtrapatibhvn narendramodi realDonaldTrump china pehle covid se lad le.

कोरोनावायरस : वुहान से भारतीयों को लाने बुधवार को विमान भेजेगा भारतकोरोनावायरस के कहर से सबसे ज्यादा जूझ रहे चीन के वुहान प्रांत में फंसे बाकी भारतीयों को वापस लाने के लिए भारत 26 फरवरी

भारत-पाकिस्तान के बीच 'कांटा' है J&K, जरूरत पड़ी तो करूंगा मध्यस्थता- डोनाल्ड ट्रम्पडोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि मैं कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता या मदद करने के लिए तैयार हूं। वो (पाकिस्तान) कश्मीर मुद्दे पर काम कर रहे हैं।

अमरीका और भारत के बीच तीन अरब डॉलर का रक्षा समझौतादो दिन की भारत यात्रा के बाद दोनों नेताओं ने साझा प्रेस कॉफ्रेंस में ये जानकारी दी Congratulations Modi ji मोदी जी दिल्ली हमारी जल रही है कहाँ है आप की सुरक्षा DelhiBurning जलो मत अपने मालिक से बोलों अच्छे हथियार बनाये। भारत उनसे भी लेगा।😅



#जीवनसंवाद : अच्छाई, एक बूमरैंग है!

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बने पीएम-केयर्स फंड पर खड़े हुए सवाल

सलमान खान के करीबी रिश्तेदार का मुंबई में निधन, शोक में डूबा परिवार

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा- PM CARES Fund में 500 करोड़ रुपये देंगे, दो राज्यों को 5-5 करोड़ देने की घोषणा

रांची के बड़ी मस्जिद में पकड़े गए 24 विदेशी मौलवी, पुलिस ने हिरासत में लिया; सभी के पासपोर्ट जब्त

महाराष्‍ट्र सरकार ने कहा, कोरोना से मरने वाले किसी भी धर्म के व्‍यक्ति के शव को जलाया जाएगा

कोरोना वायरस: Akshay Kumar के डोनेशन के बाद आगे आए ये सेलेब्स, जानें किसने कितना किया दान

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

26 फरवरी 2020, बुधवार समाचार

पिछली खबर

wasim rizvi on waris pathan: दिल्ली हिंसा: वसीम रिजवी ने वारिस पठान को ठहराया जिम्‍मेदार, कहा- '100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी' से उग्र हुए लोग - shia waqf board chairman wasim rizvi blamed on aimim leader waris pathan for delhi violence | Navbharat Times

अगली खबर

मलेशिया: महातिर ने इस्तीफ़ा देकर की ग़लती
#जीवनसंवाद : जिसके होने से फर्क पड़ता है! पांच दिन बाद घर पहुंचे सीएमएचओ दहलीज से चाय पीकर ही लौट आए, सभी कर रहे हैं सराहना भारत में कोरोना वायरस के 'हॉटस्पॉट' कैसे बने ये 10 इलाक़े तब्लीगी जमात के चलते देश में संक्रमण का विस्फोट, एक दिन में सवा दो सौ मामले, संक्रमितों की कुल संख्‍या 15 सौ से पार तबलीगी जमात ने किया है तालिबानी जुर्म, माफी के लायक नहीं गुनाह: मुख्तार अब्बास नकवी कोरोना से लड़ाई में रिलायंस के कदमों की पीएम मोदी ने की तारीफ, दिया चेयरमैन मुकेश अंबानी को धन्यवाद पीएम केयर फंड प्रधानमंत्री मोदी की मां हीराबा ने अपनी बचत से 25 हजार रुपए दान किए; आईटीबीपी जवानों ने भी एक दिन का वेतन दिया तब्लीगी जमात सम्‍मेलन के बारे में गृहमंत्रालय ने लॉक डाउन से पहले ही राज्यों को कर दिया था आगाह, जानें इस बारे में Nizamuddin Markaj Update: सरकार की बड़ी कार्रवाई, आयोजकों पर FIR; मरकज में शामिल विदेशियों का वीजा रद तब्लीगी जमात के सम्मेलनों से कई देशों में फैला कोरोना, जानें कहां-कहां फैलाया वायरस इटली ने महामारी में जान गंवाने वालों को दी श्रद्धांजलि, मौन रख कर झुकाया आधा झंडा, जानें बाकी दुनिया का हाल मरकज की लापरवाही पर क्राइम ब्रांच करेगी जांच, मौलाना के खिलाफ केस दर्ज
#जीवनसंवाद : अच्छाई, एक बूमरैंग है! कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बने पीएम-केयर्स फंड पर खड़े हुए सवाल सलमान खान के करीबी रिश्तेदार का मुंबई में निधन, शोक में डूबा परिवार रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा- PM CARES Fund में 500 करोड़ रुपये देंगे, दो राज्यों को 5-5 करोड़ देने की घोषणा रांची के बड़ी मस्जिद में पकड़े गए 24 विदेशी मौलवी, पुलिस ने हिरासत में लिया; सभी के पासपोर्ट जब्त महाराष्‍ट्र सरकार ने कहा, कोरोना से मरने वाले किसी भी धर्म के व्‍यक्ति के शव को जलाया जाएगा कोरोना वायरस: Akshay Kumar के डोनेशन के बाद आगे आए ये सेलेब्स, जानें किसने कितना किया दान Navratri 2020: छठे दिन होती है मां कात्यायनी पूजा, जानें कैसे करें आराधना कोरोना वायरसः यूपी के बरेली में बसों और दीवारों की तरह इन ग़रीबों को भी सैनिटाइज़ कर दिया निजामुद्दीन स्थित मरकज में पहले से जमा थे दो हजार लोग, इनमें से 200 कोरोना संदिग्ध निकले; अब बाकियों को इलाके से निकाला जा रहा Corona Virus Outbreak Live Updates: COVID-19 Effect And Lockdown In India And World - कोरोना वायरस लाइव अपडेट - ऐसे में जब निजामुद्दीन मरकज मामले पर स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा- यह समय गलतियां खोजने का नहीं बल्कि कार्रवाई करने का है। कोरोना के खिलाफ दुनिया भर में जल्द ही एक साथ कार्रवाई हो : जिनपिंग