अनीता आनंदः जिन्हें कनाडा के पीएम ने मुश्किल दौर में बनाया रक्षा मंत्री - BBC News हिंदी

अनीता आनंदः जिन्हें कनाडा के पीएम ने मुश्किल दौर में बनाया रक्षा मंत्री

27-10-2021 13:54:00

अनीता आनंदः जिन्हें कनाडा के पीएम ने मुश्किल दौर में बनाया रक्षा मंत्री

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने एक ऐसे समय में अनीता आनंद को ये अहम ओहदा दिया है जब वहाँ सेना यौन दुराचार के मामलों से जूझ रही है.

क्या होंगी चुनौतियांये भी बताया जाता है कि अनीता आनंद जस्टिस ट्रूडो की करीबी मानी जाती हैं. पत्रकारों से बातचीत में जस्टिस ट्रूडो कह चुके हैं अनीता आनंद का शासन चलाने का अच्छा अनुभव है.अनीता आनंद के सामने चुनौतियां भी कई होंगी.वो पत्रकारों से बातचीत में कह चुकी हैं कि 'वह अपने नए विभाग के साथ काम करने की तैयारी कर रही हैं और आने वाले दिनों में कई सवालों के "बहुत स्पष्ट" जवाब देने में सक्षम होंगी.'

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बोले-मथुरा की तैयारी, छिड़ी बहस - BBC News हिंदी 'इन बैठकों से कुछ नहीं होने वाला' : ममता बनर्जी की मुंबई में एनसीपी, शिवसेना नेताओं से भेंट पर बीजेपी का तंज.. कार्टून: आंकड़े कहां से आएंगे? - BBC News हिंदी

साथ ही उनका कहना था, ''मैं एक महिला हूं, ये एक पहलू हो सकता है लेकिन इस रोल में मैं अपने अलग-अलग तजुर्बे भी लाऊंगी जिसमें मेरा काम का अनुभव, क़ानून की जानकारी और प्रक्रिया शामिल होगी.'''नए रोल में अपनी भूमिका पर उन्होंने पत्रकारों से कहा, ''मेरी पहली प्राथमिकता ये होगी कि सेना में सभी सुरक्षित महसूस करें और उन्हें जब चाहिए तब सहायता मिले और ऐसी व्यवस्था हो जो न्याय देने का आश्वासन दे.''

पत्रकार गुरप्रीत सिंह कहते हैं, ''अनीता आनंद के सामने सबसे बड़ी चुनौती सेना में काम कर रही महिलाओं का विश्वास जीतना है और ये भी दिखाना कि वो क्या अलग कर सकती हैं. ख़ासतौर पर जिन अधिकारियों पर सवाल उठे हैं , उन्हें लेकर वे क्या कदम उठाती है वो देखने की बात होगी.'' headtopics.com

साथ ही रक्षा मामलों में वे क्या नीतियां अपनाती हैं, उदाहरण के तौर पर अफ़ग़ानिस्तान की ताज़ा स्थिति और वहां फंसे लोगों को लेकर उनकी क्या नीति रहेगी ये देखने वाली बात होगी.अनीता आनंद कोविड-19 के दौर में सार्वजनिक सेवा और खरीद मंत्री के तौर पर काम कर रहीं थी. इस दौरान जहां उनके काम को सराहा गया तो उनकी तारीफ़ भी हुई थी.

गुरप्रीत सिंह बताते हैं कि भारत में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर जस्टिन ट्रूडो ने बयान दिया था और फिर भारत से वैक्सीन की मांग भी की थी. इसे लेकर उनकी आलोचना भी हुई थी. माना जाता है कि ऐसा उन्होंने अनीता आनंद के कहने पर किया था.इमेज स्रोत,इमेज कैप्शन,जस्टिन ट्रूडो-नरेंद्र मोदी

दरअसल भारत में किसान नए कृषि क़ानून के विरोध में कई महीनों से सड़क पर हैं.इस पर ट्रूडो ने कनाडा में सिख समुदाय के क़रीब पाँच लाख लोगों के लिए गुरु नानक देव की जयंती पर दिए ऑनलाइन संदेश में कहा था कि अगर वो भारत में चल रहे किसानों के प्रदर्शन को नोटिस नहीं करेंगे तो यह उनकी लापरवाही होगी.

साथ ही जस्टिन ट्रूडो ने कहा था, ''स्थिति चिंताजनक है. हम सभी प्रदर्शनकारियों के परिवार और दोस्तों को लेकर चिंतित हैं. मैं आपको याद दिलाना चाहूंगा कि कनाडा हमेशा से शांतिपूर्ण विरोध-प्रदर्शन के अधिकार को लेकर सजग रहा है. हम संवाद की अहमियत में भरोसा करते हैं. हमने भारत के अधिकारियों से इसे लेकर सीधे बात की है.' headtopics.com

कोविड वैक्सीनः अमेरिका के कई सैनिकों ने नहीं लगवाया टीका, क्या हो सकती है कार्रवाई - BBC News हिंदी अमित शाह से मिले केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले, उत्तर प्रदेश चुनाव में मांगीं 10 सीटें इतिहास में पहली बार ट्रेन से चला प्याज: 220 टन लाल प्याज किसान व्यापारियों ने सीधे असम भेजा, 1836km का सफर करेगा

ट्रूडो के बयान पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने कड़ी आपत्ति जताई थी. इसके बाद दोनों देशों में एक तल्ख़ी देखी गई थी. लेकिन फिर कनाडा ने भारत से कोविड वैक्सीन देने की अपील की थी.पत्रकार गुरप्रीत सिंह बताते हैं, ''जब भारत से वैक्सीन आई तो वो बांटी जाने से पहले एक्सपायर हो गईं थी और पूरी मात्रा में भी नहीं आई थी तो इसे लेकर आलोचना भी हो रही थी. साथ ही ये भी कहा जा रहा था कि ट्रूडो किसानों के मुद्दे पर बोल रहे हैं और भारत से मदद भी ले रहे हैं. ये कहा जा रहा था कि वो ऐसा आनंद के कहने पर कर रहे थे क्योंकि वो कनाडा इंडिया फाउंडेशन से भी जुड़ी रही हैं.''

कनाडा इंडिया फाउंडेशन को एक भारतीय समर्थित लॉबी ग्रुप माना जाता है.ऐसे में लोग सवाल उठा रहे हैं कि टीके को लेकर जब ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई थी तो वो रक्षा मंत्रालय कैसे संभाल पाएंगी. वहीं ये भी कहा जा रहा है कि 'जस्टिन ट्रूडो इज़ इन हरी' यानी 'प्रधानमंत्री जल्दबाज़ी में हैं'. लेकिन ये भी एक सच्चाई है कि किसी भारतीय मूल की पहली महिला को रक्षा मंत्री बनाया गया है और ये ऐतिहासिक है.

और पढो: BBC News Hindi »

इतिहास में पहली बार ट्रेन से चला प्याज: 220 टन लाल प्याज किसान व्यापारियों ने सीधे असम भेजा, 1836km का सफर करेगा

राजस्थान के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब यहां होने वाली प्याज को ट्रेन से किसी दूसरे राज्य में भेजा गया है। पहली बार अलवर की प्याज रेल से असम भेजा गया है। पूरे प्रदेश में इससे पहले कभी भी प्याज को मालगाड़ी से ट्रांसपोर्ट नहीं किया गया। किसान रेल के जरिए किसानों की उपज को भेजने की उत्तर पश्चिम रेलवे ने यह शुरुआत की है। | उत्तर पश्चिम रेलवे के क्षेत्र में किसान रेल की अलवर से शुरूआत, 220 टन प्याज अलवर से असम भेजी

Modi ji ka Masterstroke...🤙🤣 सब मोदीजी के नसीबों से..! _नसीबोंवाला बस मैंच 'शमी' हरा देता हैं..!! Proud Hindu lady. 🙏🙏🙏🇮🇳 तो इसमें हम भारतीयों को इतना खुश होने की ज़रूरत नहीं है क्यूंकि यह कनाडा का इंटरनल मैटर हे Bharat ke log videshi logo se nafrat karte hai. Lekin videsho mein jakar mantri aur sansad bann jate hai. Yahan rajya sabha mein 2 members Anglo Indian community se the unko bhi hatva diya.

J-K: आतंकियों ने बांदीपोरा के टैक्सी स्टैंड के पास किया धमाका, छह लोग घायलजम्मू कश्मीर में बांदीपोरा के टैक्सी स्टैंड पर धमाका हुआ है. इसमें छह आम नागरिकों के घायल होने की जानकारी है, जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं.

तेंदुए ने शेर के बच्चे को मार डाला, शेरनी के सामने से खींचकर ले गयातंजानिया के रूहा नेशनल पार्क (Ruaha National Park) में एक शेरनी अपने बच्चों (शावकों) के लिए भोजन की तलाश में जा रही थी. लेकिन तभी एक भूखे तेंदुए की नजर शेरनी के बच्चों पर पड़ गई.

ममता का आरोप: आम लोगों को प्रताड़ित करने के लिए केंद्र ने बढ़ाए बीएसएफ के अधिकारममता का आरोप: आम लोगों को प्रताड़ित करने के लिए केंद्र ने बढ़ाए बीएसएफ के अधिकार Westbengal BSF MamataBanerjee MamataOfficial BJP4India MamataOfficial BJP4India BSF se aam log Kyun pratarit hone lage ...? Police ki chowki to hmsa ghr k as ps hi hoti tab bhi aam log pratarit nahi hote sirf chor logon ko hi pratarna mehsus hoti hai ... MamataOfficial BJP4India डरे हुए आम आदमी = घुसपैठिए !

द्रविड़ ने किया टीम इंडिया के हेड कोच के लिए आवेदन, लक्ष्मण संभालेंगे NCA की जिम्मेदारी?RahulDravid VVSLaxman RaviShastri souravganguly TeamIndia headcoach cricketnews NCA BCCI बीसीसीआई ने पहले भी राहुल द्रविड़ से हेड कोच बनने की बात कही थी, लेकिन दब उन्होने मना कर दिया था।

पेगासस के ज़रिये भारतीय नागरिकों की जासूसी के आरोपों की जांच के लिए विशेष समिति गठितसुप्रीम कोर्ट ने समिति का गठन करते हुए कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा की आड़ में निजता का हनन नहीं हो सकता. अदालत ने इस मामले में केंद्र सरकार द्वारा उचित हलफ़नामा दायर न करने को लेकर गहरी नाराज़गी जताई और कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा को ख़तरा होने का दावा करना पर्याप्त नहीं है, इसे साबित भी करना होता है. सबसे पहले तुम्हारे जैसे चरसी पत्रकार की भी जासूसी करवानी चाहिए

मोहम्मद शमी के ट्रोल्स को सचिन तेंदुलकर ने दिया जवाब - BBC Hindiरविवार को हुए टी-20 मैच में भारत को पाकिस्तान से मिली क़रारी हार के बाद सोशल मीडिया पर भारतीय गेंदबाज़ मोहम्मद शमी को ट्रोल किया जा रहा है. लेकिन अब शमी के समर्थन में एक के बाद एक लोग सामने आ रहे हैं. Socialistic action. Which Govt has done it? Following whom?