अनिल विज बोले- हरियाणा में नहीं लगेगा लॉकडाउन, कोरोना से जुड़े नियम सख्ती से होंगे लागू

लॉकडाउन नहीं लगाएंगे लेकिन कोरोना नियमों को लागू करने के लिए राज्य में सख्ती कर रहे हैं: अनिल विज

25-11-2020 19:58:00

लॉकडाउन नहीं लगाएंगे लेकिन कोरोना नियमों को लागू करने के लिए राज्य में सख्ती कर रहे हैं: अनिल विज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए हमारे पास दो रास्ते हैं. पहला कि लॉकडाउन लगाया जाए, दूसरा कि सख्ती की जाए. मैंने दूसरे रास्ते को अख्तियार करने का फैसला किया है. सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है को वे कोरोना प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू कराएं.

कमला हैरिस की 10 रोचक बातें: पुलिसकर्मियों पर बॉडी कैमरा के जरिए नकेल कसी; खाना बनाने की शौकीन, रेसिपी शेयर भी करती हैं

कमला हैरिस अमेरिका की पहली महिला उपराष्ट्रपति बनने जा रही हैं। वे पहली अश्वेत महिला और भारतीय मूल की पहली महिला होंगी जो इस पद पर पहुंचीं। कमला के पति का नाम डग एमहॉफ है। वे मानती हैं कि डग चुनौतियों और मुश्किल वक्त में हमेशा उनके साथ खड़े रहे। इसके लिए उन्होंने कई त्याग भी किए। कमला की मां भारतीय और पिता जमैका मूल के थे। | Kamala Harris Inauguration कमला हैरिस अमेरिका की पहली महिला उपराष्ट्रपति बनने जा रही हैं। वे पहली अश्वेत महिला और भारतीय मूल की पहली महिला होंगी, इस पद पर पहुंचीं। कमला के पति का नाम डग एमहॉफ है।

स्टोरी हाइलाइट्सकोरोना नियमों को सख्ती से लागू करने का आदेशपीएम के दिए लक्ष्य को पूरा करने का जताया भरोसा'लॉकडाउन नहीं लगेगा, नियम सख्ती से होंगे लागू'वालंटियर के तौर पर कोरोना वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के स्वास्थ्य और गृह मंत्री अनिल विज ने राज्य में सख्ती बरते जाने की बात कही है. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने के दो रास्ते हैं. पहला लॉकडाउन और दूसरा सख्ती. लॉकडाउन नहीं लगाएंगे लेकिन कोरोना नियमों को लागू करने के लिए राज्य में सख्ती कर रहे हैं.

बाइडन राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद बोले, ‘लोकतंत्र क़ायम है’ – आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi अमेरिकी इतिहास का नया अध्याय: यूनिटी के वादे के साथ अमेरिका के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति बने बाइडेन, कमला पहली महिला उपराष्ट्रपति आज तक @aajtak

बहरहाल, अनिल विज ने बताया कि उन्होंने कोरोना वैक्सीन के ट्रायल का इंजेक्शन लगवाया. उन्होंने कहा, 'हम दूसरों से इंजेक्शन लगवाने के लिए कहते रहें और खुद न लगवाएं वो ठीक बात नहीं है. यह टीका लगभग 26 हजार लोगों को लगना है. टीका लगेगा तभी रिसर्चर किसी निष्कर्ष पर पहुंचेंगे कि वैक्सीन ठीक है या नहीं.' अनिल विज ने कहा, 'टीका लगने के बाद मैं बिल्कुल ठीक हूं. मैं रूटीन का काम कर रहा हूं. किसी प्रकार का रिएक्शन नहीं है.'

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री ने आजतक से कहा कि कोरोना से निपटने के लिए हमारे पास दो रास्ते हैं. पहला कि लॉकडाउन लगाया जाए, दूसरा कि सख्ती की जाए. मैंने दूसरे रास्ते को अख्तियार करने का फैसला किया है. सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे कोरोना प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू कराएं. लोगों को सख्ती के साथ मास्क लगाने के लिए कहिए. जो मास्क नहीं लगा रहा उसका चालान कीजिए. लोगों को इसके लिए शिक्षित कीजिए. headtopics.com

अनिल विज ने बताया कि उन्होंने खुद बाजार में खड़े होकर लोगों को मास्क बांटे. उन्होंने कहा कि हमने बाकी नेताओं से अपील की है कि आप भी मास्क बांटिए और हम एक मूवमेंट चलाएं ताकि कोरोना की चपेट में आने से बचा जा सके. कोरोना से निपटने का यही एक तरीका है.नाइट कर्फ्यू लगाने की योजना पर अनिल विज ने कहा कि हमारी ऐसी कोई योजना नहीं है. उन्होंने कहा कि हम नाइट कर्फ्यू लगाने के बारे में नहीं सोच रहे हैं और ना हम किसी प्रकार का लॉकडाउन लगाने के बारे में सोच रहे हैं.

देखें:आजतक LIVE TVमंत्री ने कहा, 'हम अपने उपायों से कोरोना को नियंत्रित कर सकते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में कहा कि कोरोना संक्रमण की दर को पांच प्रतिशत से नीचे और मृत्युदर को एक फीसदी से नीचे लाइए. मैं समझता हूं कि हम अपने उपायों से इस लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं, लोगों को बचा सकते हैं. हरियाणा में कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए सभी प्रकार की तैयारियां की हैं. हमने राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों में क्रिटिकल कोरोना वार्ड स्थापित किए हैं ताकि तो गंभीर मामले आएं उनका इलाज मुमकिन हो सके.'

अनिल विज ने बताया कि रोहतक पीजीआई में पोस्ट कोरोना एंड रिसर्ज सेंटर की स्थापना की गई है. क्योंकि कोरोना के बाद लोगों में बहुत प्रकार के लक्षण देखने को मिल रहे हैं, जिनका अध्ययन किया जाना आवश्यक है, जिनका उपचार करना आवश्यक है. उन्होंने कहा कि कोरोना से ठीक हो चुके लोगों के लिए भी सेंटर्स खोले गए हैं. जो मरीज होम आइसोलेशन में हैं उनसे भी डॉक्टर्स मिलने जा रहे हैं.

और पढो: आज तक »

मेरी सभी देशवासियों से एक अपील है, इन MCI के कर्मचारियों को न्याय दिलाने में इन सबकी मदद करें, ये सब बेकसूर है,अगर इनके साथ कुछ बुरा हुआ तो 100 लोग बेरोजगार हो जाएगा,उनके साथ उनका परिवार भी है,परिवार में छोटे बच्चे और बुजुर्ग माता पिता है कृप्या इनका साथ दे! Justice4MCIEmployees Are bharwe sambit abhi toh trailer Hai puri film Abhi Baki Hai

किसान खतरनाक मूड में हैं| कार, ट्रैक्टर लेकर सीधे चढा दिये पुलिसिया इंतजाम पर| अंबाला में हरियाणा पुलिस की कोई तैयारी फिलहाल काम नहीं आ रही| किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहे हैं|