Akshayatritiya 2021, Marriagescancelled, Covid 19, Akshay Tritiya, Akshaya Tritiya 2021, Akshaya Tritiya News, Marriage, Coronavirus, Lockdown News, Lockdown İn Up, Prayagraj News İn Hindi, Latest Prayagraj News İn Hindi, Prayagraj Hindi Samachar

Akshayatritiya 2021, Marriagescancelled

अक्षय तृतीया : कोरोना ने 300 से अधिक शादियों पर लगाया ब्रेक, नहीं सजीं डोलियां

अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में शुक्रवार को रीवा के सुमित सेन की बेटी की शादी किंग गार्डन से होनी थी, लेकिन दुल्हन और

14-05-2021 22:33:00

अक्षय तृतीया : कोरोना ने 300 से अधिक शादियों पर लगाया ब्रेक, नहीं सजीं डोलियां AkshayaTritiya2021 MarriagesCancelled Covid19

अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में शुक्रवार को रीवा के सुमित सेन की बेटी की शादी किंग गार्डन से होनी थी, लेकिन दुल्हन और

Published by:विनोद सिंहUpdated Sat, 15 May 2021 12:54 AM ISTसारफलदायिनी अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त पर टूटे कई परिवारों के अरमान, पाबंदियों की वजह से दूसरे राज्यों से नहीं आ सके दूल्हा-दुल्हन और रिश्तेदारविज्ञापनसांकेतिक तस्वीर- फोटो : अमर उजालापढ़ें अमर उजाला ई-पेपर

नाकाबिल नवजोत सिंह सिद्धू को बतौर CM नहीं करूंगा कबूल : अमरिंदर सिंह सोनू सूद ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की: आयकर विभाग - BBC News हिंदी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से कहा- सिद्धू पाकिस्तान समर्थक, उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता

कहीं भी, कभी भी।ख़बर सुनेंख़बर सुनेंअक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में शुक्रवार को रीवा के सुमित सेन की बेटी की शादी किंग गार्डन में होनी थी, लेकिन दुल्हन और परिवार के लोग भी नहीं आ सके। इसी तरह एमपी से ही दिलीप जायसवाल के बेटे की भी बरात नहीं आ सकी। कोरोना संक्रमण से जूझ रही संगमनगरी में अक्षय फलदायिनी अक्षय तृतीया पर तीन सौ घरों में शहनाई नहीं बज सकी। कुछ स्थानों पर शादियां हुईं भी तो सिर्फ रस्म अदायगी तक सिमटी रहीं। इसी तरह कई परिवारों ने शादियां टाल दी हैं, जिससे गेस्टहाउस संचालकों को भी तगड़ा नुकसान हुआ है। एक अनुमान के मुताबिक करीब तीन सौ शादियां अक्षय तृतीया पर होनी थीं लेकिन कोरोना के कारण फिलहाल टाल दी गई हैं।

शादी के लिए अक्षय तृतीया को सबसे शुभ माना जाता है। ऐसे में इस तिथि पर शादियों की हमेशा होड़ रहा करती है। इस बार शुक्रवार को भी अक्षय तृतीया पर कोरोना संक्रमण के बावजूद होटल, गार्डेन में शादियों की खूब बुकिंग थी। लेकिन, संक्रमण के खौफ के अलावा अनुमति न मिलने से तमाम परिवारों की खुशियों पर पानी फिर गया। प्रयागराज लाइट एंड साउंड वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सुजीत कुमार यादव के मुताबिक तीन सौ से अधिक शादियों की बुकिंग अक्षय तृतीया पर निरस्त हुई हैं। headtopics.com

इससे लाइट एंड साउंड के साथ ही घोड़ियों, बग्घियों के कारोबार को तगड़ा झटका लगा है। रेखा देवी प्रजापति की पुत्री की शादी शुक्रवार को महर्षि दयानंद संस्थान से होनी थी। उन्होंने पुत्री की शादी के लिए बीते मार्च में ही संस्थान में बुकिंग कराई थी। अप्रैल में जब कोरोना कर्फ्यू लगा तब भी उन्हें उम्मीद थी कि अक्षय तृतीया से पहले सब कुछ सामान्य हो जाएगा। लेकिन, अब सार्वजनिक स्थल पर भीड़ न लगाने और अनुमति न मिलने से पूरे परिवार के अरमान टूट गए। इनके अलावा सुलेम सराय की सुधा सिंह की भी पुत्री की शादी स्थगित करनी पड़ी। लाइट एंड साउंड एसोसिएशन के संरक्षक संजय अग्रवाल बताते हैं कि कोरोना कर्फ्यू की पाबंदियों के कारण अक्षय तृतीया को होने वाली कई शादियां नहीं हो सकीं।

कोरोना कर्फ्यू की वजह से अक्षय तृतीया पर शहर में कहीं भी शहनाई नहीं बज सकी। बाहर से कई परिवार ऐसे थे, तो सख्ती की वजह से दूल्हा, दुल्हन को भी लेकर नहीं आ सके। पाबंदियों के अलावा अनुमति न मिलने से शादियों की बुकिंग निरस्त हो गई। -सुजीत कुमार यादव, अध्यक्ष, प्रयागराज लाइट एंड साउंड वेलफेयर एसोसिएशन

विस्तारअक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में शुक्रवार को रीवा के सुमित सेन की बेटी की शादी किंग गार्डन में होनी थी, लेकिन दुल्हन और परिवार के लोग भी नहीं आ सके। इसी तरह एमपी से ही दिलीप जायसवाल के बेटे की भी बरात नहीं आ सकी। कोरोना संक्रमण से जूझ रही संगमनगरी में अक्षय फलदायिनी अक्षय तृतीया पर तीन सौ घरों में शहनाई नहीं बज सकी। कुछ स्थानों पर शादियां हुईं भी तो सिर्फ रस्म अदायगी तक सिमटी रहीं। इसी तरह कई परिवारों ने शादियां टाल दी हैं, जिससे गेस्टहाउस संचालकों को भी तगड़ा नुकसान हुआ है। एक अनुमान के मुताबिक करीब तीन सौ शादियां अक्षय तृतीया पर होनी थीं लेकिन कोरोना के कारण फिलहाल टाल दी गई हैं।

विज्ञापनmarriage- फोटो : istockशादी के लिए अक्षय तृतीया को सबसे शुभ माना जाता है। ऐसे में इस तिथि पर शादियों की हमेशा होड़ रहा करती है। इस बार शुक्रवार को भी अक्षय तृतीया पर कोरोना संक्रमण के बावजूद होटल, गार्डेन में शादियों की खूब बुकिंग थी। लेकिन, संक्रमण के खौफ के अलावा अनुमति न मिलने से तमाम परिवारों की खुशियों पर पानी फिर गया। प्रयागराज लाइट एंड साउंड वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सुजीत कुमार यादव के मुताबिक तीन सौ से अधिक शादियों की बुकिंग अक्षय तृतीया पर निरस्त हुई हैं। headtopics.com

कैप्टन अमरिंदर सिंह क्या पंजाब कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन सकते हैं - BBC News हिंदी कानूनी ढांचे पर छलका CJI का दर्द: चीफ जस्टिस रमना बोले- देश में अब भी गुलामी के दौर की न्याय व्यवस्था, यह भारत के हिसाब से ठीक नहीं कैप्टन के इस्तीफे के बाद Punjab में कितनी बढ़ गईं Congress की मुश्किलें, समझिए

marriage- फोटो : istockइससे लाइट एंड साउंड के साथ ही घोड़ियों, बग्घियों के कारोबार को तगड़ा झटका लगा है। रेखा देवी प्रजापति की पुत्री की शादी शुक्रवार को महर्षि दयानंद संस्थान से होनी थी। उन्होंने पुत्री की शादी के लिए बीते मार्च में ही संस्थान में बुकिंग कराई थी। अप्रैल में जब कोरोना कर्फ्यू लगा तब भी उन्हें उम्मीद थी कि अक्षय तृतीया से पहले सब कुछ सामान्य हो जाएगा। लेकिन, अब सार्वजनिक स्थल पर भीड़ न लगाने और अनुमति न मिलने से पूरे परिवार के अरमान टूट गए। इनके अलावा सुलेम सराय की सुधा सिंह की भी पुत्री की शादी स्थगित करनी पड़ी। लाइट एंड साउंड एसोसिएशन के संरक्षक संजय अग्रवाल बताते हैं कि कोरोना कर्फ्यू की पाबंदियों के कारण अक्षय तृतीया को होने वाली कई शादियां नहीं हो सकीं।

कोरोना कर्फ्यू की वजह से अक्षय तृतीया पर शहर में कहीं भी शहनाई नहीं बज सकी। बाहर से कई परिवार ऐसे थे, तो सख्ती की वजह से दूल्हा, दुल्हन को भी लेकर नहीं आ सके। पाबंदियों के अलावा अनुमति न मिलने से शादियों की बुकिंग निरस्त हो गई। -सुजीत कुमार यादव, अध्यक्ष, प्रयागराज लाइट एंड साउंड वेलफेयर एसोसिएशन

विज्ञापनआगे पढ़ेंविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.