Jaipur में महिला के पैर काटकर पायल की लूट, मामले पर क्यों घिर गई गहलोत सरकार?

Redirecting to full article in 5 second(s)...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार सुबह ट्वीट करते हैं. ट्वीट करके बताते हैं कि आगरा में पुलिस कस्टडी में जान गंवाने वाले दलित अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात की. यानी अपने राज्य से 300 किमी दूर दूसरे राज्य के पीड़ित से मुख्यमंत्री मिलते हैं. दूसरे राज्य के पीड़ित परिवार से राजस्थान के शिक्षा मंत्री और राजस्थान के कांग्रेस अध्यक्ष मिल लेते हैं लेकिन जयपुर में ही जिस महिला के पैर काटकर लूट हुई उसके घर जाने की फुर्सत ना मुख्यमंत्री को मिली, ना मंत्री को ना प्रशासन के किसी बड़े अधिकारी को. देश में महिला अपराध में नंबर वन राज्य राजस्थान की राजधानी में मुख्यमंत्री, मंत्री, अधिकारियों की नाक के नीचे अपराधी इतना बेखौफ हो गए हैं. देखें ये रिपोर्ट.