किस बात पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हजारों फूल खिलने दें, जहां से भी संभव हो ज्ञान आने दें

Redirecting to full article in 0 second(s)...

जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा कि हालांकि यह याचिका कोविड के दूसरे लहर के दौरान दाखिल की गई थी और आपका मकसद हमारे आदेशों से पूरा हो गया है। हम पहले से ही कोविड से निपटने के लिए तैयारियों के बारे में स्वयं संज्ञान लेकर आदेश पारित कर चुके हैं।