Afghanistan में Taliban राज का कैसा कटा एक महीना, खबरदार में देखें विश्लेषण

Redirecting to full article in 0 second(s)...

15 अगस्त से आज 15 सितंबर तक तालिबान के राज में अफगानिस्तान का ये एक महीना चिंताओं, आशंकाओं और तकलीफों के बीच गुज़रा है. तालिबान शब्द ही अफगानिस्तानियों के लिए अत्याचार का पर्यायवाची बना हुआ है. लेकिन इस एक महीने में तालिबानियों का भी बजट बिगड़ गया है. क्योंकि आतंकवादी संगठन चलाना एक बात है और एक देश को चलाना एकदम दूसरी बात है. तालिबानी लड़ाके चाहे कितने ही वफादार हों लेकिन भूखे पेट अपने आतंकी संगठन को कब तक सेवा देते रहेंगे. वहां आम लोगों की हालत बुरी है तो आतंकवादियों को भी आटे दाल का भाव समझ में आ रहा है. देखिए खबरदार के इस एपिसोड में पूरा विश्लेषण.