भविष्य की खातिर

Redirecting to full article in 0 second(s)...

कहते हैं, जल है तो जीवन है। अगर अब भी हम इनके प्रति जागरूक नहीं हुए तो वह दिन दूर नहीं है, जब आज की तरह हम ऑक्सीजन के साथ-साथ कई दूसरी जीवनरक्षक चीजों के लिए तरस रहे होंगे।