कोरोना के साये में कारोबार, हालात के हिसाब से फैसले लेने की जरूरत

Redirecting to full article in 0 second(s)...
आसार कम हैं कि निजी कारखाने फिर से चल सकेंगे। उन्हें फिर से चलाने के लिए कामगार चाहिए और वे अपने गांव चले गए हैं या रास्ते में ठहरे हुए हैं।